Republic Day Speech In Hindi 2022 26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर बच्चों के लिए सबसे बेस्ट भाषण हिंदी में

By Careerindia Hindi Desk

Republic Day Speech In Hindi 2022 (गणतंत्र दिवस पर भाषण) इस साल 26 जनवरी पर भारत 73वां गणतंत्र दिवस मनाएगा। 26 जनवरी गणतंत्र दिवस की परेड और गणतंत्र दिवस पर भाषण दोनों ही बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। 26 जनवरी 1950 को भारत में संविधान (Constitution Of India) लागू हुआ था। भारत एक गणतांत्रिक देश है। गणतंत्र दिवस पर भाषण (Speech On Republic Day), गणतंत्र दिवस पर निबंध, गणतंत्र दिवस पर कविता लेखन, गणतंत्र दिवस पर शायरी, गणतंत्र दिवस की फोटो और गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं (Happy Republic Day Wishes) गूगल में लोग खूब सर्च करते हैं। लेकिन हम आपके लिए लाये हैं गणतंत्र दिवस पर बच्चों के लिए सबसे बेस्ट भाषण हिंदी में, जिसके माध्यम से आप स्कूल में स्टेज पर खड़े होकर गणतंत्र दिवस पर भाषण पढ़ सकते हैं...

 
Republic Day Speech In Hindi 2022 26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर बच्चों के लिए सबसे बेस्ट भाषण हिंदी में

बच्चों के लिए गणतंत्र दिवस पर भाषण (Speech On Republic Day 2022 In Hindi)
मंच पर पहुंचते ही सबसे पहले वंदे मातरम्, भारत माता की जय कहें, उसके बाद बोलें, आदरणीय प्रधानाचार्य, मैडम सर और सभी साथियों को मेरा नमस्कार।

मेरा नाम ..... है, मैं क्लास ..... में पढ़ता हूं। जैसा कि हम सभी जानते हैं आज हम सब यहां अपने देश के बहुत ही विशेष अवसर पर गणतंत्र दिवस के लिए उपस्तिथ हुए हैं। आज भारत अपना 73वां गणतंत्र दिवस मना रहा है।

मैं गणतंत्र दिवस के इस बड़े अवसर पर हमारे देश के बारे में कुछ कहने के लिए काफी उत्साहित हूं। आज हम सभी अपने राष्ट्र का 73वां गणतंत्र दिवस मनाने के लिए यहां आए हैं। 15 अगस्त 1947 से भारत को स्वतंत्रता मिली, जिसे स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाया जाता है और 26 जनवरी को संविधान लागू हुआ, जिए गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है।

 

भारत की संविधान सभा में 24 नवंबर 1947 को भारत का संविधान पारित हुआ। लेकिन 26 जनवरी 1950 को भारत का संविधान लागू हुआ, इसलिए हम 26 जनवरी को हर साल भारत के गणतंत्र दिवस के रूप में मनाते हैं। और 24 नवंबर को संविधान दिवस के रूप में मनाते हैं।

गणतंत्र का मतलब देश में रहने वाले लोगों पूर्ण स्वतंत्रता और देश को सही दिशा में ले जाने के लिए एक राजनीतिक नेता के रूप में अपने प्रतिनिधियों का चुनाव करने का पूरा अधिकार मिलता है। इसलिए, भारत एक गणतंत्र देश है और लोगों को भारतीय संविधान उनके मोलिक आधिकारिक प्रदान करता है।

भारत का संविधान हमने अपने प्रधानमंत्री, विधायक और निगम पार्षद आदि के रूप में चुनने की स्वतंत्रता प्रदान करता है। हमारे महान भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों ने हमारी स्वतंत्रता को वापस पाने के लिए बहुत संघर्ष किया है। उन्होंने संघर्ष किया है ताकि उनकी आने वाली पीढ़ी बिना संघर्ष के जी सके और देश को आगे बढ़ा सके।

गणतंत्र दिवस कैसे मनाते हैं ?
हर साल भारत के भारत के राष्ट्रपति राजपथ हमारा राष्ट्र ध्वज तिरंगा फहराते हैं। भारतीय ध्वज फहराने के लिए वह एक मुख्य अतिथि होते हैं। उनके साथ अन्य देश से भी बड़े नेता मंच पर होते हैं। फिर हम सभी अपने राष्ट्रीय ध्वज को सलामी देने के लिए खड़े होते हैं और अपना राष्ट्रगान गाते हैं, जिसे महान कवि रवींद्रनाथ टैगोर ने लिखा था।

शहीदों को पुष्पांजलि
भारत की संस्कृति और परंपरा को दिखाने के लिए भारत की तीनों सेना परेड में हिस्सा लेती है। इस अवस पर हम दूसरे देश के मुख्य अतिथि को भी आमंत्रित करते हैं। यह भारत के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और भारतीय सशस्त्र बलों के प्रमुख कमांडर अमर जवान ज्योति, इंडिया गेट पर बलिदान हुए भारतीय सैनिकों को पुष्पांजलि देते हैं।

भारत का इतिहास क्या है ?
हमारे महान स्वतंत्रता सेनानियों और भारतीय नेताओं के नाम महात्मा गांधी, भगत सिंह, चंद्र शेखर आज़ाद, लाला लाजपत राय, सरदार वल्लभ भाई पटेल, लाल बहादुर शास्त्री आदि हैं। इन्होने भारत को आजादी दिलाने के लिए ब्रिटिश शासन के खिलाफ लड़ाई लड़ी।

देश के लिए उनके बलिदान को कोई कभी नहीं भूल सकता। इस अवसर पर हम हमेशा उन्हें याद करते हैं और उन्हें सलाम करते हैं। हमें उनकी वजह से यह आज़ादी मिली। उनके संघर्ष की वजह से ही हम आज अपने राष्ट्र में स्वतंत्र रूप से रह सकते हैं।

भारत के पहले राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद ने एक बार कहा था कि यह बहुत दुःख की बात है कि हमें आजादी तो मिल गई, लेकिन हम अब अब भी जाति, अपराध, भ्रष्टाचार और हिंसा से लड़ रहे हैं। हमें एक भारत श्रेष्ट भारत की तरफ बढ़ना है।

धन्यवाद...
जय हिन्द, भारत माता की जय...

हम 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस क्यों मनाते हैं?
यह 26 जनवरी 1950 को हुआ था, भारत एक स्वतंत्र गणराज्य देश बन गया और भारत का संविधान लागू हुआ। इसलिए हर साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस मनाया जाता है।

हम गणतंत्र दिवस कैसे मनाते हैं?
गणतंत्र दिवस समारोह नई दिल्ली में भारत के राष्ट्रपति के सामने परेड निकाली जाती है। पूरे देश में गणतंत्र दिवस स्कूलों, कॉलेज और कार्यालयों आदि में मनाया जाता है।

भारत को गणतंत्र कब मिला?
26 जनवरी 1950 को भारत एक गणतंत्र देश बना। भारत ने 26 जनवरी 2022 को अपना 73 वां गणतंत्र दिवस मनाया।

Republic Day Speech In Hindi 2022 गणतंत्र दिवस पर भाषण हिंदी में कैसे लिखें पढ़ें जानिए

Speech On Sardar Vallabhbhai Patel सरदार वल्लभ भाई पटेल पर भाषण

Essay On Sardar Vallabhbhai Patel सरदार वल्लभ भाई पटेल पर निबंध

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Republic Day Speech In Hindi 2022 Republic Day 26 January Speech: On 26 January (26 January) this year, India will celebrate 73nd Republic Day (India 73th Republic Day 2021). 26 January Republic Day Parade (26 January Republic Day Parade 2021) and Republic Day Speech (Gantantra Diwas Par Bhashan) are both very important. The Constitution of India came into force on 26 January 1950 (26 January 1950). India is a Republican country. Speech on Republic Day (Gantantra Diwas Par Bhashan), Essay on Republic Day (Gantantra Diwas Par Kibita), Poetry Writing on Republic Day (Gantantra Diwas Par Shayari), Republic Day Photo (Gantantra Diwas Par Shayari), Photo of Republic Day Gantantra Diwas Photo) and heartfelt wishes of Republic Day (Gantantra Diwas Ki Hardik Shubhkamnaye) People search in Google. But we have brought for you the best speech for children on Republic Day in Hindi, through which you can stand on the stage in school and read the speech on Republic Day ...
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X