जियोलॉजी: पृथ्वी के रहस्यों में छिपा करियर विकल्प

Posted By: Sudhir

वैज्ञानिकों ने हमेशा से ही पृथ्वी के रहस्यों को सुलझाने की कोशिश की है लेकिन आज भी हम पूरे विश्वास के साथ ये नही कह सकते कि पृथ्वी के बारे में हमने सब कुछ जान लिया है। क्योंकि जैसे ही हम किसी पहेली को सुलझाने दावा करते है वैसे ही हम और उलझते चले जाते है। खैर आज हम आपको पृथ्वी की किसी पहेली में उलझाने नही जा रहे है बल्कि हम आपको एक ऐसे करियर ऑप्शन के बारे में बताने जा रहे है जो पृथ्वी के रहस्यों का विज्ञान है। इस फील्ड का नाम जियोलॉजी यानि भूगर्भ विज्ञान है।

जियोलॉजी में पृथ्वी के अंदर की हलचल, बहुमूल्य रत्नों और पृथ्वी में छुपी खनिज संपदा का अध्ययन किया जाता है। बदलते हुए परिवेश और खनिज संपदाओं की लागातर बढ़ती मांग की वजह से इस फील्ड में पेशेवरों की माग काफी बढ़ गई है। अगर आपको भी पृथ्वी से जुड़े रहस्यों को सुलझाने में खास इंट्रेस्ट है तो आपके लिए जियोलॉजिस्ट की फील्ड करियर के लिहाज से एक अच्छा विकल्प साबित हो सकती है।

जियोलॉजिस्ट वर्क प्रोफाइल-
अगर आप पृथ्वी से जुड़े रहस्यों और खोज-बीन में खास दिलचस्पी रखते है तो आप एक जियोलॉजिस्ट के रूप में अपने करियर की शुरूआत कर सकते है। एक जियोलॉजिस्ट का काम पृथ्वी से जुड़े रहस्यों को सुलझाने के साथ-साथ नई खोज को अंजाम देना भी होता है। इसके अलावा उनको बहुमूल्य खनिजों के बारे में जानकारियां हासिल करना होता है। एक जियोलॉजिस्ट इन वर्क प्रोफाइल में काम कर सकता है-
-इकोनॉमिक जियोलॉजिस्ट
-एन्वॉयरमेंटल जियोलॉजिस्ट
-इंजीनियरिंग जियोलॉजिस्ट
-एटमॉस्फेरिक साइंटिस्ट

योग्यता-
अगर आप एक जियोलॉजिस्ट के रूप में करियर बनाना चाहते है तो आपको साइंस (PCM) विषय के साथ 12वीं पास होना जरूरी है। इसके साथ ही आपको कंप्यूटर में भी दक्ष होना जरूरी है। स्नातक स्तर पर जियोलॉजी में बीएससी होता है। इसके बाद आप पोस्ट ग्रेजुएशन के रूप में एमए और एमएससी कर सकते है। इसके अलावा आप मास्टर्स के बाद जियोलॉजी में पीएचडी भी कर सकते है।

प्रमुख संस्थान-
-बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी, वाराणसी
-आईआईटी, खड़गपुर
-पटना यूनिवर्सिटी, बिहार
-रांची यूनिवर्सिटी, झारखण्ड
-दिल्ली यूनिवर्सिटी, दिल्ली
-अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, अलीगढ़
-लखनऊ यूनिवर्सिटी, यूपी
-देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी, इंदौर
-पंजाब यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़
-यूनिवर्सिटी ऑफ कश्मीर, श्रीनगर

कोर्स करने के बाद यहां मिलेगी नौकरी-
जियोलॉजी में डिग्री हासिल करने के बाद आपके लिए इस फील्ड में कई संभावनाएं खुल जाती है। आप चाहे तो भारतीय भूगर्भीय सर्वेक्षण, केन्द्रीय भूजल बोर्ड और भू-वैज्ञानिक सलाहकार के रूप में नौकरी हासिल कर सकते है। इसके अलावा एक प्रोफेशनल जियोलॉजिस्ट के लिए तेल और प्राकृतिक गैस आयोग (ओएनजीसी), हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड, कोल इंडिया, मिनरल एक्सप्लोरेशन लिमिटेड, हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड जैसी सरकारी कंपनियों में खूब मौके होते है। साथ ही कई प्राइवेट कंपनियां जो प्राकृतिक तेल और खनिज में बिजनेस करती है उनमें भी एक जियोलॉजिस्ट को नौकरी मिल सकती है।

इतनी मिलेगी सैलरी-
एक जियोलॉजिस्ट को शुरूआती तौर पर 25 से 30 हजार रूपये प्रतिमाह मिल सकते है। इसके अलावा इस फील्ड में कुछ सालों के एक्सपीरियंस के बाद आपकी सैलरी बढ़ जाएगी। अगर आप इस फील्ड में कोई नई खोज कर लेते है तो आप लाखों रूपये भी कमा सकते है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

    English summary
    Geology is studied inside the earth, the precious stones and hidden minerals in the earth are studied. Due to increasing demand for changing environments and mineral resources, the demand for professionals in this field has increased significantly. If you have a special interest in solving the mysteries associated with Earth, then you can prove to be a good option for geologist's field careers.

    Get Latest News alerts from Hindi Careerindia

    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Careerindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Careerindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more