डिप्लोमा इन फार्मेसी (Career in Diploma in Pharmacy After 12th)

हेल्थकेयर सेक्टर कोई छोटा सा क्षेत्र नहीं है । इसमें कई सारे कार्य और कोर्स शामिल है। हेल्थकेयर का अर्थ केवल डॉक्टर बनना नहीं होता है और भी अन्य क्षेत्र होते हैं जहां छात्र कार्य करने की इच्छा रखते हैं। कक्षा 12वीं के छात्र जो हेल्थ केयर सेक्टर में जाने की अच्छा रखते हैं वह छात्र इस खोज में रहे हैं कि वह कौनसा कोर्स कर सकते हैं। इसी के साथ जो छात्र मेडिसिन के साल्ट आदी में दिलचस्पी रखते हैं और इस क्षेत्र की नॉलेज रखना चाहते हैं वे छात्र फार्मेसी का कोर्स कर सकते हैं। इस कोर्स में छात्र डिग्री, डिप्लोमा आदि कर सकते हैं। लेकिन आज इस लेख में हम आपकों फार्मेसी में डिप्लोमा कोर्स के बारे में बताने जा रहे हैं। आइए कोर्स के बारे में जाने।

 

डिप्लोमा इन फार्मेसी

डिप्लोमा इन फार्मेसी

डिप्लोमा इन फार्मेसी 2 साल का कोर्स है। इस कोर्स को कक्षा 12वीं के बाद किया जा सकता है। केवल साइंस स्ट्रीम के छात्र इस कोर्स के लिए आवेदन कर सकते हैं। डिप्लोमा इन फार्मेसी फूल टाइम कोर्स है। इस डी फार्मा शॉर्ट में कहा जाता है। इस कोर्स में छात्रों के पास कई करियर ऑप्शन है और ये क्षेत्र दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है। आप किसी बड़ी कंपनी में कार्य कर सकते हैं या फिर अपनी खुद की फार्मेसी भी खोल सकते हैं। इस कोर्स को करने के बाद छात्र साल का 2 लाख से 6 लाख रुपये तक आराम से कमा सकते हैं। इस कोर्स की फीस 10 हजार से 1 लाख तक के बीच हो सकती है। भारत में कई टॉप संस्थान हैं जो फार्मेसी में डिप्लोमा ऑफर करते हैं। कई ऐसे संस्थान भी हैं जो एनआईआरएफ की रैंकिंग में भी शामिल है। आइए कोर्स के लिए अच्छे शिक्षण संस्थानों, सिलेबस और करियर ऑप्शन के बारे में बताएं।

डिप्लोमा इन फार्मेसी : योग्यता
 

डिप्लोमा इन फार्मेसी : योग्यता

फार्मेसी में डिप्लोमा करन की इच्छा रखने वाले छात्रों को इस कोर्स में प्रवेश लेने के लिए किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से कक्षा 12वीं पास करना अनिवार्य है।

इस कोर्स में प्रवेश केवल साइंस स्ट्रीम के छात्र ही प्रवेश ले सकते हैं। छात्रों के पास साइंस में फिजिक्स, कैमेस्ट्री, बायोलॉजी और गणित विषय पढ़ाना आवश्यक है।

आरक्षित श्रेणी वाले छात्रों के लिए अंक प्रतिशत में 5 प्रतिशत की छूट मिलती है।

कोर्स में प्रवेस लेने के लिए छात्रों के कक्षा 12वीं में कम से कम 50 प्रतिशत अंक होने चाहिए।

डिप्लोमा इन फार्मेसी : प्रवेश प्रक्रिया

डिप्लोमा इन फार्मेसी : प्रवेश प्रक्रिया

फार्मेसी में डिप्लोमा करने की इच्छा रखने वाले छात्र इस कोर्स में मेरिट और प्रवेश परीक्षा के आधार पर दाखिला ले सकते हैं। भारत के कई शिक्षण संस्थान मेरिट और परीक्षा के दोनों के माध्यम से प्रवेश ले सकते है।

मेरिट बेस

मेरिट बेस के आधार पर दाखिला छात्रों द्वारा हासिल कक्षा 12वीं के अंकों के आधार पर दिया जाता है। संस्थान एक कट ऑफ लिस्ट जारी करता है। जारी इस लिस्ट के अनुसार जिन छात्रों का अंक प्रतिशत इस कट ऑफ में होता है वह जाकर संस्थान में दाखिला ले सकते हैं।

प्रवेश परीक्षा

कई शिक्षण संस्थान कोर्से में दाखिले के लिए प्रवेश परीक्षा का आयोजन करवाते हैं और इस परीक्षा में छात्रों के प्रदर्शन के आधार उन्हें दाखिला दिया जाता है। परीक्षा के बाद एक रिजल्ट लिस्ट जारी की जाती है जिसमें परीक्षा में पास हुए छात्रों को दाखिले के लिए आमंत्रित किया जाता है।

प्रवेश परीक्षा के नाम-

प्रवेश परीक्षा के नाम-

  • एयू एआईएमईई
  • जीपीएटी
  • वेस्ट बंगाल ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन (डब्लूबीजेईई फार्मेसी)
  • ओडिशा ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन- फार्मेसी
  • राजस्थान यूनिवर्सिटी ऑप हेल्थ साइंसेज
  • जीयूजेसीईटी
  • उत्तर प्रदेश स्टेट एंट्रेंस एग्जामिनेशन
  • महाराष्ट्र कॉमन एंट्रेंस टेस्ट- फार्मेसी
  • केसीईटी
  • गोवा कॉमन एंट्रेंस टेस्ट
  • डिप्लोमा इन फार्मेसी : सिलेबस

    डिप्लोमा इन फार्मेसी : सिलेबस

    प्रथम वर्ष

    फार्मास्युटिक्स 1
    फार्मास्युटिकल केमिस्ट्री 1
    बायोकैमिस्ट्री क्लिनिकल पैथोलॉजी
    ह्यूमन एनाटॉमी फिजियोलॉजी
    हेल्थ एजुकेशन कम्यूनिटी फार्मेसी

    द्वितीय वर्ष

    फार्मास्युटिक्स 2
    फार्मास्युटिकल केमिस्ट्री 2
    एंटीबायोटिक्स
    हिप्नोटिक्स
    फार्माकोलॉजी एंड टाक्सिकोलॉजी
    फार्मास्युटिकल जूरिप्रूडेंस
    ड्रग स्टोर बिजनेस मैनेजमेंट
    हॉसपिटल क्लिनिकल फार्मेसी

    डिप्लोमा इन फार्मेसी : भारत के टॉप कॉलेज

    डिप्लोमा इन फार्मेसी : भारत के टॉप कॉलेज

    1. जामिया हमदर्द विश्वविद्यालय, नई दिल्ली : 80,000 रुपये (एनआईआरएफ रैंक 1)
    2. एमसीओपीएस, मणिपाल : 60,000 रुपये (एनआईआरएफ रैंक 7)
    3. जेएसएस कॉलेज ऑफ फार्मेसी, उदगमंडलम : 55,400 रुपये (एनआईआरएफ रैंक 9)
    4. अन्नामलाई विश्वविद्यालय, चिदंबरम : 16,380 रुपये (एनआईआरएफ रैंक 12)
    5. एसपीपीएसपीटीएम, मुंबई : 1,21,500 रुपये (एनआईआरएफ रैंक 13)
    6. एमएएचई, मणिपाल : 55,000 रुपये (एनआईआरएफ रैंक 14)
    7. डीआईपीएसएआर, नई दिल्ली : 12,085 रुपये (एनआईआरएफ रैंक 25)
    8. चितकारा विश्वविद्यालय, पटियाला : 1,32,000 रुपये (एनआईआरएफ रैंक 38)
    9. इंटीग्रल यूनिवर्सिटी, लखनऊ : 80,000 रुपये (एनआईआरएफ रैंक 46)
    10. गलगोटिया विश्वविद्यालय, ग्रेटर नोएडा : 1,10,000 रुपये (एनआईआरएफ रैंक 76)
    डिप्लोमा इन फार्मेसी : सरकारी कॉलज

    डिप्लोमा इन फार्मेसी : सरकारी कॉलज

    1. गवर्नमेंट कॉलेज ऑफ फार्मेसी, कराड, महाराष्ट्र - 24,000 रुपये
    2. दिल्ली इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मास्युटिकल साइंस एंड रिसर्च नई दिल्ली - 25,000 रुपये
    3. इंस्टीट्यूट ऑफ केमिकल टेक्नोलॉजी, मुंबई - 30,000 रुपये
    4. गवर्नमेंट कॉलेज ऑफ फार्मेसी, अमरावती महाराष्ट्र - 81,000 रुपये
    5. मद्रास मेडिकल कॉलेज चेन्नई - 43,000 रुपये
    6. फार्मेसी कॉलेज, सैफई सैफई, उत्तर प्रदेश - 35,000 रुपये
    7. फार्मेसी के गवर्नमेंट कॉलेज, औरंगाबाद औरंगाबाद, महाराष्ट्र - 57,000 रुपये
    8. जादवपुर विश्वविद्यालय कोलकाता, पश्चिम बंगाल - 5,000 रुपये
    9. महाराजा सयाजीराव विश्वविद्यालय बड़ौदा, बड़ौदा, वडोदरा - 80,000
    10. गवर्नमेंट फार्मेसी संस्थान, गुलजारबाग पटना बिहार - 4,000 से 4,00,000 रुपये
    डिप्लोमा इन फार्मेसी : स्टेट वाइज कॉलेज की लिस्ट

    डिप्लोमा इन फार्मेसी : स्टेट वाइज कॉलेज की लिस्ट


    मुंबई

    एसपीपीएसपीटीएम - 1,21,500 रुपये
    एनएमआईएमएस - 1,21,500 रुपये
    मुंबई एजुकेशनल ट्रस्ट - 3,03,000 रुपये
    नागरिक शिक्षण संस्थान कॉलेज ऑफ फार्मेसी - 1,28,000 रुपये
    मेट इंस्टिट्यूट ऑफ़ फार्मेसी - 3,03,000 रुपये
    प्रेमलीला विट्ठलदास पॉलिटेक्निक - 17,000 रुपये
    श्रीमती कुसुमताई वानखेड़े फार्मेसी संस्थान - 9,750 रुपये

    दिल्ली

    जेएमयू - 80,000 रुपये
    दिप्सर - 12,085 रुपये
    डीपीएसआरयू - 30,500 रुपये
    मीरा बाई प्रौद्योगिकी संस्थान - 8,000 रुपये

    कोलकाता

    गुरुनानक इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मास्युटिकल साइंस एंड टेक्नोलॉजी - 89,600 रुपये
    एडमास विश्वविद्यालय - 95,100 रुपये
    ब्रेनवेयर यूनिवर्सिटी - 2,10,000 रुपये
    जेआईएस विश्वविद्यालय 1,57,000 रुपये
    ईसीपीटी - 56,500 रुपये
    स्वामी विवेकानंद विश्वविद्यालय - 1,20,000 रुपये
    एमआर कॉलेज ऑफ फार्मास्युटिकल साइंसेज एंड रिसर्च - 1,00,000 रुपये
    बीसीडीए कॉलेज ऑफ फार्मेसी एंड टेक्नोलॉजी - 19,486 रुपये
    पीएमआईटी ग्रुप ऑफ कॉलेज - 1,60,000 रुपये

    चेन्नई

    सत्यबामा विज्ञान और प्रौद्योगिकी संस्थान 80,000
    डॉ एमजीआर एजुकेशनल एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट 90,000
    बिहार 60,000
    सविता इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एंड टेक्निकल साइंसेज 85,000

    बैंगलोर

    एबीएमआरसीपी - 96,175 रुपये
    गवर्नमेंट कॉलेज ऑफ फार्मेसी, बैंगलोर - 14,030 रुपये
    कर्नाटक कॉलेज ऑफ फार्मेसी - 80,000 रुपये
    टीजेआईएमएस - 65,000 रुपये
    एमईएस कॉलेज ऑफ फार्मेसी - 60,000 रुपये
    बैंगलोर ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस - 1,70,000 रुपये
    आरआर ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस - 1,58,000 रुपये
    फार्मेसी के डॉ एचएलटी कॉलेज - 60,000 रुपये
    फार्मेसी के ऑक्सफोर्ड कॉलेज - 50,000 रुपये

    हैदराबाद

    फार्मेसी के श्री वेंकटेश्वर कॉलेज - 1,08,000 रुपये
    अवंथि एजुकेशनल सोसायटी - 68,000 रुपये
    सरकारी पॉलिटेक्निक एमएएसएबी टैंक - 3,800 रुपये

    पुणे

    डीवाईपीआईपीएसआर - 1,15,000 रुपये
    फार्मेसी के डॉ डी वाई पाटिल कॉलेज - 63,199 रुपये
    आरडीसीओपी - 54,000 रुपये
    डीवाई पाटिल इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी - 56,250 रुपये
    जेएसआईपी - 70,000 रुपये
    आरजेएसपीएम इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मेसी - 83,000 रुपये
    सेठ गोविंद रघुनाथ सेबल कॉलेज ऑफ फार्मेसी - 95,000 रुपये
    सिद्धांत कॉलेज ऑफ फार्मेसी - 70,000 रुपये
    फार्मेसी के इंदिरा कॉलेज - 80,000 रुपये
    एसपीसीओपी - 67,000 रुपये

    डिप्लोमा इन फार्मेसी : जॉब प्रोफाइल और सैलरी

    डिप्लोमा इन फार्मेसी : जॉब प्रोफाइल और सैलरी

    1. फार्मेसिस्ट : 2 लाख रुपये सालाना
    2. साइंटिफिक ऑफिसर : 6.47 लाख रुपये सालाना
    3. प्रोडक्शन एग्जीक्यूटिव : 3.44 लाख रुपये सालाना
    4. मेडिकल ट्रांसक्रिप्शनिस्ट : 2.50 लाख रुपये सालाना
    5. एनालिटिकल केमेस्ट्री : 4.30 लाख रुपये सालाना
    6. पैथोलॉजीकल लैब साइंटिस्ट : 3.25 लाख रुपये सालाना
    7. रिसर्च एंड डेवलपमेंट एग्जीक्यूटिव : 5.67 लाख रुपये सालाना
    8. रिसर्च ऑफिसर : 3.20 लाख रुपये सालाना

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Diploma in Pharmacy is a 2 year course. This course can be done after class 12th. Only Science stream students can apply for this course. Diploma in Pharmacy is a full time course. This is called D Pharma in short. Students have many career options in this course. After doing this course, students can earn comfortably from 2 lakh to 6 lakh rupees per year.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X