सर्टिफिकेट इन फिजियोथेरेपी कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस और टॉप कॉलेज

कक्षा 12वीं के बाद छात्र अक्सर ही इस चिंता में होते हैं कि वह कौनसा कोर्स करें? क्या उनके करियर के लिए बेहतर होगा? किस कोर्स को करने के बाद वह नौकरी कर सकते हैं? इस तरह के सवाल 12वीं पढ़ने वाले छात्रों के मन में रहते ही हैं। साइंस स्ट्रीम से पढ़ने वाले छात्र का हमेशा से देखा गया है कि वह मेडिकल या इंजीनियरिंग से संबंधित फिल्ड में अपना करियर बनाने कि इच्छा रखते हैं। अब जब बात मेडिकल की आई है तो मेडिकल और पैरामेडिकल का क्षेत्र है जिसमें मुख्य रूप से छात्र प्रवेश लेने की इच्छा रखते हैं। पैरामेडिकल में बहुत से विषय है जिसे आपक कक्षा 12वीं के बाद कर सकते हैं। बता दें कि कक्षा 12वीं के जो छात्र पैरामेडिकल के सेक्टर में दिलच्सपी रखते हैं, वह बैचलर, डिप्लोमा के अलावा सर्टिफिकेट कोर्स भी कर सकते हैं। आज इस लेख में हम आपको सर्टिफिकेट कोर्स के बारे में ही बताने जा रहे हैं।

 

जिस कोर्स के बारे में आज हम बात करेंगे है वह सर्टिफिकेट इन फिजियोथेरपी। अब आप सोच रहे होंगे कि इस कोर्स में तो बैचलर कोर्स ही उपलब्ध होता है। लेकिन आपको बता दें की फिजियोथेरेपी कोर्स में छात्र डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स भी कर सकते हैं। ये आपकी इच्छा पर निर्भर करता है। बेशक ये एक सर्टिफिकेट कोर्स है लेकिन इस कोर्स की अवधि सर्टिफिकेट कोर्स के जैसे कम नहीं है। सर्टिफिकेट इन फिजियोथेरेपी कोर्स 2 साल की अवधि का कोर्स है। इस कोर्स को छात्रों के लिए आसान बनाने के लिए सेमेस्टर में बांटा गया है। फिजियोथेरेपी में सर्टिफिकेट भारत के कई बड़े संस्थानों द्वारा करवाया जाता है। आइए आपको कोर्स के बारे में विस्तार से बताएं।

सर्टिफिकेट इन फिजियोथेरेपी कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस और टॉप कॉलेज

सर्टिफिकेट इन फिजियोथेरेपी कोर्स : योग्यता

 

- किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से साइंस स्ट्रीम में कक्षा 12वीं पास छात्र।
- न्यूनतम आयु 17 वर्ष होनी चाहिए और अधिकतम आयु की कोई सीमा नहीं है।

सर्टिफिकेट इन फिजियोथेरेपी कोर्स : प्रवेश प्रक्रिया

फिजियोथेरेपी कोर्स में प्रवेश छात्र डायरेक्ट बेसिस पर ले सकते हैं। क्योंकि ये एक सर्टिफिकेट कोर्स है इसके लिए प्रवेश परीक्षा का नेशलन लेवल पर आयोजन नहीं किया जाता। लेकिन कुछ शैक्षिक संस्थानों में प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया जाता है। छात्र अपनी पसंद के संस्थान की आधिकारिक वेबसाइट से जा कर कोर्स के लिए आवेदन कर सकते हैं। छात्रों को कक्षा 12वीं में प्राप्त स्कोर के अनुसार प्रवेश दिया जाएगा।

सर्टिफिकेट इन फिजियोथेरेपी कोर्स : कॉलेज और फीस

1. साई नाथ विश्वविद्यालय, रांची - 17,000 रुपये
2. क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज, वेल्लोर - 40,603 रुपये
3. क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज, लुधियाना - 77,750 रुपये
4. श्री रामचंद्र विश्वविद्यालय, चेन्नई - 66,667 रुपये
5. एनआईएमएस यूनिवर्सिटी, जयपुर - 52,222 रुपये
6. मद्रास मेडिकल कॉलेज, चेन्नई - 1,150 रुपये
7. परवरा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल कॉलेज, अहमद नगर - 76,981 रुपये
8. लोकमान्य तिलक नगर मेडिकल कॉलेज, मुंबई - 29,143 रुपये
9. एसआरएम यूनिवर्सिटी कट्टनकुलथर कैंपस, कांचीपुरम - 1,28,000 रुपये
10. स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा संस्थान और रिज़ॉर्ट, कोलकाता - 12,500
11. जनार्दन राय नगर राजस्थान विद्यापीठ विश्वविद्यालय, उदयपुर 52,899 रुपये
12. गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, नागपुर - 24,200 रुपये
13. महाराजा अग्रसेन मेडिकल कॉलेज, अग्रोहा - 47,705 रुपये
15. टोपीवाला नेशनल मेडिकल कॉलेज, मुंबई - 35,060 रुपये
16. बुंदेलखंड विश्वविद्यालय, झांसी - 40,755 रुपये
17. महाराजा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस, विजयनगरम - 64,000 रुपये
18. महाराष्ट्र स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय, नासिक - 20,830 रुपये
19. बाबा फरीद स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय, फरीदकोट - 53,333 रुपये
20. मणिपाल विश्वविद्यालय, मणिपाल - 99,500 रुपये

सर्टिफिकेट इन फिजियोथेरेपी कोर्स : सिलेबस

सेमेस्टर 1
बेसिक ऑफ फिजियोथेरेपी
फिजियोलॉजी
एंड टॉमी
फर्स्ट एड
नर्सिंग
बायोमैकेनिक्स
इलेक्ट्रोथेरेपी
पैथोलॉजी

सेमेस्टर 2
क्लीनिकल ऑब्जरवेशन
एक्सरसाइज थेरेपी
स्पोर्ट्स साइंस एंड मेडिसिन
ऑर्थोपेडिक
रिहैबिलिटेशन साइंस
एप्लीकेशन ऑफ फिजियोथैरेपी
मेडिकल एथिक्स
गायनेकोलॉजी

सर्टिफिकेट इन फिजियोथेरेपी कोर्स : स्कोप

फिजियोथेरेपी की फिल्ड में छात्रों के लिए कई अवसर है। वह कोर्स पूरा करने के बाद किसी अस्पताल, क्लिनिक, स्पोर्ट्स क्लब आदि के साथ प्राइवेट फिजियोथेरेपी के तौर पर कार्य कर सकते हैं। समय के साथ इस फिजियोथेरेपिस्ट की मांग बढ़ती जा रही है और इस कोर्स में छात्रों की दिलचस्पी भी अधिक बढ़ती जा रही है। छात्र कोर्स पूरा करने के बाद नीचे दिए गए पदों पर 2 से 5 लाख रुपये तक आराम से कमा सकते हैं। इसके अलावा यदि आप उच्च शिक्षा प्राप्त करने की इच्छा रखते हैं तो वह भी कर सकते हैं।

सर्टिफिकेट इन फिजियोथेरेपी कोर्स : जॉब प्रोफाइल और सैलरी

प्रोफेसर - 9 लाख सालाना
लेक्चरर - 3 लाख सालाना
थेरेपी मैनेजर - 5 लाख सालाना
फिजियोथैरेपिस्ट - 2.5 लाख सालाना
कस्टमर केयर असिस्टेंट - 4 लाख सालाना
रिहैबिलिटेशन स्पेशलिस्ट कंसलटेंट - 4 लाख सालाना
स्पोर्ट्स फिजियोथैरेपिस्ट - 2 से5 लाख सालाना
कम्युनिटी फिजियोथैरेपिस्ट - 2 से 3 लाख सालाना
प्राइवेट फिजियोथैरेपिस्ट - 2 से 4 लाख सालाना

सर्टिफिकेट इन फिजियोथेरेपी कोर्स : टॉप रिक्रुटर्स

  1. फोर्टिस
  2. मैक्स हेल्थकेयर
  3. होसमत अस्पताल
  4. अपोलो अस्पताल
  5. इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च
  6. कैलाश अस्पताल
  7. माया फिजियो
  8. फर्स्ट स्टूडेंट
  9. वन लाइफ हेल्थ केयर

डिप्लोइन इन चाइल्ड हेल्थ कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस और टॉप कॉलेज

बीएससी इन नर्सिंग कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस और टॉप कॉलेज

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Certificate course in Physiotherapy is a 2 year Diploma level program which is divided under semester system. Talking about the fee of the course, the fee of this course ranges from 10 thousand to 1 lakh. After doing this course, students can easily earn up to Rs 2 to 5 lakhs a year on the posts of Physiotherapy, Sports Physiotherapy etc. After completing the course, students can work in any government or private hospital.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X