12वीं के बाद बैचलर ऑफ फार्मसी- बी फार्मा में करियर (Career in Bachelor of Pharmacy- BPharma After 12th)

By Kshama Awasthi

एक अच्छा करियर बनाने के लिए शिक्षा सबसे महत्वपूर्ण है। छात्र अक्सर ही इस दुविधा में रहते हैं की कौनसा कोर्स उनके लिए अच्छा है या वह क्या करना चाहते हैं। ऐसे कई छात्र होते है जो नहीं जानते है की उनकों क्या करना है। करियर की बात करें तो आपके पास ढेरों विकल्प मौजूद हैं, उसमें से एक विकल्प बैचलर ऑफ फार्मसी- बी फार्मा (BPharma) का भी है। यह कोर्स चार वर्ष का है। चार वर्ष के इस कोर्स को सेमेस्टर सिस्टम के तहत 8 सेमेस्टर में बांटा गया है। इस कोर्स में अच्छा स्कोप है। कोर्स को करने के बाद शुरुआत में वेतन कम रहता है, लेकिन जैसे जैसे आपका अनुभव बढ़ता जाता है वैसे वैसे आपके वेतन में भी बढ़ोतरी होती है। यह कोर्स प्रोफेशनल कोर्स की लिस्ट में आता हैं। इस कोर्स को करने के बाद आप हर महीने लाखों रुपये भी कमा सकते हैं। तो आईए कोर्स से जुड़ी और अन्य जानकारी आपके साथ साझा करें।

 
12वीं के बाद बैचलर ऑफ फार्मसी में करियर (Career in Bachelor of Pharmacy- BPharma After 12th)

बी फार्मा

यह एक 4 साल का स्नातक (ग्रेजुएशन) डिग्री कोर्स है, जिसे 12वीं के बाद किया जाता है। इस कोर्स में आपको दवा के निर्माण और किस बीमारी में कौन सी दवाई लेना चाहिए, इसके बारे में सिखाया जाता है। बी. फार्मा फार्मास्यूटिकल इंडस्ट्री से संबंधित है, जिसमें दवाइयों को विभिन्न मेडिकल स्टोरों, डिस्ट्रीब्यूटर्स और थोक विक्रेताओं तक वितरित किया जाता है।

बी फार्मसी कोर्स में फार्मास्यूटिकल केमिस्ट्री, बॉयोलॉजी, फिजियोलॉजी, बायोकेमिस्ट्री की पढ़ाई करनी होती है। इस कोर्स की विदेशों में काफी मांग है। यह कोर्स करने के बाद आप एक अच्छी नौकरी प्राप्त कर सकते है और चाहे तो अपना भी मेडिकल स्टोर खोल सकते हैं।

बी फार्मा के लिए योग्यता

कोर्स में प्रवेश के लिए आपको 12वीं कक्षा में भौतिक, रसायन और बायोलॉजी विषय के साथ उत्तीर्ण होना चाहिए।
12वीं की परीक्षा में आपके 50 प्रतिशत अंक होने चाहिए।
वह छात्र जिन्होंने फार्मेसी में डिप्लोमा किया है, वे भी यह कोर्स कर सकते है।
पाठ्यक्रम में प्रवेश लेने के लिए आपकी न्यूनतम आयु 17 वर्ष होनी चाहिए।

 

प्रवेश परीक्षा के तौर पर ले कॉलेज में दाखिला
बी. फार्मा आप दो तरीके से कर सकते हैं, पहले आप प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन ले सकते हैं, दूसरा अगर आप किसी अच्छे सरकारी कॉलेज से बी फार्मेसी करना चाहते है तो इसके लिए आपको प्रवेश परीक्षा देनी होगी, जिसमें प्राप्त अंकों के आधार पर ही आपको कॉलेज में एडमिशन मिलता है।

बैचलर ऑफ़ फार्मेसी में एडमिशन लेने के लिए देनी होती हैं यह प्रवेश परीक्षाएं

बीआईटीएसएटी : बिड़ला इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी एंड साइंस एडमिशन टेस्ट।

डब्ल्यूबी जेईई : वेस्ट बंगाल जॉइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन।

ईएएमसीईटी : इंजीनियरिंग एग्रीकल्चर एंड मेडिकल कॉमन एंट्रेंस टेस्ट।

इसके अलावा अगर आप बिना एंट्रेंस एग्जाम दिए बी. फार्मा करना चाहते है, तो आप डायरेक्ट भी किसी अच्छे प्राइवेट कॉलेज में प्रवेश ले सकते है।

बी. फार्मा कोर्स फीस

कोर्स फीस की बात करें तो बी फार्मेसी फीस कॉलेज पर भी निर्भर करती है की आप किस कॉलेज से यह कोर्स कर रहे है। अगर आप यह कोर्स प्राइवेट कॉलेज से कर रहे हैं, तो इस कोर्स की फीस 40,000 से 1 लाख रुपए तक वार्षिक हो सकती है। इसके अलावा अगर आप सरकारी कॉलेजों में प्रवेश लेना चाहते हैं, तो आपको एंट्रेंस पेपर देना होता है, जहां आपको अच्छे मार्क्स के साथ पास होना जरूरी है। सरकारी कालेज की फीस प्राइवेट के अनुसार कई गुना कम होती है।

बी. फार्मा की अवधि

यह चार साल का अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है, जिसे 8 सेमेस्टर में बांटा गया है। यह पाठ्यक्रम पूरा करने के बाद ग्रेजुएट्स को 'बैचलर ऑफ फार्मेसी' की डिग्री प्राप्त होगी। इन सब्जेक्ट के आधार पर आपको 4 साल तक पढ़ाई करनी होती है।

फार्मास्युटिकल विश्लेषण
उपचारात्मक गणितीय जीवविज्ञान
फार्माकोग्नॉसी
फार्मास्युटिकल रसायन शास्त्र
बुनियादी इलेक्ट्रॉनिक्स और कंप्यूटर अनुप्रयोग
उन्नत गणित
एनाटॉमी, फिजियोलॉजी और स्वास्थ्य शिक्षा
फार्मास्युटिकल माइक्रोबायोलॉजी
सामान्य रोगों का पैथोफिज़ियोलॉजी
फार्मास्युटिकल न्यायशास्त्र और नैतिकता

भारत के शीर्ष बी फार्मा कॉलेज

यूनिवर्सिटी इंस्टिट्यूट ऑफ़ फार्मास्यूटिकल साइंसेस, चंडीगढ़
गुरु गोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी, न्यू दिल्ली
पूना कॉलेज ऑफ़ फार्मेसी, पुणे
एलएम कॉलेज ऑफ़ फार्मेसी, अहमदाबाद
इंस्टिट्यूट ऑफ़ केमिकल टेक्नोलॉजी, मुंबई
एएल अमिन कॉलेज ऑफ़ फ़ार्मेसी, बैंगलोर
मद्रास मेडिकल कॉलेज, चेन्नई
गोवा कॉलेज ऑफ़ फार्मेसी, गोवा
महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी, रोहतक

बी. फार्मा करने के बाद खुलेंगे यह विकल्प

यदि आप यह कोर्स कर लेते है तो आपके पास करियर बनाने के कई विकल्प मौजूद रहते हैं। जिसमें से आप अपनी इच्छा अनुसार विकल्प का चयन कर सकते है।
दवा बनाने वाली कंपनी में नौकरी के अवसर होते है वहां आप नौकरी कर सकते है।
अपना खुद का मेडिकल स्टोर खोल सकते हैं।
हेल्थ सेंटर में कार्य।
सरकारी और गैर सरकारी संस्थान में कर सकते हैं जॉब।
रिसर्च एजेंसी में कार्य कर सकते है।
फार्मासिस्ट के रूप में किसी कॉलेज में कार्यरत हो सकते है।

कोर्स के बाद वेतन

बी. फार्मेसी का वेतन अनुभव और जगह पर निर्भर करता है, लेकिन शुरुआती सैलरी की बात करे तो यह 25,000 रुपये तक होती है और यह कोर्स करने के बाद आप किस फील्ड में कार्य कर रहे है इस पर भी इसकी सैलरी निर्भर करती है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
B.Pharma is a 4 year undergraduate course. It's a professional course for students to opt after 12th. B.Pharma have many career option stored for students after completing this course.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X