डिप्लोमा इन नर्सिंग कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस और टॉप कॉलेज के बारे में

भारत में मेडिसिन का सेक्टर बहुत फेमस सेक्टर है लेकिन इस सेक्टर में डॉक्टर बनने के अलावा भी कई महत्वपूर्ण चीजे शामिल हैं। जो छात्र हेल्थ सेक्टर में करियर बनना चाहते हैं लेकिन एक डॉक्टर के तौर पर नहीं बल्कि अन्य हेल्थ केयर वर्क के तौर पर वह पैरामेडिकल में अपना करियर बना सकते हैं। हेल्थ केयर सेक्टर पैरामेडिकल कोर्स की अपनी ही अहम भूमिका है। इस सेक्टर में काम करने वाले सभी लोग हेल्थ केयर सेक्टर की में महत्वपूर्ण है जिनके बिना हमारे आधे काम- जैसे टेस्टिंग, स्कैनिंग, एक्स रे और अन्य बेसिक केयर आदि शामिल है। पैरामेडिकल साइंस के कोर्स में कई डिग्री के साथ कई डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स भी है। इस सेक्टर का सबसे महत्वपूर्ण माने जाना वाला कोर्स है नर्सिंग। नर्सिंग करने की इच्छा रखने वाले छात्र इस कोर्स में डिग्री के अलावा डिप्लोमा भी कर सकते हैं। यदि बात की जाए नर्सों के महत्व की आपको बता दें कि डॉक्टर के बाद नर्सों को सबसे अधिक महत्व दिया जाता है। एक बेसिक नर्से ट्रीटमेंट दे सकती हैं। आइए आपको डिप्लोमा इन नर्सिंग कोर्स के बारे में विस्तार से बताएं।

 
डिप्लोमा इन नर्सिंग कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस और टॉप कॉलेज के बारे में

नर्सिंग में डिप्लोमा करने की इच्छा रखने वाले छात्र इस कोर्स को कक्षा 12वीं के बाद कर सकते हैं। इस कोर्स को करने के लिए छात्र के पास साइंस स्ट्रीम होनी आवश्यक है। डिप्लोमा इन नर्सिंग 3 साल का कोर्स है जिसे कर आप किसी भी सरकारी और प्राइवेट अस्पताल में कार्य कर सकते हैं। इसके अलावा नर्स की नौकरी आप किसी प्राइवेट क्लिनिक या शैक्षिक संस्थान में भी कर सकती है। कोर्स करने के बाद छात्रों के पास कई करियर ऑप्शन होते है। नर्से के तौर पर आपक साल का 2 से 4 लाख रुपये आराम से कमा सकते हैं। इस कोर्स को करने की इच्छा रखने वाले छात्रों को बता दें कि कोर्स की फीस 1 हजार से 1 लाख तक जा सकती है। कोर्स की फीस संस्थानों के फीस स्ट्रक्चर के अनुसार होती है और सरकारी के मुकाबले प्राइवेट संस्थानों की फीस अधिक होती है। भारत के कई शैक्षिक संस्थान कोर्स पूरा करने वाले छात्रों के लिए प्लेसमेंट भी उपलब्ध करवाते हैं जिससे संस्थान से कोर्स पूरा कर बाहर निकलने से पहले आपके हाथों में नौकरी होती है।

डिप्लोमा इन नर्सिग : योग्यता

 

- कोर्स में प्रवेश लेने के लिए छात्रों को किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से साइंस स्ट्रीम में कक्षा 12वीं पास करनी होगी।

- कक्षा 12वीं न्यूनतम 50 प्रतिशत अंक से पास करने वाला छात्र इस कोर्स के लिए आवेदन करने योग्य है।
- जिस व्यक्ति के पास जनरल नर्सिंग और मिडवाइफरी में कम से कम 2 साल का अनुभव है वह व्यक्ति भी इस कोर्स में प्रवेश ले सकता है।

- जनरल नर्सिंग और मिजवाइफरी के अनुभव न होने की स्थिति में जिस छात्र के पास भारतीय नर्सिंग परिषद द्वरा दिया गया 6 से 9 महीने का नर्सिंग प्रमाण पत्र है वह छात्र भी इस कोर्स में प्रवेश ले सकता है।

डिप्लोमा इन नर्सिग : कॉलेज और फीस

एसआरएम इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी कांचीपुरम
फीस - 35,000 रुपये
प्लेसमेंट पैकेज - 2,00,000 रुपये

महात्मा ज्योति राव फूले विश्वविद्यालय जयपुर
फीस - 26,000 रुपये
प्लेस्मेंट पैकेज - 1, 45,000 रुपये

सिंघानिया विश्वविद्यालय राजस्थान
फीस - 92,000 रुपये
प्लेसमेंट पैकेज - 3,20,000 रुपये

वेंकटेश्वर नर्सिंग कॉलेज चेन्नई
फीस - 40,000 रुपये
प्लेसमेंट पैकेज - 2,54,000 रुपये

सुरबी कॉलेज ऑफ नर्सिंग तमिलनाडु
फीस - 21,000 रुपये

शक्ति कॉलेज ऑफ नर्सिंग तमिलनाडु
फीस - 20,000 रुपये

अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज और अस्पताल बिहार
फीस - 1,600 रुपये

इंटरनेशनल सेंटर फॉर थोरैसिक एंड वैस्कुलर डिजीज चेन्नई
फीस - 20,000 रुपये
प्लेसमेंट पैकेज - 1, 35,000 रुपये

डिप्लोमा इन नर्सिग : सिलेबस

प्रथम वर्ष
• एनाटॉमी एंड साइकोलॉजी
• माइक्रोबायोलॉजी
• साइकोलॉजी
• सोशलॉजी
• फंडामेंटल ऑफ नर्सिंग
• फर्स्ट एड
• पर्सनल हाइजीन
• कंप्यूटर एजुकेशन
• प्रोफेशनल ट्रेंड एंड एडजेस्टमेंट

दूसरा साल
• मेडिकल सर्जिकल नर्सिंग 1
• कम्युनिकेबल डिसीसिस
• इयर, नोज एंड थ्रोट
• स्किन
• मेंटल हेल्थ एंड साइकाइट्रिक नर्सिंग
• कम्युनिटी हेल्थ नर्सिंग 1
• कंप्यूटर एजुकेशन
• इंट्रोडक्शन रिसर्च
• एडमिनिस्ट्रेशन एंड वार्ड मैनेजमेंट

तीसरा साल
• मिडवाइफरी एंड गायनेकोलॉजिकल नर्सिंग
• कम्युनिटी हेल्थ नर्सिंग 2
• पीडियाट्रिक नर्सिंग
• न्यूट्रीशन
• एनवायरमेंटल हाइजीन
• मेडिकल सर्जिकल नर्सिंग 2
• हेल्थ इकोनॉमिक्स
• एजुकेशनल मेथड एंड मीडिया फॉर टीचिंग इन प्रैक्टिस ऑफ नर्सिंग
• इंटर्नशिप

डिप्लोमा इन नर्सिग : जॉब प्रोफाइल और सैलरी
1. हेड नर्सिंग सर्विस - 4 लाख सालना
2. नर्सिंग असिस्टेंट 2.5 लाख सालना
3. कम्युनिटी हेल्थ नर्सिंग - 3.5 लाख सालना
4. इर्मजेंसी नर्स - 2 लाख सालना
5. नर्सिंग इंचार्ज - 2 लाख सालना
6. इनफेक्शन कंट्रोल नर्स - 3 लाख सालना

कोर्स पूरा करने के बाद छात्र सरकारी अस्पताल, प्राइवेट अस्पताल, स्कूल, क्लिनिक, कम्यूनिटी हेल्थ सर्विसेज में नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं।

डिप्लोमा इन नर्सिग : स्कोप

डिप्लोमा इन नर्सिंग करने वाले छात्र इस कोर्स को पूरा करन के बाद ऊपर दिए गए पदों पर कार्य कर सकते हैं और साल का 2 से 5 लाख कमा सकते हैं। जैसे-जैसे इस क्षेत्र में आपका अनुभव बढ़ेगा वैसे-वैसे पदों कौ सैलरी में बढ़ौतरी होती है। इसके अलावा जो छात्र डिप्लोमा पूरा करने के बाद इस कोर्स में उच्च शिक्षा प्राप्त करने की इच्छा रखते हैं वह छात्र नीचे दिए गए कोर्सेस में प्रवेश ले सकते हैं।

1.बीएससी इन नर्सिंग
2. पोस्ट बेसिक बीएससी इन नर्सिंग
3. एमएससी इन नर्सिंग
4. पीएचडी इन नर्सिंग

उच्च शिक्षा प्राप्त करने के बाद करिय ऑप्शन बढ़ जाते हैं और चाहें तो पीएचडी कर किसी उच्च शिक्षा के शैक्षिक संस्थान में पढ़ा भी सकते हैं।

यह खबर पढ़ने के लिए धन्यवाद, आप हमसे हमारे टेलीग्राम चैनल पर भी जुड़ सकते हैं।

बीएससी इन नर्सिंग कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस और टॉप कॉलेज

डिप्लोइन इन चाइल्ड हेल्थ कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस और टॉप कॉलेज के बारे में

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Nursing is considered to be the most important course in the paramedical sector. Students who wish to do nursing can do diploma in this course in addition to degree. If we talk about the importance of nurses, let us tell you that after doctors, nurses are given the most importance. Students who wish to pursue Diploma in Nursing can pursue this course after class 12th. To do this course, the student must have a science stream. Diploma in Nursing is a 3 years course by which you can work in any government and private hospital.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X