एमएससी मेडिकल फिजियोलॉजी में करियर (Career in MSc in Medical Physiology After Graduation)

एमएससी मेडिकल फिजियोलॉजी दो साल की अवधि के साथ पोस्ट ग्रैजुएट लेवल की डिग्री है जिसे चार सेमेस्टर में विभाजित किया गया है। फिजियोलॉजी- बायोलॉजी की एक शाखा है जिसमें की मानव स्वास्थ्य से संबंधित चीजों की थ्यौरिटक्ल व प्रैक्टिकल नॉलेज दी जाती है। इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए छात्रों के पास किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से मेडिकल साइंस में नयूनतम 55% अंको के साथ यूजी की डिग्री होना आवश्यक है।

 

एमएससी मेडिकल फिजियोलॉजी में छात्रों को ये पढाया व सिखाया जाता है कि स्वास्थ्य और बीमारियों के संदर्भ में मानव शरीर कैसे काम करता है। इस कोर्स का उद्देश्य छात्रों को सेल बायोलॉजी और ह्यूमन बॉडी फंक्शनिंग में महारत हासिल कराना है।

एमएससी मेडिकल फिजियोलॉजी में करियर

बता दें कि ग्रैजुएशन करने के बाद बहुत से ऐसे छात्र होते हैं जो कि आगे पोस्ट ग्रैजुएशन के लिए एप्लाई करते हैं तो वहीं बहुत से छात्र ऐसे भी होते हैं जो कि ग्रैजुएशन के बाद जॉब करने लग जाते हैं। आज के इस आर्टिकल में हम आपको एमएससी मेडिकल फिजियोलॉजी से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी से अवगत कराएंगे कि आखिर ये कोर्स किस लिए बनाया गया है, इसका सिलेबस क्या है। इसमें एडमिशन लेने के लिए क्या एलिजिबिलिटी होनी चाहिए। इसका एडमिशन प्रोसेस क्या है, इसे करने के बाद आपके पास जॉब प्रोफाइल क्या होंगी और इस कोर्स को करने के लिए भारत के टॉप कॉलेज कौन से हैं।

 

एमएससी मेडिकल फिजियोलॉजी: एलिजिबिलिटी

उम्मीदवारों को एमएससी मेडिकल एनाटॉमी में एडमिशन लेने के लिए ग्रैजुएशन में मेडिकल साइंस में कम से कम 55% कुल अंक या इसके समान ही ग्रेड प्राप्त करना चाहिए। जिसके बाद उम्मीदवारों को ऑनलाइन या ऑफलाइन माध्यम से आवेदन कर इसका एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर करना होता है।
• इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए उम्मीदवारों के पास एमबीबीएस / बीडीएस / बीएएमएस / बीएचएमएस / बीयूएमएस / बी फार्मा / बीएमएलटी / बीपीटी / बीटेक (बायो-टेक) की डिग्री होनी चाहिए।
• बीवीएससी / बीएससी लाइफ साइंसेज / बीएससी बायोलॉजी / बीएससी बायोकेमिस्ट्री / बीएससी नर्सिंग या एलाइड हेल्थ साइंस वाले उम्मीदवार भी इस कोर्स में एडमिशन के लिए आवेदन कर सकते हैं।

एमएससी मेडिकल फिजियोलॉजी: एडमिशन प्रोसेस

भारत में एमएससी मेडिकल फिजियोलॉजी का लगभग सभी सस्थानों में एडमिशन प्रोसेस अलग-अलग होता है। कुछ कॉलेज इस कोर्स में मेरिट बेस्ड एडमिशन देते है तो वहीं कुछ कॉलेज राष्ट्रीय या राज्य या स्वयं के स्तर पर एंट्रेंस एग्जाम आयोजित करते हैं। निम्नलिखित कुछ एंट्रेंस एग्जाम हैं जो भारत में मेडिकल कॉलेज द्वारा एमएससी मेडिकल फिजियोलॉजी में एडमिशन लेने के लिए आयोजित की जाती है।
• नीट पीजी
• आईएनआई सीईटी
• एमईटी
जिसके लिए उम्मीदवार कॉलेज की आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से आवेदन पत्र डाउनलोड कर सकते हैं। प्रवेश परीक्षा, प्रवेश तिथियों और शॉर्टलिस्ट किए गए उम्मीदवारों के नाम के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी वेबसाइट पर प्रदर्शित की जाएगी या ईमेल के माध्यम से अधिसूचित की जाएगी।

एमएससी मेडिकल बायोकैमिस्ट्री: एडमिशन के लिए आवश्यक दस्तावेज

• 12वीं का सर्टिफिकेट और मार्कशीट
• एंट्रेंस एग्जाम स्कोर शीट (यदि लागू हो)
• ग्रैजुएशन सर्टिफिकेट एंड मार्कशीट
• कॉलेज लिविंग सर्टिफिकेट
• माइग्रेशन सर्टिफिकेट
• प्रोविजनल सर्टिफिकेट
• पासपोर्ट आकार के 5 रंगीन फोटोग्राफ
• जाति / जनजाति प्रमाण पत्र (एससी / एसटी उम्मीदवार के लिए) / शारीरिक रूप से विकलांग प्रमाण पत्र।

एमएससी मेडिकल फिजियोलॉजी: सिलेबस

सेमेस्टर I
• ओरियंटेशन टू द डिपार्टमेंट
• हेमाटोलॉजी
• रीनल फिजियोलॉजी एंड फ्ल्यूड बैलेंस
• चूसिंग द सब्जेक्ट ऑफ द थीसिस एंड गाइड
• राइटिंग द प्रोटोकॉल
• रिकेपिटूलेशन ऑफ अंडरग्रैजुएट फिजियोलॉजी थ्रोइंग एटेंडिंग द यूजी लेक्चर्स
सेमेस्टर II
• फिजियोलॉजी: थ्योरी एंड प्रैक्टिकल
• कार्डियोवैस्कुलर
• रेसपिरेशन
• एनवायरनमेंट फिजियोलॉजी
• रिकेपिटूलेशन ऑफ अंडरग्रैजुएट फिजियोलॉजी
सेमेस्टर III
• फिजियोलॉजी: थ्योरी एंड प्रैक्टिकल
• नर्वस एंड मसल्स फिजियोलॉजी
• जनरल, सेंसरी एंड मोटर फिजियोलॉजी
• स्पेशल सेंसेस
• लिम्बिक सिस्टम एंड हायर नर्वस सिस्टम
• थीसिस वर्क
सेमेस्टर IV
• फिजियोलॉजी: थ्योरी एंड प्रैक्टिकल
• न्यूट्रिशन एंड मेटाबॉलिज्म
• गैस्ट्रोइंटेस्टिनल सिस्टम
• एंडोक्राइन एंड रिप्रोडक्शन
• सबमिशन ऑफ थिसिस

एमएससी मेडिकल फिजियोलॉजी: करियर स्कोप

इस कोर्स में करियर के पर्याप्त अवसर हैं; विभिन्न मेडिकल कंपनियां अच्छे कर्मचारियों को हायर करने के लिए हमेशा तैयार रहती हैं। एमएससी मेडिकल फिजियोलॉजी करने के बाद छात्र प्रमुख संगठनों और विदेशों में भी शोध कार्य के लिए जा सकते हैं। आजकल बहुत से प्राइवेट मेडिकल संस्थान है जो एमएससी मेडिकल फिजियोलॉजी में की मांग कर रहे हैं और अच्छा वेतन देते हैं।

एमएससी मेडिकल फिजियोलॉजी में करियर के लिए टॉप रिक्रूटर्स
• सरकारी व प्राइवेट हॉस्पिटल
• पब्लिक हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन
• फुड एंड ड्रिंक इंडस्ट्री
• फार्मासिटिकल्स
• फॉरेन्सिक साइंस लैब
• पब्लि्क फंडिड रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन

जिनमें की आप निम्नलिखित जॉब प्रोफाइल है के लिए कोर्स को पूरा करने के बाद आवेदन करते हैं।
• फिजियोलॉजिस्ट
प्रति वर्ष औसत वेतन 8,00,000 से 9,00,000 तक
• लेक्चरर
प्रति वर्ष औसत वेतन 3,00,000 से 5,00,000 तक
• साइंटिस्ट
प्रति वर्ष औसत वेतन 15,00,000 से 16,00,000 तक
• स्पोर्ट्स फिजियोलॉजिस्ट
प्रति वर्ष औसत वेतन 11,00,000 से 12,00,000 तक
• लैब असिस्टेंट
प्रति वर्ष औसत वेतन 4,00,000 से 6,00,000 तक
• जूनियर फैलो रिसर्चर
प्रति वर्ष औसत वेतन 7,00,000 से 9,00,000 तक
• मेडिकल कंटेंट क्रिएटर
प्रति वर्ष औसत वेतन 5,00,000 से 6,00,000 तक

भारत में एमएससी मेडिकल फिजियोलॉजी के लिए टॉप कॉलेज की सूची

• कस्तूरबा मेडिकल कॉलेज, मणिपाल
• श्री रामचंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ हायर एजुकेशन एंड रिसर्च, चेन्नई
• जवाहरलाल स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा और अनुसंधान संस्थान, पांडिचेरी
• जामिया हमदर्द विश्वविद्यालय, नई दिल्ली
• जेएसएस मेडिकल कॉलेज और अस्पताल, मैसूर

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
MSc Medical Physiology is a post-graduate level degree with a duration of two years which is divided into four semesters. Physiology is a branch of biology in which theoretical and practical knowledge of things related to human health is given. To take admission in this course, students must have a UG degree in medical science from a recognized university with at least 55% marks.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X