गर्मी की छुट्टियों में बच्चों को सीखाए ये 10 स्किल

Posted By: Sudhir

फिलहाल देश में परीक्षाओं का दौर चल रहा है बोर्ड एग्जाम के साथ ही बाकी क्लासेस के एग्जाम भी लगभग मार्च और अप्रैल में खत्म हो जाते है। इसके बाद समय आता है गर्मी की छुट्टियों का। गर्मी की छुट्टियों में अधिकतर बच्चे घूमना-फिरना और मस्ती करना पसंद करते है, लेकिन कई जगह घूमने के बाद भी फिर से स्कूल लगने में बहुत सारा समय बच जाता है ऐसे में अधिकतर बच्चे घर पर ही पूरे दिन विडियो गेम खेलकर और टीवी देखकर बिता देते है। लेकिन अगर पेरेंट्स चाहे तो इन छुट्टियों का सदुपयोग किया जा सकता है। दरअसल गर्मी की छुट्टियां लगते ही ऐसा लगता है जैसे अब पेरेंट्स की स्कूल शुरू हो गई है क्योंकि बच्चे इन छुट्टियों में बहुत शैतानी करते है। अगर आप पेरेंट्स है और चाहते है कि आपके बच्चे गर्मी की छुट्टियों में खाली नही बैठे और इस समय का सदुपयोग करे तो आज हम आपको उन 10 स्किल्स के बारें में बताने जा रहे है जिन्हें सीखाने पर वह आगे जाकर बच्चों के बहुत काम आती है।

तो आइये जानते है उन 10 स्किल्स के बारे में जो हर पेरेंट्स को गर्मी की छुट्टियों में अपने बच्चों को सीखानी चाहिए-

1.म्यूजिक-
ऐसा कहा जाता है कि संगीत में जादू होता है इसलिए आपके बच्चों को गर्मी की छुट्टी में संगीत सीखने भेजिए और फिर उनकी जिंदगी में बदलाव देखिए। संगीत एक ऐसी कला है जिसको किसी भी उम्र में सीखा जा सकता है। आजकल संगीत की क्लासेस आपके आसपास ही मिल जाएगी जिसमें गिटार, सितार, पियानो आदि के साथ-साथ वोकल की ट्रेनिंग भी दी जाती है।

2.थियेटर-
थियेटर एक ऐसी कला है जो हर शख्स को सीखना चाहिए। थियेटर से बच्चे बोलने की कला और भाव अभिव्यक्ति सीखते है। गर्मी की छुट्टियों का इससे अच्छा उपयोग नही हो सकता कि किसी बच्चे को थियेटर की ट्रेनिंग दी जाए।

3.स्विमिंग-
छोटी सी उम्र में अगर बच्चे तैरना सीखते है तो उनका शारीरिक विकास काफी अच्छे से होता है। इसलिए गर्मी की छुट्टियों में बच्चों को तैराकी सीखाना इन छुट्टियों का सबसे अच्छा उपयोग हो सकता है।

4.खेल-
आप चाहे तो अपने बच्चों को किसी खेल की कोचिंग में भेज सकते है। आजकल स्पोर्ट में काफी अच्छा करियर है इसलिए हो सकता है कि आगे जाकर आपके बच्चे किसी स्पोर्ट्स में करियर बनाए तो इसलिए जरूरी है कि बच्चों को उनकी रूचि के अनुसार किसी खेल की कोचिंग में भेजे।

5.पैटिंग-
क्रियेटिवीटी को एक्सप्रैस करने का सबसे अच्छा तरीका है चित्रकारी। अगर आपके बच्चों को चित्रकारी का शौक है तो आप उसे इस गर्मी की छुट्टी क्यों न चित्रकारी की क्लास में भेजे।

6.पढ़ना और लिखना-
यहां पढ़ने से मतलब सिलेबस पढ़ने से बिल्कुल नही है। पढ़ने का मतलब है आप बच्चों को कोई अच्छी और सकारात्मक किताब पढ़ने के लिए दें, साथ ही उसे अपने विचार लिखने के लिए भी प्रेरित करे इससे बच्चे की राइटिंग स्किल सुधरेगी और उसके ज्ञान का स्तर बढ़ेगा।

7.कूकिंग-
अगर आपके बच्चे को कूकिंग का शौक है तो आप उसे किसी कूकिंग क्लास में भेज सकते है। कूकिंग एक ऐसा काम है जो सीखने से आगे बहुत काम आता है। आगे की पढ़ाई के लिए बच्चे बाहर जाते ही है इसलिए कूकिंग उनके बहुत काम आएगी।

8.बागवानी-
बागवानी एक ऐसा काम है जिससे सुकून मिलता है और मन प्रसन्न होता है। यह बच्चों को प्रकृति से जोड़ने का सबसे अच्छा तरीका है इसके साथ ही बच्चे बागवानी से पर्यावरण और स्वच्छता के बारे में भी सीखते है।

9.लैंग्वेज-
इस गर्मी की छुट्टी आपके बच्चों को किसी लैंग्वेज लर्निंग क्लासेस भेजे। इससे उनकी भाषा और कम्यूनिकेशन पर पकड़ बनेगी।

10.कंप्यूटर-
आजकल के बच्चे वैसे तो टेक्नोलॉजी में एक्सपर्ट होते है लेकिन फिर भी कंप्यूटर एक जटिल डिवाइस है जिसे अच्छे से सीखना जरूरी है। आप बच्चों को तेज टाइपिंग या एमएस ऑफिस के बारे में सीखा सकते है।

ये है कुछ खास स्किल जो हर बच्चे को छोटी सी उम्र से ही सीखना चाहिए। अगर आप पेरेंट्स है और चाहते है कि आपके बच्चे गर्मी की छुट्टियों का सदुपयोग करे तो आप उन्हें इनमें से किसी एक स्किल को सीखाने के लिए भेज सकते है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

    English summary
    Most of the kids like to roam and have fun during the summer holidays, but after traveling around many places, it takes a lot of time to get back to school again. In this way, most of the children spend the day playing video games and watch TV. But if the parents want, these holidays can be utilized.

    Get Latest News alerts from Hindi Careerindia

    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Careerindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Careerindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more