सीबीएसई 10वीं बोर्ड हिंदी विषय का सैम्पल पेपर

Posted By: Sudhir

सीबीएसई 10वीं बोर्ड के एग्जाम कुछ ही दिन में शुरू होने को है ऐसे में सभी छात्र बोर्ड एग्जाम की तैयारी में लगे हुए है। चूंकि सीबीएसई 10वीं की पढ़ाई अंग्रेजी भाषा में होती है तो अधिकतर छात्रों को इसके हिंदी पेपर में दिक्कते आती है। हिंदी विषय का पेपर कुल 80 नंबर का होता है, अगर इसकी अच्छे से तैयारी की जाए तो आसानी से 75 नंबर लाए जा सकते है। लेकिन हिंदी को सरल विषय समझकर उसकी उपेक्षा कर दी जाती है, जिससे इस पेपर में अधिकतर छात्र अच्छें नंबर लाने से रह जाते है। लेकिन आज हम आपको हिंदी विषय के कुछ महत्वपूर्ण प्रश्नों के बार में बताने जा रहे है जो नए पैटर्न पर आधारित है और इसमें से ज्यादातर प्रश्न आपके बोर्ड एग्जाम में भी आएंगे। तो आइये जानते है वो कौन से महत्वपूर्ण प्रश्न है जो इस बार हिंदी विषय की परीक्षा में पूछे जा सकते है।

हिंदी विषय के पेपर में चार खण्ड होते है क, ख, ग और घ। जिसमें से चारों खण्डों के प्रश्नों को हल करना अनिवार्य है। खण्ड-क और ख के लिए 15-15 नंबर निर्धारित किए गये है। वहीं खण्ड ग और घ के लिए 25-25 नंबर निर्धारित किए गये है।

तो आइये देखते है मॉडल पेपर-

खण्ड-क
प्रश्न-1- निम्नलिखित गद्यांश को ध्यानपूर्वक पढ़कर दिए गए प्रश्नों के उत्तर लिखिए-

संस्कृत में एक कहावत है कि दुर्जन दूसरों के राई के समान मामूली दोषों को पहाड़ के समान बड़ा बनाकर देखता है और अपने पहाड़ के समान बड़े पापों को देखते हुए भी नही देखता है। सज्जन या महात्मा ठीक इससे विपरीत होते है। उनका ध्यान दूसरों की बजाय केवल अपने दोषों पर जाता है। अधिकांश व्यक्तियों में कोई न कोई बुराई अवश्य होती है। कोई भी बुराई न होने पर व्यक्ति देवता की कोटि में आ जाता है। मनुष्य को अपनी बुराइयों को दूर करने का प्रयत्न करना चाहिए, न कि दूसरों की कमियों को लेकर छींटाकशी करने या टीका टिप्पणी करने का। अपने मन की परख मन को पवित्र करने का सबसे उत्तम साधन है। आत्मनिरीक्षण आत्मा की उन्नति का सर्वश्रेष्ठ मार्ग है। महात्मा कबीर ने कहा है कि जब मैने मन की पड़ताल की तो मुझे अपने जैसा बुरा कोई न मिला। महात्मा गांधी ने कई बार स्पष्ट रूप से कहा था कि मैने जीवन में हिमालय जैसी बड़ी भूल की है। अपनी भूलों को ध्यान देना या उन्हें स्वीकार करना आत्मबल की चिन्ह है। जो लोग दूसरों के सामने अपनी भूल नहीं मानते और न ही अपने को दोषी स्वीकार करते है, वे सबसे बड़े कायर है। जिनका अंत:करण शीशे के समान उजला है, उसे झठ अपनी भूल महसूस हो जाती है। मन तो दर्पण है। मन में पाप है तो जग में पाप दिखाई देता है। पवित्र आचरण वाले अपने मन को देखते है तो उन्हें लगता है कि अभी इसमें कोई कमी रह गई है। इसलिए वे अपने को बुरा कहते है। यही उनकी नम्रता व साधना है।

1.दुर्जन व सज्जन व्यक्ति अपनी किस चारित्रिक विशेषता के कारण भिन्न कहलाते है?
2.उन्नति का सर्वश्रेष्ठ मार्ग किसे व क्यों माना गया है?
3.सबसे बड़ा कायर कौन है?
4.सज्जन व्यक्तियों की नम्रता का परिचय किस प्रकार मिलता है?
5.उपरोक्त गद्यांश का उपयुक्त शीर्षक लिखिए?

प्रश्न-2- निम्नलिखित काव्यांश को ध्यानपूर्वक पढ़कर पूछे गए प्रश्नों के उत्तर लिखिए-

जो नही हो सके पूर्ण काम मैं उनको करता हूँ प्रणाम।
कुछ कुंठित औ कुछ लक्ष्य भ्रष्ठ जिनके अभिमंत्रित तीर
हुए; रण की समाप्ति से पहले जो वीर रिक्त तूणीर हुए उनको प्रणाम।

जो छोटी सी नैया लेकर उतरे करने को उदाधि- पार;
मन की मन में हो रही, स्वयं हो गए उसी में निराकार उनको प्रणाम।

जो उच्च शिखर की और बढ़े रह रह नव-नव उत्साह भरे।
पर कुछ ने ले ली हिम समाधि; कुछ असफल ही नीचे उतरे उनको प्रणाम।

कृतकृत्य नही जो हो पाए, प्रत्युत फाँसी पर गए झूल
कुछ ही दिन बीते है, फिर भी यह दुनिया जिनको गई भूल ! उनको प्रणाम।

1.कवि किनको प्रणाम करता है व क्यों?
2.छोटी सी नैया से कवि का आशय है और उनका क्या हश्र हुआ?
3.कृतकृत्य कौन नही हो पाए? दुनिया ने उनके साथ क्या व्यवहार किया?

खण्ड-ख (व्यावहारिक व्याकरण)

प्रश्न-3- क) शब्द और पद उदाहरण सहित अंतर स्पष्ट कीजिए।
ख) नीचे लिखे वाक्यों का निर्देशानुसार रचना के आधार पर वाक्य रूपांतरण कीजिए।
1.वह आए तो तुम छिप जाना। (सरल वाक्य)
2.गौरव ने अक्षय से नेपाल चलने के लिए कहा (मिश्र वाक्य)
3.वह पढ़ाई के साथ-साथ काम भी करता है (संयुक्त वाक्य)

प्रश्न-4- क) निम्नलिखित शब्दों का सामासिक पद बनाकर समास के भेद का नाम भी लिखिए-
कला में कुशल, जितना संभव हो

ख) निम्नलिखित समस्त पदों का समास विग्रह करके समास के भेद का नाम लिखिए।
संसार, सागर सतसई

प्रश्न-5- क) निम्नलिखित वाक्यों को शुद्ध करके लिखिए
1.मुझे एक दूध का गरम गिलास दीजिए
2.सारे देश के नागरिक कर्तव्य निष्ठ है
3.रोगी मोहन को काटकर सेब खिलाओ
4.शहीदों का देश सदा आभारी रहेगा।

ख) 1. रिक्त स्थान की पूर्ति उचित मुहावरे द्वारा कीजिए।
जब तक मनुष्य पर जिम्मेदारी नही आती तब तक उसे---------पता नही चलता।
2.'एक ही राग अलापना' - मुहावरे का अर्थ लिखकर वाक्य में प्रयुक्त कीजिए।

खण्ड-ग

प्रश्न-6- निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर दीजिए-
1.गांधी जी में नेतृत्व की अद्भुत क्षमता थी। पाठ गिन्नी का सोना के आधार पर स्पष्ट कीजिए।
2.गिरगिट कहानी समाज की किन विसंगतियों की ओर इशारा करती है?
3.समुद्र किनारे बैठे हुए तँतारा की तंद्रा कैसे टूटी?

प्रश्न-7- बड़े भाई साहब का चरित्र चित्रण लिखिए।
अथवा
वजीर अली की चारित्रिक विशेषताओं का वर्णन कीजिए।

प्रश्न-8- निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर दीजिए
1.'जगतु तपोवन सौ किए' दोहे के माध्यम से कवि क्या कहना चाहते है?
2.सुमित्रानंदन पंत जी कल्पना के सुकुमार कवि है- स्पष्ट कीजिए।
3.कवि सहायक न मिलने पर क्या प्रार्थना करता है?

प्रश्न-9- मनुष्यता कविता के माध्यम से कवि क्या संदेश देना चाहते है?
अथवा
कर चले हम फिदा गीत में गीतकार ने नवयुवकों को क्या संदेश दिया है?

प्रश्न-10- समाज में रिश्तों की क्या अहमियत है? हरिहर काका पाठ के आधार पर बताइए।
अथवा
'मित्रता और आत्मीयता जाति व भाषा के बंधनों से परे होते है' - टोपी शुक्ला पाठ के आधार पर अपने विचार व्यक्त कीजिए।

खण्ड-घ (लेखन)

प्रश्न-11- निम्नलिखित में से किसी एक विषय पर 80 से 100 शब्दों में अनुच्छेद लिखिए-
क) आज का युवा संसार - युवाओं में अदम्य साहस व शक्ति, जागरूकता, देश के प्रति प्रेम
ख) संयुक्त परिवार - आज की आवश्यकता- युवा पीढ़ी को रिश्तों का ज्ञान, मिल-जिल कर रहने की भावना, अच्छे संस्कारों का ग्रहण, बुजुर्गों की उपस्थिति व महत्ता, अकेलेपन से मुक्ति
ग) स्वरोजगार- प्रगति की ओर- भारतीय अर्थव्यवस्था, समय की माँग, युवा प्रतिभा को निखरने का मौका

प्रश्न-12- आपके विद्यालय का पुस्तकालय विभिन्न प्रकार की पुस्तकों से भरा हुआ है परंतु हिंदी पत्र-पत्रिकाओं का आभाव है। हिंदी की पत्र-पत्रिकाओं व उच्चकोटि का साहित्य मंगवाने के लिए विद्यालय के प्रधानाचार्य को पत्र लिखिए
अथवा
आपके इलाके के पार्क में कई अनाधिकृत खोंमचे वालो ने डेरा बसा लिया है उन्हे हटाने के लिए नगर निगम के अधिकारी को पत्र लिखिए।

प्रश्न-13- आप अपने विद्यालय के सचिव है व विद्यालय में दिवाली मेला आयोजित करना चाहते है। उससे संबंधित छात्रों के लिए 25-30 शब्दों में सूचना लिखिए।
अथवा
आप अपने इलाके के गरीब बच्चों को प्रत्येक शनिवार रविवार नि:शुल्क पढ़ाना चाहते है। उससे संबंधित सूचना जारी कीजिए।

प्रश्न-14- ग्यारहवीं कक्षा में विषयों के चयन से संबंधित माँ व पुत्री के बीच लगभग 50 शब्दों में संवाद लिखिए।
अथवा
सड़कों पर फैली गंदगी के प्रति चिंता व्यक्त करते हुए दो छात्रों के बीच लगभग 50 शब्दों में संवाद लिखिए।

प्रश्न-15- आप अपना पुराना कम्प्यूटर बेचना चाहते उससे संबंधित 25-50 शब्दों का विज्ञापन तैयार कीजिए।
अथवा
आप अपनी बहन के लिए एक स्कूटर खरीदना चाहते है। उससे संबंधित 25-50 शब्दों में विज्ञापन तैयार कीजिए।

English summary
Hindi is considered as a simple subject and it is ignored, so that most of the students in this paper do not get good numbers. In fact, CBSE 10th is in English language, so most students have difficulty in Hindi paper. Looking at your problem, today we are going to tell you about some important questions in the Hindi subject, which is based on the new pattern and most of these questions will also come in your board exam.

Get Latest News alerts from Hindi Careerindia