बीटेक इन बायोटेक्नोलॉजी कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस और टॉप कॉलेज

इंजीनियरिंग के क्षेत्र काफि बड़ा क्षेत्र है इस क्षेत्र में छात्रों के लिए कई तरह के कोर्स उपलब्ध है। बस छात्रों का ये जानना जरूरी है कि वह किस विषय में इंजीनियरिंक करें। जिन छात्रों को मेडिसन में कुछ रूची है और साथ इंजीनियरिंग करने की इच्छा भी रखते हैं वह छात्र बीटे इन बायोटेक्नोलॉजी कोर्स कर सकते हैं। छात्रों के लिए ये कोर्स एक अच्छा ऑप्शन साबित हो सकता है। इस कोर्स को छात्र कक्षा 12वीं के बाद कर सकते हैं। इस कोर्स की अच्छी बात ये है कि ये कोर्स फूल टाइम और पार्ट टाइम किया जा सकता है साथ ही में प्रवेश छात्र मेरिट और प्रवेश परीक्षा दोनों के माध्यम से कर सकता है।

 

बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी को शॉर्ट में बीटेक कहा जाता है और बीटेक कोर्स कई स्पेशलाइजड कोर्स में किया जा सकता है। इस कोर्स को करने के बाद छात्रों के पास कई अच्छे और बेहतरीन करियर ऑप्शन होते हैं जिसमें वह साल का 2 से 10 लाख तक आरम से कमा सकते हैं और आप सभी जानते हैं कि अनुभव बढ़ने के साथ-साथ वेतन और पद दोनों बढ़ता है। बीटेक इन बायोटेक्नोलॉजी कोर्स में छात्र को फिजिक्स , केमेस्ट्री, मैथमेटिक्स और इंग्लिश विषय के साथ बायोमेडिकल इंस्ट्रूमेंटेशन, माइक्रोप्रोसेसर एंड माइक्रोकंट्रोलर, इंजीनियरिंग ग्रैफिक्स, और पर्सनालिटी डेवलपमेंट के बारे में भी पढ़ाया जाता। इस विषयों को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि जिसमें छात्र जितना हो सके थ्योरी के साथ प्रैक्टिकल के माध्यम से सिखे ताकि भविष्य में उसके किसी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पड़े। आइए आपको कोर्स से संबंधित अन्य जानकारी दें।

बीटेक इन बायोटेक्नोलॉजी कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस और टॉप कॉलेज

बीटेक इन बायोटेक्नोलॉजी : प्रकार

 

बैचलर इन बायोटेक्नोलॉजी कोर्स छात्र दो प्रकार से कर सकते हैं, फूल टाइम कोर्स और पार्ट टाइम कोर्स। फूल टाइम और पार्ट टाइम कोर्स दोनों की अवधि 4 साल की है। बस फर्क इतना है कि पार्ट टाइम कोर्स मुख्य रूप से वह छात्र करते हैं जो नौकरी कर रहे होते हैं और अपनी पढ़ाई भी पूरी करने की इच्छा रखते हैं उन छात्रों के लिए इस कोर्स को पार्ट टाइम में भी ऑफर किया जाता है। फूल टाइम कोर्स अन्य कोर्स की तरह है जिसमें सुबह से क्लास का आयोजन किया जाता है। फूल टाइम कोर्स में छात्र पूरी तरह से कोर्स के विषय से संबंधित ज्ञान प्राप्त कर पाते हैं जिसमें उन्हें उनके आने वाले भविष्य के लिए प्रैक्टिक और थ्योरी दोनों के माध्यम से तैयार किया जाता है।

बीटेक इन बायोटेक्नोलॉजी : योग्यता

- किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से कक्षा 12वीं साइंस स्ट्रीम में पास छात्र या कक्षा 12वीं के फाइनल परीक्षा देने वाला छात्र कोर्स के लिए आवेदन कर सकता है।
- साइंस स्ट्रीम में मुख्य विषय के तौर पर फिजिक्स, केमेस्ट्री, बायोलॉजी और मैथमेटिक्स के साथ अंग्रेजी पढ़ा होना आवश्यक है।
- कक्षा 12वीं में कम से कम 75 प्रतिशत अंक प्राप्त होने चाहिए।
- छात्र की न्यूनतम आयु 17 साल तक की होनी चाहिए।
- इंजनीयरिंग कोर्स के लिए होने वाले मुख्य प्रवेश परीक्षा देना अनिवार्य है।

पार्ट टाइम कोर्स की योग्यता

- बीटेक इन बायोटेक्नोलॉजी कोर्स को पार्ट टाइम करने के लिए छात्रों को किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से कक्षा 12वीं पास करनी होगी।
- छात्र का साइंस स्ट्रीम से होना अनिवार्य है।
- कक्षा 12वीं में छात्र के कम से कम 55 प्रतिशत अंक होने आवश्यक है।

बीटेक इन बायोटेक्नोलॉजी : प्रेवश

बैचलर इन बायोटेक्नोलॉजी कोर्स में छात्र दो तरह से प्रवेश ले सकता है एक मेरिट बेस पर और एक प्रवेश परीक्षा के माध्यम से।

मेरिट बेस पर प्रवेश लेने के लिए छात्र के कक्षा 12वीं में अच्छे अंक होने चाहिए। क्योंकि मेरिट बेस पर प्रवेश संस्थान कक्षा 12वीं में प्राप्त अंकों के आधार पर दिए जाते हैं। भारत के कुछ संस्थान मेरिट बेस पर प्रवेश देते हैं उन कॉलेज की लिस्ट लेख में नीचे दी गई है। डायरेक्ट यानी मेरिट बेस पे प्रवेश लेने के लिए छात्रों को ऑनलाइन आवेदन कर अपने आवश्यक दस्तावेज अपलोड कर सबमिट करने होंगे। उनके द्वारा 12वीं में प्राप्त अंकों के अनुसार संस्थान द्वारा प्रवेश के लिए चुने गए छात्रों की लिस्ट निकाली जाएगी।

प्रवेश परीक्षा के आधार पर प्रवेश लेने के छात्रों के इंजीनियरिंग कोर्स में प्रवेश देने के लिए आयोजित होने वाली प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन करना होगा। भारत के टॉप इंजीनिरिंग संस्थानों में प्रवेश की प्रक्रिया केवल प्रवेश परीक्षा के माध्यम से होती है। जिसमें सबसे अधिक मुख्य परीक्षा जेईई मेंस और जेईई एडवांस है।

प्रवेश परीक्षा में छात्रों के प्रदर्शन के अनुसार छात्रों को रैंक किया जाता है। परीक्षा में प्राप्त रैंक के आधार पर काउंसलिंग प्रक्रिया शुरू की जाती है और उसके अनुसार छात्रों को कॉलेज अलॉट किया जाता है।

बीटेक इन बायोटेक्नोलॉजी : भारत के टॉप कॉलेज

  1. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली
  2. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, खड़गपुर
  3. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, रुड़की
  4. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, गुवाहाटी
  5. राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, राउरकेला
  6. राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, वारंगल
  7. राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, कालीकट
  8. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मंडी
  9. दिल्ली तकनीकी विश्वविद्यालय
  10. मोतीलाल नेहरू राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, इलाहाबाद

बीटेक इन बायोटेक्नोलॉजी : विदेश के टॉप कॉलेज

1. मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एमआईटी) संयुक्त राज्य अमेरिका
2. स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी यू.एस
3. ईटीएच ज्यूरिख - स्विस फेडरल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी स्विट्जरलैंड
4. कैंब्रिज यूनाइटेड किंगडम विश्वविद्यालय
5. कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय, बर्कले (यूसीबी) यू.एस
6. नानयांग टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी (NTU) सिंगापुर
7. ऑक्सफोर्ड यूके विश्वविद्यालय
8. इंपीरियल कॉलेज लंदन यूके
9. राष्ट्रीय विश्वविद्यालय (NUS) सिंगापुर
10. सिंघुआ विश्वविद्यालय चीन

बीटेक इन बायोटेक्नोलॉजी : भारत के डायरेक्ट प्रवेश कॉलेज

1. बीएमएस कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, बैंगलोर INR 3-5LPA
2. क्रिसेंट स्कूल ऑफ लाइफ साइंसेज (बी.एस.अब्दुर रहमान विश्वविद्यालय) INR 1.5 लाख - 6 एलपीए
3. राजलक्ष्मी इंजीनियरिंग कॉलेज INR 4LPA
4. पीएसजी कॉलेज ऑफ टेक्नोलॉजी - पीएसजीसीटी आईएनआर 2 एलपीए
5. महिलाओं के लिए विवेकानंद कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग INR 2 LPA
6. कुमारगुरु कॉलेज ऑफ टेक्नोलॉजी - केसीटी आईएनआर 2 एलपीए

बीटेक इन बायोटेक्नोलॉजी : विदेश के डायरेक्ट प्रवेश कॉलेज

हार्वर्ड विश्वविद्यालय 37,19,475
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय 52,07,265
कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय 31,98,748
ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय 29,75,580

बीटेक इन बायोटेक्नोलॉजी : भारत के पार्ट टाइम कॉलेज

जीसीटी कोयम्बटूर 9,495
डॉ एमजीआर शैक्षिक एवं अनुसंधान संस्थान 55,000
एसआईटी दार्जिलिंग 3,93,000
यूईसी उज्जैन -
PMIST तंजावुर 44,000
IIMT यूनिवर्सिटी मेरठ 86,000
जीसीई सलेम 8,950
एसआरएम इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी चेन्नई 65,000

बीटेक इन बायोटेक्नोलॉजी : सिलेबस

बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी कोर्स 4 साल का कोर्स है। इस कोर्स को 8 सेमेस्टर में बांटा गया है ताकि छात्रों के लिए इसे थोड़ा आसान बनाया जा सके। सेमेस्टर में बंटे हुए इस कोर्स का सिलेबस कुछ इस प्रकार है।

सेमेस्टर 1
इंग्लिश
फिजिक्स
केमेस्ट्री
मैथमेटिक्स 1
इंजीनियरिंग मैकेनिक्स
पर्सनैलिटी डेवलपमेंट 1
इलेक्टिव - एनसीसी, एनएसएस, एनएसओ एंड योगा
फिजिक्स लैब
केमिस्ट्री लैब
इंजीनियरिंग ग्रैफिक्स
वर्कशॉप प्रैक्टिस

सेमेस्टर 2
वैल्यू एजुकेशन
प्रिंसिपल ऑफ एनवायर्नमेंटल साइंस
इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेज
बेसिक ऑफ सी प्रोग्रामिंग
मैथमेटिक्स 2
पर्सनैलिटी डेवलपमेंट 2
कंप्यूटर लैब
वर्कशॉप प्राइस
इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस लैब
इलेक्ट्रिकल मशीन लैब
मटेरियल साइंस

सेमेस्टर 3
जर्मन और जैपनीज और फ्रेंच लैंग्वेज 1
मैथमेटिक्स 3
फ्लूएड मैकेनिक
बेसिक बायोकेमिस्ट्री
डिजिटल सिस्टम
सर्किट एंड नेटवर्क
पर्सनैलिटी डेवलपमेंट 3
इलेक्ट्रिक एंड इलेक्ट्रॉनिक सर्किट लैब
फ्लूएड मैकेनिक लैब
डिजिटल सिस्टम लैब

सेमेस्टर 4
जर्मन और जैपनीज ऑफ फ्रेंच लैंग्वेज 2
प्रोबेबिलिटी एंड रेंडम प्रोसेस
सेंसर एंड मेजरिंग टेक्निक
बेसिक ह्यूमन एनाटॉमी एंड फिजियोलॉजी
लिनियर इंटीग्रेटेड सर्किट्स
बायो एनिलिटिकल टेक्निक्स
सिग्नल एंड सिस्टम्स
बायोकेमिस्ट्री लैब
लिनियर इंटीग्रेटेड सर्किट्स लैब
सेंसर एंड मेजरमेंट लैब

सेमेस्टर 5
इंजीनियरिंग इकोनॉमिक्स एंड मैनेजमेंट
कंट्रोल सिस्टम
प्रिंसिपल ऑफ कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग
इंट्रोडक्शन टू मेडिकल फिजिक्स
माइक्रोप्रोसेसर एंड माइक्रोकंट्रोलर
बायोमेडिकल इंस्ट्रूमेंटेशन
पर्सनालिटी डेवलपमेंट 4
बायोमेडिकल इंस्ट्रूमेंटेशन लैब
इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग 1
माइक्रोप्रोसेसर एंड माइक्रोकंट्रोलर लैब
कंप्रेंशन 1

सेमेस्टर 6
मेडिकल इमेज टेक्निक्स
बायो-सिगनल प्रोसेसिंग 1
बेसिक पैथोलॉजी एंड बेसिक माइक्रोबायोलॉजी
बायोमैटेरियल्स एंड आर्टिफिशियल ऑर्गेंस
डायग्नोस्टिक अल्ट्रासाऊंड इन मेडिसिन
इलेक्टिव 1
बायो-सिगनल प्रोसेसिंग लैब
पैथोलॉजी एंड माइक्रोबायोलॉजी लैब
कंप्रीहेंशन 2
पर्सनैलिटी डेवलपमेंट 5
कंप्यूटर स्किल्स

सेमेस्टर 7
मेडिकल इमेज प्रोसेसिंग
डायग्नोस्टिक एंड थैरेपीयूटिक इक्विपमेंट्स
वर्चुअल इंस्ट्रूमेंटेशन
इलेक्ट्रिक 2 इलेक्ट्रिक 3
मेडिकल इमेज प्रोसेसिंग लैब
वर्चुअल इंस्ट्रूमेंटेशन लैब
इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग 2

सेमेस्टर 8
इलेक्टिव 4
इलेक्टिव 5
प्रोजेक्ट वर्क
एडवांस बायो केमिस्ट्री बायो-सिगनल प्रोसेसिंग
इलेक्टिव 6
एडवांस मेडिकल फिजिक्स

बीटेक इन बायोटेक्नोलॉजी : जॉब प्रोफाइल और वेतन

क्लिनिकल रिसर्च - 3.5 लाख सालाना
फार्मेसिस्ट - 3 से 4 लाख सालाना
प्रोफेशनल लैब टेक्नीशियन - 3 लाख सालाना
मेडिकल राइटिंग एग्जीक्यूटिव - 8 लाख सालाना
मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव - 2 लाख सालाना
माइक्रोबायोलॉजिस्ट - 3 लाख सालाना
प्रोडक्शन मैनेजर - 7 से 8 लाख सालाना

बीटेक इन बायोटेक्नोलॉजी : टॉप भर्तीकर्ता

सिप्ला
डॉ. रेड्डीज
रैनबैक्सी
वृक
जाइडस
ग्लेनमार्क
अरबिंदो
एबट
बायोकॉन
पिरामल समूह
रासी बीज
वॉकहार्ट
इंडियन इम्यूनोलॉजिकल्स लिमिटेड (आईआईएल)
ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन फार्मास्युटिकल्स लिमिटेड
सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया लिमिटेड
शांता बायोटेक्निक्स लिमिटेड
रामबाण बायोटेक
ब्रेनवेव बायोटेक्नोलॉजी लिमिटेड
महिको मोनसेंटो बायोटेक
एवेंटिस
भारत बायोटेक
वेंकटेश्वर हैचरी
भारतीय इम्यूनोलॉजिकल
नोवो नॉर्डिस्क

बीटेक इन एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस और टॉप कॉलेज

बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग इन मैकेनिकल इंजीनियरिंग कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस और टॉप कॉलेज

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Bachelor of Technology in Biotechnology course is a course of 4 years duration, this course can be done after 12th. In the course, along with Physics, Chemistry, Mathematics and English subjects, the student is also taught about Biomedical Instrumentation, Microprocessor and Microcontroller, Engineering Graphics, and Personality Development. After completing the course, students can easily earn 2 to 10 lakhs a year by doing a job.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X