क्या ऑफिस कलीग से पर्सनल बातें शेयर करना सही है?

Posted By: Sudhir

पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ दोनों अलग होती है। विशेषज्ञों द्वारा सलाह दी जाती है कि कभी भी अपनी पर्सनल लाइफ और प्रोफेशनल लाइफ को आपस में मिक्स नही करना चाहिए। लेकिन हमारा कहना है कि प्रोफेशनल लाइफ भी आप ही की जिंदगी का हिस्सा है इसलिए क्यों न इसको भी अच्छे से ही जिया जाए। दरअसल प्रोफेशनल लाइफ को अच्छे से जीने के लिए आपके सहकर्मी या ऑफिस कलीग ही आपकी मदद करते है। इसके लिए ये जरूरी है कि आप अपने ऑफिस कलीग को अच्छे से जानने की कोशिश करें और उन्हें अपने बारे में भी बताएं।

लेकिन कई लोगों का सोचना है कि ऑफिस कलीग से कभी भी अपनी पर्सनल बातें शेयर नही करनी चाहिए। लेकिन आपको बता दें कि अगर आप अपने ऑफिस कलीग से अच्छी बॉन्डिंग बनाना चाहते है तो आपको अपनी पर्सनल बातें भी उनसे शेयर करनी पडे़गी। लेकिन पर्सनल बातों का यहां पर ये मतलब बिल्कुल नही है कि आप उनको अपने सिक्रेट्स बताएं। ऑफिस कलीग्स को अपनी पर्सनल बातों में सिर्फ वहीं बताएं जो उन्हें बताना जरूरी है। यहां पर हम आपको कुछ टिप्स देने जा रहे है जो आपको बताएंगे कि आपको अपने कलीग्स के साथ कौनसी बातों को शेयर करना है।

इस तरह से शेयर करें अपनी पर्सनल और प्रोफेशनल बातें-

-अपने कलीग्स के साथ अपने ऑफिस के काम को शेयर करें, उनसे जरूरी सलाह लें और उनकी मदद करें। ये आप दोनों के बीच अच्छे रिश्ते की शुरूआत हो सकती है। इससे आप धीरे-धीरे एक-दूसरे को पसंद करने लगेंगे।

यह भी पढ़ें- नई जॉब ज्वाइन की है तो कभी ना करें ये 5 गलतियां

-अपनी खुशियों को ऑफिस सहकर्मियों से शेयर करें जैसे आपकी लाइफ में कुछ नया हुआ है तो उन्हें बताएं, आपकी शादी की सालगिरह, बच्चे के जन्मदिन और आपने कोई नई बाइक या कार खरीदी है तो अपनी इन खुशियों को ऑफिस स्टाफ के साथ शेयर करना ना भूलें। इसके अलावा किसी पर्सनल खुशी को भी आप अपने सहकर्मियों से शेयर करना ना भूले।

-जब भी आपको समय मिले अपने सहकर्मियों से बात जरूर करें। एक-दूसरे को जानने की कोशिश करें, साथ में लंच करे इससे आपके सहकर्मी जल्द ही आपके दोस्त बन जाएंगे।

-अगर आपका सहकर्मी किसी परेशानी से गुजर रहा है तो उनकी मदद करने की कोशिश करें। अगर आप मदद नही कर पा रहे है तो कम से कम उनसे उनकी परेशानी के बारे में पूछे उन्हें अच्छा लगेगा।

-प्रोफेशनल लाइफ में ऑफिस भी आपका दूसरा परिवार बन जाता है क्योंकि आप रोज यहां पर आते है लोगों से मिलते है तो एक रिश्ता बन ही जाता है। इसलिए ऑफिस के फंक्शन्स में हिस्सा लें जिससे आप अपने इस नए परिवार के और करीब आ जाएंगे।

एजुकेशन, सरकारी नौकरी, कॉलेज और करियर से जुड़ी लेटेस्ट जानकारी के लिए- सब्सक्राइब करें करियर इंडिया हिंदी

English summary
Your coworker only helps you to live a good life with professional life. That is why it is important that you try to know your office colleagues well and tell them about yourself too. If you want to make good bonding from office colleagues, you will have to share your personal things with them, but this does not mean that you tell them their secret.

Get Latest News alerts from Hindi Careerindia