पीजी डिप्लोमा इन बैंकिंग एंड फाइनेंस में करियर (Career in PG Diploma in Banking and finance)

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बैंकिंग एंड फाइनेंस 2 साल की अवधि का एक फुल टाइम कोर्स है, जो कि बैंकिंग और वित्त क्षेत्र में उच्च योग्य जनशक्ति की मांगों को पूरा करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। यह कोर्स छात्रों को गहन ज्ञान और समझ प्रदान करता है ताकि मध्य स्तर के कार्यकारी द्वारा प्रभावी प्रदर्शन की मांग को पूरा किया जा सके।

 

चलिए आज के इस आर्टिकल में हम आपको पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बैंकिंग एंड फाइनेंस से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी से अवगत कराएंगे कि आखिर बैंकिंग एंड फाइनेंस में पीजी डिप्लोमा कोर्स करने के लिए एलिजिबिलिटी क्या होनी चाहिए। इसका एडमिशन प्रोसेस क्या है, इसके लिए प्रमुख एंट्रेंस एग्जाम कौन से हैं, इसे करने के बाद आपके पास जॉब प्रोफाइल क्या होंगी और उनकी सैलरी क्या होगी। भारत में बैंकिंग एंड फाइनेंस में पीजी डिप्लोमा कोर्स करने के लिए टॉप कॉलेज कौन से हैं और उनकी फीस क्या है।

पीजी डिप्लोमा इन बैंकिंग एंड फाइनेंस में करियर (Career in PG Diploma in Banking and finance)

• कोर्स का नाम- पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बैंकिंग एंड फाइनेंस
• कोर्स का प्रकार- पोस्ट ग्रेजुएट
• कोर्स की अवधि- 1 साल
• पात्रता- स्नातक
• एडमिशन प्रोसेस- एंट्रेंस एग्जाम
• अवरेज सैलरी- 3 से 7 लाख तक
• कोर्स फीस- 50,000 से 4 लाख तक
• जॉब प्रोफाइल- शिक्षक, व्याख्याता, बैंक प्रबंधक, लेखाकार आदि।
• जॉब फील्ड- कॉलेज, विश्वविद्यालय, बैंक, सरकारी संगठन आदि।

 

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बैंकिंग एंड फाइनेंस: पात्रता

  • उम्मीदवारों के पास किसी मान्यता प्राप्त कॉलेज या विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री होनी चाहिए।
  • उम्मीदवार स्नातक डिग्री में कुल मिलाकर कम से कम 60% अंक होने चाहिए।
  • उम्मीदवारों को अपनी पसंद के कॉलेजों में सीट सुरक्षित करने के लिए सामान्य प्रवेश परीक्षा जैसे चाय अनुसंधान संघ (टीआरए), चाय प्रौद्योगिकी और वृक्षारोपण प्रबंधन में पीजी डिप्लोमा कोर्स के लिए डिब्रूगढ़ विश्वविद्यालय प्रवेश परीक्षा में किसी एक को भी उत्तीर्ण करना चाहिए।
  • अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग से संबंधित उम्मीदवारों को अनिवार्य प्रक्रिया के रूप में पाठ्यक्रम कार्यक्रम में 5% छूट प्रदान की जाती है।

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बैंकिंग एंड फाइनेंस: प्रवेश प्रक्रिया

किसी भी टॉप यूनिवर्सिटी में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बैंकिंग एंड फाइनेंस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए, उम्मीदवारों को एंट्रेंस एग्जाम देने की आवश्यकता होती है। एंट्रेंस एग्जाम में पास होने के बाद पर्सनल इंट्रव्यू होता है और यदि उम्मीदवार उसमें अच्छा स्कोर करते हैं, तो उन्हें स्कोलरशिप भी मिल सकती है।

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बैंकिंग एंड फाइनेंस के लिए भारत के टॉप कॉलेजों द्वारा अपनाई जाने वाली एडमिशन प्रोसेस निम्नलिखित है

चरण 1: रजिस्ट्रेशन

  • उम्मीदवार ऑफिशयल वेबसाइट पर जाएं।
  • ऑफिशयल वेबसाइट पर जाने के बाद आवेदन फॉर्म भरें।
  • आवेदन फॉर्म को भरने के बाद ठीक तरह से जांच लें यदि फॉर्म में गलती हुई तो वह रिजक्ट हो सकता है।
  • मांगे गए दस्तावेज अपलोड करें।
  • आवेदन पत्र सबमिट करें।
  • क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड से ऑनलाइन फॉर्म की फीस जमा करें।

चरण 2: एंट्रेंस एग्जाम

  • यदि उम्मीदवार पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बैंकिंग एंड फाइनेंस में एडमिशन लेने के लिए टॉप यूनिवर्सिटी का लक्ष्य रखते हैं, तो उनके लिए एंट्रेंस एग्जाम क्रेक करना अत्यंत आवश्यक है। जिसके लिए रजिस्ट्रेशन प्रोसेस पूरी हो जाने के बाद एडमिट कार्ड जारी किए जाते हैं। जिसमें की एंट्रेंस एग्जाम से संबंधित सभी जानकारी दी जाती है जैसे कि एग्जाम कब और कहां होगा, आदि।
  • बता दें कि पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बैंकिंग एंड फाइनेंस के लिए एडमिशन प्रोसेस चाय अनुसंधान संघ (टीआरए), चाय प्रौद्योगिकी और वृक्षारोपण प्रबंधन में पीजी डिप्लोमा कोर्स के लिए डिब्रूगढ़ विश्वविद्यालय प्रवेश परीक्षा आदि जैसे एंट्रेंस एग्जाम पर निर्भर करती है। योग्य उम्मीदवारों का चयन आगे इंट्रव्यू के आधार पर किया जाता है।

चरण 3: एंट्रेंस एग्जाम का रिजल्ट
एंट्रेंस एग्जाम हो जाने के कुछ दिन बाद उसका रिजल्ट घोषित किया जाता है जिसके लिए, छात्रों को नियमित रूप से विश्वविद्यालय की वेबसाइटों और सोशल मीडिया हैंडल की जांच करके खुद को अपडेट रखना चाहिए।

चरण 4: इंट्रव्यू एंड एनरोलमेंट

  • एंट्रेंस एग्जाम में पास होने वाले छात्रों को यूनिवर्सिटी द्वारा इंट्रव्यू में उपस्थित होने के लिए कहा जाएगा - या तो ऑनलाइन (स्काइप, गूगल मीट, ज़ूम) या ऑफ़लाइन छात्रों को यूनिवर्सिटी परिसर में बुलाकर।
  • इस दौरान, अन्य सभी एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया को क्रॉस चेक किया जाता है और यदि छात्र इंटरव्यू में अच्छा प्रदर्शन करते हैं, तो उन्हें बैंकिंग एंड फाइनेंस में पीजी डिप्लोमा का अध्ययन करने के लिए एडमिशन दिया जाता है।

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बैंकिंग एंड फाइनेंस: सिलेबस

पीजी डिप्लोमा इन बैंकिंग एंड फाइनेंस दो साल की अवधि का कोर्स है, जिसे चार सेमेस्टर में विभाजित किया जा चुका है। सेमेस्टर अनुसार सब्जेक्ट निम्नलिखित है-

सेमेस्टर 1

  • प्रबंधन के सिद्धांत और व्यवहार
  • प्रबंधन लेखांकन
  • प्रबंधकीय अर्थशास्त्र
  • भारत की बैंकिंग और वित्तीय प्रणाली
  • बैंकिंग सेवा विपणन
  • बैंकिंग में विनियम और कानून

सेमेस्टर 2

  • वित्तीय प्रबंधन
  • बैंकिंग में प्रबंधन सूचना प्रणाली और प्रौद्योगिकी
  • नेतृत्व और व्यक्तित्व विकास
  • दुनिया का बैंकिंग और वित्त
  • अनुसंधान पद्धति और सांख्यिकीय तरीके
  • बाजार और वित्त संस्थान

सेमेस्टर 3

  • पूंजी बाजार
  • लेखा प्रणाली और वित्तीय विश्लेषण
  • बैंक का प्रबंधन
  • सुरक्षा विश्लेषण और पोर्टफोलियो प्रबंधन
  • बैंक उधार नीतियां और प्रक्रियाएं
  • परियोजना और बुनियादी ढांचा वित्तपोषण

सेमेस्टर 4

  • मैक्रो अर्थशास्त्र
  • माइक्रो फाइनेंसिंग
  • जोखिम प्रबंधन
  • ग्रामीण और सहकारी बैंकिंग
  • परियोजना

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बैंकिंग एंड फाइनेंस: टॉप कॉलेज और उनकी फीस

  • सावित्रीबाई फुले पुणे विश्वविद्यालय, पुणे- फीस 5,850
  • मणिपाल विश्वविद्यालय, मणिपाल- फीस 4 लाख (लगभग)
  • मराठवाड़ा मित्र मंडल कॉलेज ऑफ कॉमर्स, पुणे- फीस 10,500
  • बैंकिंग और वित्त संस्थान, दिल्ली- फीस 2,25,000
  • एनएमआईएमएस यूनिवर्सिटी, मुंबई- फीस 41,500
  • डॉ.बी.आर. अंबेडकर ओपन यूनिवर्सिटी, हैदराबाद- फीस 32,000
  • सिम्बायोसिस स्कूल ऑफ बैंकिंग एंड फाइनेंस, पुणे- फीस 50,000
  • सिम्बायोसिस सेंटर फॉर डिस्टेंस लर्निंग, पुणे- फीस 30,000
  • एआईएमआईटी, मैंगलोर- फीस 2,60,000
  • इंटीग्रल इंस्टीट्यूट ऑफ एडवांस्ड मैनेजमेंट, विशाखापत्तनम- फीस 1,60,000
  • आईएसबीएम, बैंगलोर- फीस 4,45,000
  • के.जे. सोमैया प्रबंधन संस्थान, मुंबई- फीस 8,98,000
  • वीवीआईएसएम, हैदराबाद- फीस 3,70,000

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बैंकिंग एंड फाइनेंस: जॉब प्रोफाइल और सैलरी

  • फाइनेंशियल मैनेजर- सालाना सैलरी (4 से 7 लाख तक )
  • टीचर/प्रोफेसर- सालाना सैलरी (3 से 6 लाख तक)
  • अकाउंटेंट- सालाना सैलरी (5 से 7 लाख तक)
  • बैंक मैनेजर- सालाना सैलरी (5 से 7 लाख तक)

यह खबर पढ़ने के लिए धन्यवाद, आप हमसे हमारे टेलीग्राम चैनल पर भी जुड़ सकते हैं।

Photography Business Tips: कैसे शुरू करें फोटोग्राफी का व्यवसाय, जानिए बेस्ट टिप्स

Gaming Business Tips: कैसे शुरू करें गेमिंग व्यवसाय, जानिए बेस्ट टिप्स

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Post Graduate Diploma in Banking & Finance is a full time course of 2 years duration, designed to meet the demands of highly qualified manpower in the banking and finance sector. This course provides the students with in-depth knowledge and understanding to meet the demands of effective performance by the middle level executive.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X