साइबर सिक्योरिटी में है करियर की कई संभावनाएं

टेक्नोलॉजी के बढ़ने से आज लगभग हर फिल्ड में कंप्यूटर और इंटरनेट का इस्तेमाल किया जा रहा है. आज ऐसा समय आ गया है कि इंटरनेट और कंप्यूटर पर हमारी लगातार निर्भरता बढ़ती जा रही है। हालांकि जैसे-जैसे हमारी जिंदगी में इंटरनेट की दखल बढ़ती जा रही है वैसे-वैसे ही साइबर क्राइम की रफ्तार भी बढ़ रही है। जिस वजह से इस फिल्ड में साइबर सिक्योरिटी और साइबर लॉ जानने वाले पेशेवरों की मांग बढ़ गई है।

 

क्या है साइबर क्राइम-

इंटरनेट का गलत तरीके से इस्तेमाल करके किसी को नुकसान पहुंचाना या इंटरनेट के माध्यम से होने वाले अपराधों को साइबर क्राइम कहा जाता है। इसके लिए दुनिया के हर देश में साइबर स्पेस का अलग कानून बनाया गया है जिसका मकसद है इंटरनेट के माध्यम से होने वाले हाइटेक अपराधों पर लगाम लगाई जा सके। साइबर क्राइम के अंतर्गत ब्लैकमेलिंग, स्टॉकिंग, कॉपीराइट, क्रेडिट कार्ड चोरी, फ्रॉड, पोर्नोग्राफी आदि आते है इसके अलावा इंटरनेट के माध्यम से किए जाने वाले सभी अपराधों को साइबर क्राइम माना गया है।

साइबर सिक्योरिटी में करियर

 

करियर विकल्प-

जैसे-जैसे लोगों की कंप्यूटर और इंटरनेट पर निर्भरता बढ़ती जा रही है वैसे-वैसे साइबर क्राइम भी बढ़ते जा रहे है। साइबर क्राइम के बढ़ने से इस क्षेत्र में ऐसे विशेषज्ञों की मांग बढ़ गई है जो साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट है और जिन्हें साइबर लॉ की नॉलेज है। आपको बता दें कि कानून और पुलिस साइबर अपराधों को रोक पाने में नाकाम रही है जिस वजह से इस फिल्ड में एक्सपर्ट के लिए बहुत संभानाएं उत्पन्न हुई है। इस फिल्ड में उन लोगों की खासी डिमांड बढ़ गई है जो लोग साइबर की हाइटेक टेक्नोलॉजी से वाकिफ होते है।

ऐसे ली जा सकती है इस फिल्ड में एंट्री-

अगर आप भी इस फिल्ड में काम करना चाहते है तो आप 12वीं पास करने के बाद इसके किसी भी कोर्स में एडमिशन ले सकते है। जिन लोगों ने पहले से ही कानून की डिग्री ले रखी है उन लोगों के लिए एक बेहतरीन फिल्ड साबित हो सकती है। साइबर से संबंधित कोर्स करने के लिए आपका किसी भी स्ट्रीम में 12वीं या ग्रेजुएशन पास होना जरूरी है। हमारे देश में ऐसे कई कोर्स उपलब्ध है जो किए जा सकते है।

साइबर सिक्योरिटी में करियर

यहां से कर सकते है कोर्स-

-सिम्बायोसिस सोसायटी लॉ कॉलेज, पुणे

-आसियान स्कूल ऑफ साइबर लॉ, पुणे

-सेंटर ऑफ डिस्टेंस एजुकेशन, हैदराबाद

-इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, इलाहाबाद

-साइबर लॉ कॉलेज, नावी

-अमेटी लॉ स्कूल, दिल्ली

-डिपार्टमेंट ऑफ लॉ, दिल्ली यूनिवर्सिटी

करियर ऑप्शंस-

अगर आप साइबर लॉ से जुड़ा कोई कोर्स करना चाहते है तो इस फिल्ड में करियर ऑप्शंस की कमी नही है। आप इन क्षेत्रों में अपना करियर बना सकते है-

रिसर्च- अगर आप चाहते है कि इस फिल्ड में जाकर रिसर्च करें तो आप देश की कई यूनिवर्सिटी में जाकर एक रिसर्चर के रूप में काम कर सकते है। इसके अलावा लॉ-फर्म्स, मल्टीनेशनल कंपनियां, गवर्नमेंट डिपार्टमेंट आदि में काम कर सकते है। इसके अलावा आप चाहे तो किसी विदेशी यूनिवर्सिटी में जाकर भी रिसर्चर के रूप में काम कर सकते है यहां पर आपको स्कॉलरशिप भी मिल सकती है।

ट्रेनिंग के क्षेत्र में-

साइबर सिक्योरिटी में आपको ट्रेनर के तौर पर भी अच्छी जॉब मिल सकती है इनमें बड़ी कंपनियां, पुलिस डिपार्टमेंट, सरकारी संस्थाएं, कॉर्पोरेट हाउस आदि आते है जिनमें आपको एक ट्रेनर के रूप में काम मिल सकता है। इसके अलावा आप चाहे किसी इंस्टीट्यूट में फैकल्टी मेंबर के तौर पर भी काम कर सकते है।

लॉ के क्षेत्र में-

आप साइबर लॉ से जुड़े विशेषज्ञ वकील बनकर भी इस फिल्ड में अच्छा करियर बना सकते है।

इतनी मिलेगी सैलरी-

आज साइबर सिक्योरिटी तेजी से उभरता हुआ करियर विकल्प है। इस क्षेत्र में आपको काफी अच्छी सैलरी मिल सकती है। शुरूआती तौर पर आप 15 से 20 हजार रूपये प्रतिमाह आसानी से कमा सकते है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Causes of harm to anyone by using the internet wrongly or through the Internet is called cyber crime. For this, a separate law of cyber space has been made in every country of the world, which aims to curb high tech crime through the Internet. Increasing cyber crime has increased the demand for cyber security and cyber law professionals in this field. In today's time cyber security can be a great career.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X