कक्षा 12वीं के बाद बीटेक इन पॉलीमर इंजीनियरिंग कोर्स कैसे करें, जानिए कॉलेज, फीस, जॉब और वेतन

इंजीनियरिंग में हर साल कोई न कोई नया कोर्स जुड़ रहा है। पारंमपरिक कोर्स सबसे अधिक प्रसिद्ध कोर्स है लेकिन इसमें जुड़ते हुए नए कोर्स भी कम नहीं है। इंजीनियरिंग में जुड़ रहे कोर्स इस क्षेत्र में छात्रों के लिए रोजगार के अवसर बढ़ा रहे है। जो छात्र पॉलीमर के क्षेत्र में कार्य करने की इच्छा रखते हैं वह इंजीनियरिंग में पॉलीमर इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर सकते हैं। जिसमें प्रोडक्ट की गुणवत्ता और उत्पादन के बारे में जानकारी दी जाती है इसके साथ इस कोर्स में छात्रों को प्लास्टिक, रेजिन, रबर और फाइबर जैसी चीजों का ज्ञान दिया जाता है। आइए आपको कोर्स के बारे में अन्य जानकारी दें।

 

बीटेक इन पॉलीमर इंजीनियरिंग कोर्स 4 साल का अंडरग्रेजुएट प्रोग्राम है जिसे सेमेस्टर सिस्टम के माध्यम से 8 सेमेस्टर में बांटा गया है। कोर्स को भारत के टॉप संस्थानों द्वारा ऑफर किया जाता है कोर्स की फीस 15 हजार से 4 लाख रुपये तक जा सकती है। कोर्स पूरा कर छात्र सालाना 5 से 15 लाख रुपये तक कमा सकते हैं, इसके अलावा वह उच्च शिक्षा भी प्राप्त कर सकते हैं और एमटेक और पीएचडी कोर्स कर सकते हैं। आइए कोर्स की योग्यता, कॉलेज और करिय स्कोप के बारे में आपको जानकारी दें।

कक्षा 12वीं के बाद बीटेक इन पॉलीमर इंजीनियरिंग कोर्स कैसे करें, जानिए कॉलेज, फीस, जॉब और वेतन

बीटेक इन पॉलीमर इंजीनियरिंग : योग्यता

 

- मान्यता प्राप्त बोर्ड से साइंस स्ट्रीम में कक्षा 12वीं पास छात्र कोर्स के लिए आवेदन कर सकता है।
- 12वीं की परीक्षा देने वाला छात्र या परीक्षा के रिजल्ट का इंतजार कर रहा छात्र कोर्स के लिए आवेदन करने योग्य है।
- प्रवेश के लिए छात्रों को कक्षा 12वीं में कम से कम 55 प्रतिशत अंक चाहिए और जेईई की परीक्षा के माध्यम से प्रवेश के लिए 75 प्रतिशत अंकों की आवश्यकता है।
- साइंस स्ट्रीम में छात्रों को कोर विषय यानी पीसीएम के विषयों के साथ अंग्रेजी भाषा का ज्ञान भी आवश्यक है।
- इंजीनियरिंग में डिप्लोमा कोर्स करने वाले छात्र भी कोर्स में प्रवेश के लिए आवेदन कर सकते हैं साथ ही उन्हें कम से कम 50 प्रतिशत अंक प्राप्त करने अनिवार्य है।

आपको बता दें की में प्रवेश छात्र मेरिट और प्रवेश परीक्षा के माध्यम से कर सकते हैं।

मेरिट के आधार पर प्रवेश कट ऑप के आधार पर होता है जिसे कक्षा 12वीं के अंकों के आधार पर बनाया जाता है। वहीं मेरिट के आधार पर प्रवेश के लिए छात्रों को आयोजित होने वाली परीक्षाओं में अच्छा प्रदर्नश करना होता है और उसकी रैंक के अनुसार छात्रों को संस्थान में प्रवेश दिया जाता है।

बीटेक इन पॉलीमर इंजीनियरिंग : प्रवेश परीक्षा

1. जेईई मेंस (JEE Mains)
2. जेईई एडवांस (JEE Advance)
3. डब्ल्यूबीजेईई (WBJEE)
4. वीआईटीईईई (VITEEE)
5. एसआरएमजेईई (SRMJEE)
6. केईएएम (KEAM)

बीटेक इन पॉलीमर इंजीनियरिंग : सिलेबस

4 साल की अवधि वासे इक कोर्स को सेमेस्टर सिस्टमें के तहत 8 सेमेस्टर में बांटा गया है जिसका सिलेबस कुछ इस प्रकार है-

सेमेस्टर 1
• द प्लास्टिक इंडस्ट्री
• पॉलीमर प्रोसेसिंग सर्वे लेक्चर एंड लैब
• प्लास्टिक एंड इलास्टमर्स फ्लोर
• पॉलीमर टेस्टिंग लैब
• इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी एंड सोसाइटी
• ह्यूमैनिटीज/ आर्ट्स/ फॉरेन लैंग्वेज / अप्लाइड आर्ट/ सोशल साइंस/ इंटरनेशनल फील्ड एक्सपीरियंस इलेक्टिव

सेमेस्टर 2
• सस्टेनेबल मैटेरियल
• कंपोजिशन नैनो-कंपोजिट
• जनरल केमिस्ट्री 1
• कॉलेज अलजेब्रा एंड ट्रिगोनोमेट्री
• इंग्लिश कंपोजिशन 1

सेमेस्टर 3
• एक्सटेंशन
• ब्लो मोल्डिंग
• मैन्युफैक्चरिंग प्रोसेस एंड टूल मेकिंग सर्वे
• टेक्निकल एंड प्रोफेशनल कम्युनिकेशन
• कॉलेज, अलजेब्रा एंड ट्रिगोनोमेट्री,

सेमेस्टर 4
• टूलिंग मेंटेनेंस
• इंजेक्शन मोल्डिंग
• रोटेशनल मोल्डिंग
• थरमोफॉर्मिं
• क्वालिटी प्रिंसिपल
• कैलकुलस/ अप्लाइड कैलकुलस 1

सेमेस्टर 5
• एडवांस एक्सटॉर्शन
• मैकेनिक्ल प्रॉपर्टीज एंड टेस्टिंग
• पॉलीमर सिंथेसिस एंड फॉर्मूलेशन
• पॉलीमर सिंथेसिस लैब
• प्लास्टिक फॉर्मूलेशन लैब
• फंडामेंटल ऑफ स्पीच
• कल्चरल डायवर्सिटी, इलेक्टिव

सेमेस्टर 6
• एडवांस ब्लो मोल्डिंग
• प्लास्टिक आर्ट डिजाइन
• सीआईएम एंड ऑटोमेशन एंड प्लास्टिक प्रोसेसिंग
• प्रोजेक्ट मैनेजमेंट एंड कैपस्टोन प्लानिंग
• फिजिक्स / केमिस्ट्री

सेमेस्टर 7
• एडवांस इंजेक्शन मोल्डिंग
• मोल्ड एंड डाई डिजाइन
• डिजाइनिंग मोल्ड एंड डाई
• प्लास्टिक इंजीनियरिंग टेक्नोलॉजी - सीनियर प्रोजेक्ट
• द प्रिंसिपल ऑफ माइक्रोनॉमिक्स
• इलेक्टिव पेपर (आर्ट)

सेमेस्टर 8
• एडवांस थर्मोफॉर्मिंग एंड रोटेशनल मोल्डिंग
• मोल्डफ्लो
• इंजीनियरिंग एथिक्स एंड लीगल इश्यूज
• ह्यूमैनिटीज इलेक्टिव
• ओपन इलेक्टिव

बीटेक इन पॉलीमर इंजीनियरिंग : कॉलेज और फीस

  1. एमआईटी वर्ल्ड पीस यूनिवर्सिटी, पुणे 3,10,000 रुपये
  2. कोचीन विज्ञान और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, कोच्चि - 14,565 रुपये
  3. एमआईटी, पुणे - 3,10,000 रुपये
  4. महात्मा गांधी इंजीनियरिंग विश्वविद्यालय, थोडुपुझा INR 47,800 रुपये
  5. चंडीगढ़ विश्वविद्यालय, चंडीगढ़ - 1,60,000 रुपये
  6. ऑरोरा ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस, हैदराबाद - 37,400 रुपये
  7. तोलानी समुद्री संस्थान, पुणे। - 5,60,405 रुपये
  8. जैन विश्वविद्यालय, बंगलौर - 1,97,500 रुपये
  9. न्यू होराइजन कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, बैंगलोर - 2,50,000 रुपये
  10. पारुल विश्वविद्यालय, वडोदरा - 1,00,000 रुपये
  11. गीतम विश्वविद्यालय, विशाखापत्तनम - 2,22,200 रुपये
  12. इंजीनियरिंग और प्रबंधन विश्वविद्यालय, कोलकाता - 1,61,200 रुपये
  13. प्रौद्योगिकी और प्रबंधन के सेंट एंड्रयूज संस्थान, गुड़गांव - 92,000 रुपये
  14. बेनेट विश्वविद्यालय, ग्रेटर नोएडा - 3,50,000 रुपये
  15. सिक्किम मणिपाल प्रौद्योगिकी संस्थान, पूर्वी सिक्किम - 2,60,000 रुपये
  16. भारती विद्यापीठ डीम्ड विश्वविद्यालय, पुणे - 120,000 रुपये
  17. बजबज प्रौद्योगिकी संस्थान, कोलकाता - 114,650 रुपये

बीटेक इन पॉलीमर इंजीनियरिंग : विदेश के टॉप कॉलेज

  1. मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (MIT) - 37,89,700 रुपये
  2. स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी - 37,47,600 रुपये
  3. कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय - 29,77,300 रुपये रुपये
  4. ETH ज्यूरिख - स्विस फेडरल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी - 22,56,000 रुपये
  5. नानयांग टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी, सिंगापुर (NTU) - 35,67,800 रुपये
  6. ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय - 32,05,000 रुपये
  7. कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय, बर्कले (UCB) - 28,66,800 रुपये
  8. इंपीरियल कॉलेज लंदन - 26,80,200 रुपये
  9. नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ सिंगापुर (NUS) - 30,70,600 रुपये
  10. सिंघुआ विश्वविद्यालय - 21,50,000 रुपये
  11. हार्वर्ड विश्वविद्यालय - 36,81,500 रुपये
  12. ईपीएफएल, लॉज़ेन - 20,40,800 रुपये
  13. जॉर्जिया प्रौद्योगिकी संस्थान - 21,97,000 रुपये
  14. कैलिफोर्निया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (कैल्टेक) - 37,22,700 रुपये

बीटेक इन पॉलीमर इंजीनियरिंग : जॉब प्रोफाइल और वेतन

• सर्विस मेंटेनेंस इंजीनियर
• प्रोडक्ट डेवलपमेंट एग्जीक्यूटिव
• एनवायरनमेंट ऑफिसर
• टेक्नीशियन
• क्वालिटी कंट्रोल एग्जीक्यूटिव
• मेंटेनेंस इंजीनियर

इन पदों पर कार्य कर छात्र 5 से 15 लाख रुपये कमा सकते हैं।

बीटेक इन पॉलीमर इंजीनियरिंग : भर्तीकर्ता

1. पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय
2. ओएनजीसी
3. एशियन पेंट्स
4. लैंक्सेस
5. एसआरएफ लिमिटेड
6. गुजरात फ्लोरोकेमिकल्स
7. रिलायंस इंडस्ट्रीज

यह खबर पढ़ने के लिए धन्यवाद, आप हमसे हमारे टेलीग्राम चैनल पर भी जुड़ सकते हैं।

रोबोटिक्स इंजीनियरिंग बीटेक कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस, टॉप कॉलेज और करियर स्कोप के बारे

एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग में बीटेक कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस, टॉप कॉलेज और करियर स्कोप के बारे

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
B.Tech in Polymer Engineering course is a 4 year undergraduate program divided into 8 semesters through the semester system. Students can do this course after class 12th. The course is offered by the top institutes of India, the course fee can go up to Rs 15,000 to Rs 4 lakh. After completing the course, students can earn up to 5 to 15 lakh rupees annually, apart from this, they can also pursue higher education and do MTech and PhD courses.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X