ऐसें करें NEET-2018 तैयारी, मिलेगी सफलता

 

हर साल की तरह इस बार भी NEET (नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेस टेस्ट) 2018 की तरीख घोषित कर दी गई है। आपको बता दें कि पहले एक समय था जब सभी राज्य अपनी अलग-अलग मेडिकल एंट्रेंस परीक्षा का आयोजन करते थे लेकिन अब कुछ सालों से सीबीएसई द्वारा ऑल इंडिया लेवल की मेडिकल एंट्रेंस परीक्षा का आयोजन किया जा रहा है जिसे NEET कहते है। पहले आपके कॉम्पिटिशन में सिर्फ एक राज्य के छात्र ही थे लेकिन अब पूरे देश के छात्र आपको नीट एग्जाम में चुनौती दे रहे है। आपको बता दें कि NEET के द्वारा छात्रों को MBBS और BDS जैसे कोर्सेज में प्रवेश दिया जाता है। नीट-2018 की परीक्षा की तारिख 10 मई 2018 तय की गई है ऐसे में सभी छात्र इसकी तैयारी में लगे हुए है। अगर आपका सपना भी नीट जैसे टफ मेडिकल एग्जाम को क्लियर करके डॉक्टर बनने का है तो आज हम आपको बताने जा रहे है कि नीट-2018 की तैयारी कैसे करनी है। नीट की परीक्षा में कुल तीन विषयों से वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जाते है। जिसमें बायोलॉजी (वनस्पति और जंतु विज्ञान), केमिस्ट्री, और फिजिक्स होते है। वैसे नीट का सिलेबस 11वीं और 12वीं के सिलेबस पर आधारित होता है लेकिन फिर भी इसकी तैयारी के लिए रिफरेंस बुक की मदद लेना जरूरी है।

तो आइये जानते है कैसे करनी है नीट-2018 की तैयारी-

1.सबसे जरूरी है 11वीं क्लास-
जो लोग डॉक्टर बनने का सपना देख रहे है उन लोगों को नीट की तैयारी 11वीं क्लास से ही शुरू कर देनी चाहिए। अगर आप 11वीं से ही तैयारी करते हुए चलेंगे तो आपको 12वीं में ज्यादा दिक्कतों का सामना नही करना पड़ेगा। दरअसल मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम का सिलेबस 11वीं और 12वीं के सिलेबस पर आधारित होता है तो आपको 11वीं से ही इसकी तैयारी करते हुए चलना है। अगर एक बार आप 11वीं के कॉन्सेप्ट समझ गये तो आप आसानी से नीट जैसे टफ एग्जाम को भी निकाल सकते है।

 

2.अध्ययन सामग्री-
आप जानते ही है कि नीट की परीक्षा सीबीएसई द्वारा संचालित की जाती है तो ये जरूरी है कि आप इसकी तैयारी के लिए बेहतर अध्ययन सामग्री से पढ़ाई करें। खासकर NCERT की किताबों को अच्छे से पढ़े। सीबीएसई द्वारा संचालित सभी परीक्षाओं के प्रश्न पत्र अधिकतर NCERT की किताबों द्वारा ही तैयार किये जाते है इसलिए आपको सलाह दी जाती है कि आप भले ही किसी भी स्टेट के बोर्ड से पढ़ाई कर रहे हो लेकिन आपको नीट की तैयारी के लिए NCERT की किताबों को ही अच्छे से पढ़ना है। इसके अलावा मार्केट से भी सिलेबस के अनुसार अध्ययन सामग्री खरीद सकते है।

3.पढ़ाई के लिए बनाए टाइम टेबल-
किसी भी टफ एग्जाम की तैयारी के लिए योजना बनाकर पढ़ना जरूरी है, इसलिए आपको सलाह दी जाती है कि आप नीट की तैयारी के लिए टाइम टेबल बना ले। टाइम टेबल में किसी भी सब्जेक्ट के लिए 3 घंटे से ज्यादा का समय नही रखे। क्योंकि आपको कम समय में ज्यादा पढ़ना है इसलिए टाइम टेबल बनाकर पढ़े और किस दिन क्या पढ़ना है ये भी पहले से ही डिसाइड कर ले।

4.सही जानकारी होना जरूरी है-
अगर आप नीट 2018 की एग्जाम क्रैक करना चाहते है तो आपको इसकी सही जानकारी होना जरूरी है। इसके लिए आप एग्जाम पैटर्न, सिलेबस, मार्क्स, परीक्षा तारिख, परीक्षा अवधि की सही जानकारी अपने साथ रखे और फिर उसके अनुसार तैयारी करे।

5.विषयों को प्राथमिकताओं के आधार पर बाटें-
नीट के एग्जाम का सिलेबस तीन विषयों बायोलॉजी, केमिस्ट्री और फिजिक्स पर आधारित होता है इसलिए इन विषयों को अपनी रुचि के आधार पर बांट देना चाहिए। जिन विषयों में आप कमजोर है उन विषयों पर आपको ज्यादा समय देने की जरूरत है इसलिए पढ़ाई के लिए बनाए गए टाइम टेबल में कमजोर विषयों के लिए ज्यादा समय दें। जिन विषयों में आपको रुचि नही है उन विषयों को भी आपको पढ़ना तो पड़ेगा ही इसलिए ऐसे विषयों को समझने की कोशिश करें।

6.पिछले साल के पेपर और मॉडल पेपर-
किसी भी परीक्षा में सफलता के लिए जरूरी है कि आप उस परीक्षा के पिछलें कुछ सालों के पेपर को सॉल्व करके देखे। पिछले साल के पेपरों को सॉल्व करने से आपको एक आइडिया हो जाएगा कि एग्जाम का पैटर्न कैसा रहता है और कितने टफ प्रश्न पूछे जाते है। इसके साथ ही लेटेस्ट मॉडल पेपर भी सॉल्व करके देखे इससे आपको पता चल जाएगा कि आने वाले एग्जाम का पेपर कैसा रहेगा।

7.खुद को रखें सकारात्मक-
एग्जाम हो या फिर जिंदगी आपको इसमें सफलता प्राप्त करने के लिए पॉजिटिव एटीट्यूड रखना जरूरी है। एग्जाम की इस चुनौती को भी आपको सकारात्मक तरीके से लेना है और समर्पण भाव से इसकी तैयारी करना, आपको इस एग्जाम में सफल होने से कोई नही रोक सकता।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

    English summary
    There was a time when all the states used to organize their separate medical entrance exams but for some years CBSE has been conducting the All India Level Medical Entrance Examination called NEET. Earlier, there were only students from one state in your competition but now the students of the whole country are challenging you in the proper exam.
    --Or--
    Select a Field of Study
    Select a Course
    Select UPSC Exam
    Select IBPS Exam
    Select Entrance Exam

    Get Latest News alerts from Hindi Careerindia

    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Careerindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Careerindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more