पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन स्पोर्ट्स मेडिसिन में करियर (Career in PG Diploma in Sports Medicine)

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन स्पोर्ट्स मेडिसिन 2 साल की अवधि का साइकोलॉजी कोर्स है। स्पोर्ट्स मेडिसिन मेडिसिन की वह शाखा है जिसका संबंध एथलेटिक गतिविधियों से होने वाली चोट या बीमारी के इलाज से है। स्पोर्ट्स मेडिसिन एक एकीकृत क्षेत्र है, जो प्राथमिक देखभाल, सर्जरी, हड्डी रोग, आपातकालीन चिकित्सा, मनोविज्ञान, फिजियोथेरेपी, पोषण और अन्य में विशेषज्ञों के काम को जोड़ती है।

 

आज के इस आर्टिकल में हम आपको पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन स्पोर्ट्स मेडिसिन से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी से अवगत कराएंगे कि आखिर ये कोर्स किस लिए बनाया गया है, इसका सिलेबस क्या है। इसमें एडमिशन लेने के लिए क्या एलिजिबिलिटी होनी चाहिए। इसका एडमिशन प्रोसेस क्या है, इसे करने के बाद आपके पास जॉब प्रोफाइल क्या होंगी और इस कोर्स को करने के लिए भारत के टॉप कॉलेज कौन से हैं।

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन स्पोर्ट्स मेडिसिन में करियर

• कोर्स का नाम- पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन स्पोर्ट्स मेडिसिन
• कोर्स का प्रकार- पीजी डिप्लोमा
• कोर्स की अवधि- 2 साल
• एलिजिबिलिटी- किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से एमबीबीएस की डिग्री
• एडमिशन प्रोसेस- एंट्रेंस एग्जाम
• जॉब प्रोफाइल- कंस्लटेंट एमडी मेडिसिन, डाइटिशियन, व्यायाम इंस्ट्रेक्टर, जूनियर मेडिकल सोशल वर्कर / फार्मासिस्ट, लेक्चरर और प्रोफेसर, मैनेजमेंट ट्रेनी, मेडिकल डॉक्टर, नेटन्यूरोपैथी, डॉक्टर आदि।
• जॉब फिल्ड - एक्सरसाइज फिजियोलॉजी, काइन्सियोलॉजी, मसाज थैरेपी, ऑक्यूपेशनल थैरेपी, फिजिक्ल थैरेपी, स्पोर्ट्स डाइटिशियन/ न्यूट्रिशन, स्पोर्ट्स मेडिसिन रिसर्च आदि।

 

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन स्पोर्ट्स मेडिसिन: एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया
• उम्मीदवार के पास किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से एमबीबीएस की डिग्री होनी चाहिए।
• एमबीबीएस की डिग्री में कम से कम 50% अंक होने चाहिए।

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन स्पोर्ट्स मेडिसिन: एडमिशन प्रोसेस
पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन इकोनॉमिक्स में एडमिशन प्रोसेस कॉलेज से कॉलेज पर निर्भर करता है। इस कोर्स में एडमिशन ज्यादातर कॉलेज में एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर दिया जाता है।

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन स्पोर्ट्स मेडिसिन कोर्स में ऑनलाइन आवेदन कैसे करें
चरण 1 उम्मीदवार ऑफिशयल वेबसाइट पर जाएं।
चरण 2 ऑफिशयल वेबसाइट पर जाने के बाद आवेदन फॉर्म भरें।
चरण 3 आवेदन फॉर्म को भरने के बाद ठीक तरह से जांच लें यदि फॉर्म में गलती हुई तो वह रिजक्ट हो सकता है।
चरण 4 मांगे गए दस्तावेज अपलोड करें।
चरण 5 आवेदन पत्र सबमिट करें।
चरण 5 क्रेडीट कार्ड या डेबिट कार्ड से ऑनलाइन फॉर्म की फीस जमा करें।

एडमिशन के लिए आवश्यक दस्तावेज
• आधार कार्ड
• पेन कार्ड
• 10वीं, 12वीं, ग्रेजुएशन के मार्कशीट
• जन्म प्रमाण पत्र
• डोमिसाइल
• ट्रांसफर सर्टिफिकेट
• जाति प्रमाण पत्र
• प्रवास प्रमाण पत्र
• चरित्र प्रमाण पत्र
• आवासीय प्रमाण
• विकलांगता का प्रमाण यदि कोई हो।

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन स्पोर्ट्स मेडिसिन: सिलेबस

  • एप्लाइड बेसिक मेडिकल साइंस
  • काइन्सियोलॉजी
  • खेल चिकित्सा में असिस्टेंट और एवोल्यूशन
  • अनुसंधान और शैक्षिक पद्धति
  • एप्लाइड पैरा क्लीनिकल साइंस
  • जैवयांत्रिकी
  • शारीरिक चिकित्सा
  • स्पोर्ट्स ट्रॉमेटोलॉजी
  • किन्थ्रोपोमेट्री
  • खेल शारीरिक चिकित्सा
  • व्यायाम शरीर क्रिया विज्ञान और पोषण
  • एथलीट की गैर-दर्दनाक चिकित्सा स्थितियां
  • खेल मनोविज्ञान
  • एप्लाइड एक्सरसाइज फिजियोलॉजी
  • खेल चिकित्सा के चिकित्सा पहलू
  • खेल चिकित्सा में वर्तमान अवधारणाएं
  • आपातकालीन देखभाल और कार्डियोपल्मोनरी थेरेप्यूटिक्स
  • स्वास्थ्य देखभाल प्रबंधन की नींव और सिद्धांत

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बायोइनफॉरमैटिक्स: टॉप कॉलेज

  • नेताजी सुभाष राष्ट्रीय खेल संस्थान - एनएसएनआईएस, पटियाला

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बायोइनफॉरमैटिक्स: जॉब प्रोफाइल

  • कंस्लटेंट एमडी मेडिसिन
  • डाइटिशियन
  • व्यायाम इंस्ट्रेक्टर
  • जूनियर मेडिकल सोशल वर्कर / फार्मासिस्ट
  • लेक्चरर और प्रोफेसर
  • मैनेजमेंट ट्रेनी
  • मेडिकल डॉक्टर
  • नेटन्यूरोपैथी डॉक्टर

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बायोइनफॉरमैटिक्स: जॉब फील्ड

  • एक्सरसाइज फिजियोलॉजी
  • काइन्सियोलॉजी
  • मसाज थैरेपी
  • ऑक्यूपेशनल थैरेपी
  • फिजिक्ल थैरेपी
  • स्पोर्ट्स डाइटिशियन/ न्यूट्रिशन
  • स्पोर्ट्स मेडिसिन रिसर्च
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Post Graduate Diploma in Sports Medicine is a Psychology course of 2 years duration. Sports medicine is the branch of medicine that deals with the treatment of injury or disease caused by athletic activities. Sports medicine is an integrated field, which combines the work of specialists in primary care, surgery, orthopedics, emergency medicine, psychology, physiotherapy, nutrition and others.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X