NIRF Ranking 2022 Research Institute List : भारत के टॉप रिसर्च इंस्टीट्यूट की लिस्ट 2022

भारत में हर साल हजारों छात्र पोस्ट ग्रैजुएशन करने के बाद पीएचडी के लिए एप्लाई करते हैं। पीएचडी क्यों की जाती है? अगर आप किसी यूनिवर्सिटी या कॉलेज में प्रोफेसर बनना चाहते हैं या फिर आगे रिसर्च करना चाहते हैं तो आपको पीएचडी का कोर्स करना जरूरी होता है। पीएचडी की डिग्री में आपको किसी एक विशेष विषय पर अध्ययन करना होता है। फिर जब आपको उस विषय का पूरा ज्ञान हो जाता है और आप उस विषय में एक्सपर्ट हो जाते हैं तो आपको पीएचडी की डिग्री दी जाती है। जिसके बाद आपके नाम के आगे डॉ लग जाता है।

 

रिसर्च करने के लिए यूं तो बहुत ही सी यूनिवर्सिटी है लेकिन आज के इस आर्टिकल में हम आपको भारत के टॉप रिसर्च इंस्टीट्यूट के बारे में बताते है। जिसके लिए प्रति वर्ष नेशनल इंस्टीट्यूशनल रैंकिंग फ्रेमवर्क (NIRF) द्वारा टॉप रिसर्च यूनिवर्सिटी की लिस्ट घोषित की जाती है।

NIRF Ranking 2022 Research Institute List : टॉप रिसर्च इंस्टीट्यूट की लिस्ट 2022

रिसर्च इंस्टीट्यूट में एडमिशन लेने के लिए एंट्रेंस एग्जाम

रिसर्च करने के लिए कोई सिमित दायरा तय नहीं है छात्र जिस फील्ड में चाहे वो रिसर्च कर सकता है। लेकिन भारत में टॉप रिसर्च इंस्टीट्यूट में जाने के लिए एनटीए द्वारा यूजीसी NET का एग्जाम आयोजित किया जाता है जो कि साल में दो बार होता है। इस एंट्रेंस एग्जाम को दो भागो में बाटा गया है पेपर-1 एंड पेपर-2 जिसमें की पेपर-1 में सामान्य ज्ञान के प्रश्नोत्तर पूछे जाते हैं जबकि पेपर-2 के लिए आपको कोई एक विशेष विषय चुनना होता है। और फिर नेट-जेआरएफ का एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करना होता है। जिसके बाद यूजीसी NET की परिक्षा पास करने वाले टॉप रैंक छात्रों को NET जेआरएफ के तौर 31,000 तक की स्कोलरशिप दी जाती है। जबकि अन्य छात्रों को उनकी रैंकिंग अनुसार रिसर्च इंस्टीट्यूट के लिए एडमिशन दिए जाते हैं।

 

क्या एनआईआरएफ रैंकिंग महत्वपूर्ण है?
एनआईआरएफ रैंकिंग संस्थान में प्रवेश लेने के लिए महत्वपूर्ण निर्णय मानदंडों में से एक है। क्योंकि टॉप एनआईआरएफ रैंकिंग वाले शिक्षा संस्थान या विश्वविद्यालय में प्रवेश लेने के लिए छात्रों की अधिक रुचि होती है।

एनआईआरएफ में कैसे करें आवेदन?
एनआईआरएफ रैंकिंग में भाग लेने के लिए संस्थानों को एनआईआरएफ की आधिकारिक वेबसाइट www.nirfindia.org पर जाकर पंजीकरण करना होता हैं।

एनआईआरएफ रैंकिंग 2022 कब जारी की गई?

15 जुलाई को सुबह 11 बजे केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने राष्ट्रीय संस्थागत रैंकिंग फ्रेमवर्क, एनआईआरएफ रैंकिंग 2022 जारी की।

भारत की टॉप 10 रिसर्च इंस्टीट्यूट की लिस्ट

एनईआरएफ रैंकिग 2022 के अनुसार, इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस, बेंगलुरु भारत के रिसर्च इंस्टीट्यूट की लिस्ट में नंबर 1 रैंक पर है। उसके बाद नंबर 2 रैंक पर इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी मद्रास है। जिसके बाद नंबर 3 रैंक इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी दिल्ली है। फिर नंबर 4 रैंक पर इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी बॉम्बे है। जिसके बाद नंबर 5 रैंक पर इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी खड़गपुर है। उसके बाद नंबर 6 रैंक पर इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी कानपुर है। फिर नंबर 7 रैंक पर टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च, मुंबई है। जिसके बाद नंबर 8 रैंक पर भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, रुड़की है। उसके बाद नंबर 9 रैंक पर अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, दिल्ली है। फिर नंबर 10 रैंक पर वेल्लोर प्रौद्योगिकी संस्थान है। बता दें कि एनआईआरएफ हर साल टॉप यूनिवर्सिटी के रैंकिंग की सूची अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर घोषित करता है।

भारत के टॉप 30 रिसर्च इंस्टीट्यूट की सूची निम्नलिखित है

रैंक
रिसर्च इंस्टीट्यूट का नामराज्यस्कोर
1
भारतीय विज्ञान संस्थान, बेंगलुरुकर्नाटक88.62
2
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मद्रासतमिलनाडु86.38
3
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली
दिल्ली82.16
4
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, बॉम्बे
महाराष्ट्र80.21
5
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, खड़गपुर
पश्चिम बंगाल74.05
6
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान कानपुरउत्तर प्रदेश72.47
7
टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च, मुंबई
महाराष्ट्र66.63
8
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, रुड़की
उत्तराखंड66.29
9
अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, दिल्ली
दिल्ली62.48
10
वेल्लोर प्रौद्योगिकी संस्थानतमिलनाडु59.71
11
होमी भाभा राष्ट्रीय संस्थान, मुंबईमहाराष्ट्र58.65
12
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान हैदराबाद
तेलंगाना57.96
13
जादवपुर विश्वविद्यालय, कोलकातापश्चिम बंगाल56.81
14
जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय, नई दिल्ली
दिल्ली56.75
15
बनारस हिंदू विश्वविद्यालय, वाराणसीउत्तर प्रदेश55.61
16
दिल्ली विश्वविद्यालयदिल्ली55.51
17
भारतीय विज्ञान शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान, पुणे
महाराष्ट्र55.39
18
एकेडमी ऑफ साइंटिफिक एंड इनोवेटिव रिसर्च, गाजियाबाद
उत्तर प्रदेश53.21
19
जामिया मिलिया इस्लामिया, नई दिल्लीदिल्ली53.14
20
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (इंडियन स्कूल ऑफ माइन्स), धनबाद
झारखंड53.07
21
अन्ना विश्वविद्यालय, चेन्नईतमिलनाडु52.85
22
भारथिअर विश्वविद्यालय, कोयंबटूरतमिलनाडु51.18
23
राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, तिरुचिरापल्ली
तमिलनाडु51.14
24
राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान राउरकेला
उड़ीसा50.94
25
रासायनिक प्रौद्योगिकी संस्थान, मुंबई
महाराष्ट्र50.81
26
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान इंदौरमध्य प्रदेश50.73
27
हैदराबाद विश्वविद्यालयतेलंगाना50.52
28
अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालयउत्तर प्रदेश50.16
29
पंजाब विश्वविद्यालयचंडीगढ़50.15
30
मणिपाल उच्च शिक्षा अकादमीकर्नाटक49.96
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Every year thousands of students in India apply for PhD after doing post graduation. Why PhD is done? If you want to become a professor in a university or college or want to do further research, then you need to do a PhD course. In PhD degree, you have to study on a particular subject. Then when you have complete knowledge of that subject and you become expert in that subject then you are given PhD degree. After which Dr is put in front of your name.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X