सर्टिफिकेट इन अकाउंटिंग (Certificate Course in Accounting After 12th)

कक्षा 12वीं के बाद और उसके दौरान कई छात्र अपने भविष्य को लेकर अधिक चिंतित होते हैं। कॉमर्स करने वाले छात्र जो अकाउंटेंट या बिजनेस से जुड़े छेत्र में जाना चाहते हैं वह छात्र भारत के टॉप संस्थानों द्वारा चलाए जा रहे सर्टिफिकेट इन अकाउंटिंग कोर्स कर सकते हैं। ये कोर्स छात्र केवल ऑफलाइन मोड में ही कर सकते हैं। आइए कोर्स के बारे में जाने।

 

सर्टिफिकेट इन अकाउंटिंग कोर्स 6 महीने से 1 साल का कोर्स है। इस अंडरग्रेजुएट लेवल पर ऑफर किया जाता है। अंडरग्रेजुएट लेवल से हमारा अर्थ है इस कोर्स को छात्र कक्षा 12वीं के बाद कर सकते है। इस कोर्स के माध्यम छात्र बिजनेस, बैंकर, फाइनेंस, ऑडिटिंग, कॉपोरेट फाइनेंस, अकाउंटिंग सिस्टम और टैक्सेशन के क्षेत्र में अपना करियर बना सकते हैं। कोर्स करने के बाद छात्र नौकरी कर साल का 2 से 4 लाख तक आराम से कमा सकते हैं। अकाउंटिंग में सर्टिफिकेट कोर्स की फीस की बात करें तो कोर्स की फीस 7 हजार से शुरू होकर 20 हजार तक जा सकती है। कोर्स की फीस संस्थानों के फीस स्ट्रक्चर पर आधारित होती है।

सर्टिफिकेट इन अकाउंटिंग (Certificate Course in Accounting After 12th)

सर्टिफिकेट इन अकाउंटिंग कोर्स की योग्यता

अकाउंटिंग में सर्टिफिकेट कोर्स करने की इच्छा रखने वाले छात्र इसे कक्षा 12वीं के बाद कर सकते है।

 

इस कोर्स के लिए छात्रों को किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से कक्षा 12वीं पास होना अनिवार्य है। इसी के साथ आपको बता दें की कक्षा 12वीं में पढ़ रहा छात्र भी इस कोर्स को करने के लिए आवेदन कर सकता है।

इस कोर्स में प्रवेश छात्र मेरिट बेस पर ले सकते हैं।

सर्टिफिकेट इन अकाउंटिंग : प्रवेश प्रक्रिया

  • इस कोर्स में प्रवेश लेने के लिए छात्रों को संस्थानों की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर अपना लॉगिन क्रिएट करना है।
  • एक बार लॉगिन क्रिएट करने के बाद छात्र वेबसाइट पर इस सर्टिफिकेट कोर्स के लिए आवेदन कर सकेगें।
  • आवेदन पत्र में मांगी गई सारी जानकारी भरने के बाद छात्रों को अपने दस्तावेज अपलोड करने है। इन दस्तावेजों में उन्हें मार्कशीट, फोटो और हस्ताक्षर आदि अपलोड करके सबमिट करना है।
  • पूरी तरह से आवेदन पत्र को भरने के बाद आपको आवेदने शुल्का का भुगतान करना है। पूरा पत्र भरने के बाद छात्र आवेदन पत्र का प्रिंट जरूर लें।
  • आवेदन प्रक्रिया पूरी होने के बाद एक लिस्ट जारी की जाती है जिसमें चुने गए छात्रों के नाम होते हैं।

सर्टिफिकेट इन अकाउंटिंग कोर्स : टॉप कॉलेज और उनकी फीस

आईसीएफएआई फाउंडेशन फॉर हायर एजुकेशन, हैदराबाद - 35,000 रुपये
मुंबई विश्वविद्यालय, मुंबई - 10,200 रुपये
हिमालय विश्वविद्यालय, अरुणाचल प्रदेश - 7,000 रुपये
साई कॉलेज, भिलाई - 8,600 रुपये
आईआईएस विश्वविद्यालय, राजस्थान - 11,000 रुपये
ज्ञानमणि इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज, तमिलनाडु - 7,700 रुपये
कनोरिया पीजी महिला महाविद्यालय, राजस्थान - 20,000 रुपये


सर्टिफिकेट इन अकाउंटिंग : सिलेबस

सर्टिफेक्ट इन अकाउंटिंग कोर्स को 2 सेमेस्टर में बांटा गया है जिसका सिलेबस कुछ इस प्रकार है-

सेमेस्टर 1

कॉस्ट प्लैनिंग एंड एनालिसिस
बजट एंड मैनेजमेंट कंट्रोल
ग्रुप फाइनेंसियल स्टेटमेंट
स्ट्रैटेजिक मैनेजमेंट एकाउंटिंग
प्रोजेक्ट फाइनेंसियल मैनेजमेंट

सेमेस्टर 2

कॉरपोरेट गवर्नेंस
स्ट्रैटेजिक फाइनेंस
रिसर्च मेथाडोलॉजी
प्रोजेक्ट

सर्टिफिकेट इ अकाउंटिंग कोर्स पुस्तकें और लेखक

फाइनेंशियल अकाउंटिंग सर्टिफिकेट गाइड : स्टेफानोस पौगकासो
कॉस्ट अकाउंटिंग एंड मैनेजमेंट एसेंशियल : कल्पेश आशारी
बिजनेस लॉ एंड बिजनेस कॉरस्पॉडेंस एंड रिर्पोटिंग : एसके अग्रवाल
प्रिंसिपल्स एंड प्रैक्टिस ऑफ अकाउंटिंग : एसके अग्रवाल

सर्टिफिकेट इन अकाउंटिंग कोर्स : जॉब प्रोफाइल

अकाउंट असिस्टेंट
इन्वेस्टमेंट बैंकर
इक्विटी रिसर्च एनालिस्ट
कॉरपोरेट एनालिस्ट
इन्वेस्टमेंट एनालिस्ट
रिस्क एनालिस्ट
सिक्योरिटी एनालिस्ट
फाइनेंशियल एनालिस्ट
फाइनेंशियल कंट्रोलर

टॉप भर्तीकर्ता

एनआरएचएम
आरबीआई बैंक
ऑयल इंडिया लिमिटेड
एआईजी
बोइंग
फिलिप्स
जेपी मॉर्गन चेस

सर्टिफिकेट इन अकाउंटिंग : जॉब प्रोफाइल और वेतन

बुक्कीपिंग क्लर्क : 2 लाख सालाना
बिलिंग क्लर्क : 1.5 लाख सालाना
टैक्स अकाउंटेंट : 4 लाख सालाना
अकाउंटिंग क्लर्क : 3.5 लाख सालाना
कॉस्ट अकाउंटेंट : 3 लाख सालाना

सर्टिफिकेट इन अकाउंटिंग : स्कोप

इस कोर्स को करने क बाद यदि छात्रों की आगे पढ़ने की इच्छा है तो वो कोर्स पूरा होने के बाद डिग्री कोर्स में प्रवेश ले सकते हैं। जो इस प्रकार है।

बीकॉम
बीकॉम इन अकाउंटेंसी
बीकॉम पास

या फिर वह एसोसिएशन ऑफ चार्टर्ड सर्टिफाइड अकाउंटेंट (ACCA)- ये साल का फूल टाइम कोर्स है। ये कोर्स उन छत्रों के लिए है जो एक अकाउंटेंट के तौर पर अपना करियर बनाना चाहते हैं।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Certificate Course in Accounting is a 6 to 1 year undergraduate level program. Student can opt this course while perusing 12th or after 12th. This is a best course for those who have knee interest in accounts and wants to make a career in accounting.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X