12वीं के बाद बीएससी इन मेडिकल स्टडीज में करियर (Career in Bsc in Medical Studies After 12th)

जिन छात्रों ने 12वीं कक्षा साइंस स्ट्रीम के साथ पास की है। उनमें अक्सर ये कंफ्यूजन देखने को मिलती है कि अब उन्हें आगे मेडिकल की पढ़ाई किस कोर्स से करनी है। 12वीं कक्षा पास करने के बाद कुछ छात्र NEET एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी में जुट जाते हैं तो कुछ छात्र ग्रेजुशन में एडमिशन लेने के लिए एप्लाई करना शुरु कर देते हैं।

 

तो चलिए आज के इस आर्टिकल में हम आपको ग्रेजुशन करने के लिए बीएससी मेडिकल कोर्स से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी प्रदान करते हैं। बीएससी मेडिकल कोर्स के कॉप कॉलेज कौन से है, उनकी फीस क्या है, इस कोर्स को करने के बाद नौकरी के क्या विकल्प है आदि।

12वीं के बाद बीएससी इन मेडिकल स्टडीज में करियर

बीएससी मेडिकल कोर्स क्या है?

बीएससी यानि की बेचलर इन मेडिकल साइंस इस कोर्स में मानव स्वास्थ्य और मानव जीव विज्ञान से संबंधित विषय पढ़ाए जाते हैं। बीएससी मेडिकल तीन साल की अवधि का कोर्स है। जिसे करने के बाद हॉस्पिटल, क्लीनिकों, सरकारी एजेंसियों, साइंस रिसर्च सेंटर और शैक्षणिक संस्थानों जैसे स्वास्थ्य के क्षेत्रों में नौकरी के लिए विकल्प खुल जाते हैं।

 

बीएससी मेडिकल के लिए एलिजिबिलिटी

बीएससी मेडिकल कोर्स की एडमिशन प्रोसेस किसी भी अन्य साइंस कोर्स के समान ही है। फिजिक्स, बॉयोलोजी और केमेस्ट्री के साथ सभी साइंस स्ट्रीम के कोर्स में एडमिशन लेने के लिए छात्रों को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा में 50% अंकों के साथ पास होना अनिवार्य है। साथ ही इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए उम्मीदवार की आयु 18 से 25 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

बीएससी मेडिकल कोर्स के लिए एडमिशन प्रोसेस

बीएससी मेडिकल के लिए एडमिशन प्रोसेस और एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया विभिन्न विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में बहुत भिन्न होता हैं। जैसे कि दिल्ली यूनिवर्सिटी बीएससी मेडिकल कोर्स में एडमिशन के लिए कट-ऑफ जारी करती है ऐसी ही कुछ यूनिवर्सिटी इस कोर्स में एडमिशन देने के लिए एंट्रेंस एग्जाम आयोजित करती है। बीएससी मेडिकल में कैसे ले एडमिशन, इसे समझने के लिए नीचे कुछ चरण दिए गए हैं।

आवेदन कैसे करें?
इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए उम्मीदवारों को वेब पर उल्लिखित आधिकारिक वेबसाइटों से ऑनलाइन आवेदन करना होगा और निर्देशों का पालन करना होगा। ऑनलाइन फॉर्म भरते समय महत्वपूर्ण दस्तावेज अपने साथ रखें और मांगी गई जानकारी सही से भरें। जबकि एडमिशन लेने का दूसरा तरीका ये है कि आप परिसर में जाकर स्वयं आवेदन करें, और आवश्यक दस्तावेज हाथ से जमा करें।

चयन प्रक्रिया
एंट्रेंस एग्जाम पूरा होने के बाद, आरक्षण के तरीके से अंकों को अलग किया जाता है, और उसके बाद ही प्रवेश के लिए अंतिम परिणाम निकलते हैं।

बीएससी मेडिकल के लिए प्रमुख एंट्रेंस टेस्ट

बीएससी मेडिकल के बारे में लोकप्रिय प्रवेश परीक्षाएं भारत के अत्यधिक प्रतिष्ठित परीक्षा बोर्ड, कॉलेजों और विश्वविद्यालयों से होती हैं। दुनिया भर के उम्मीदवारों को इन प्रवेश परीक्षाओं में बैठने की अनुमति है, और यह सभी युवा उम्मीदवारों के लिए खुला है।
भारत के प्रमुख बीएससी मेडिकल एंट्रेंस टेस्ट के नाम का उल्लेख नीचे किया गया है:
• NEST
• IIT JAM
• JEST
• UPCATET
• CG PET

बीएससी मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम के फॉर्मेट पर एक नजर

• बीएससी मेडिकल एंट्रेंस टेस्ट पूरी तरह से विज्ञान से संबंधित विषयों पर आधारित है।
• इस टेस्ट को पूरा करने के लिए उम्मीदवारों को 4 घंटे का समय दिया जाता है।
• जिसमें की ओबजेक्टिव टाइप के प्रश्न पूछे जाते हैं।
• एंट्रेंस टेस्ट का मोड ऑनलाइन या सामान्य ऑफलाइन दोनो प्रकार का हो सकता है।

बीएससी मेडिकल कोर्स में पढाए जाने वाले प्रमुख विषय

बीएससी मेडिकल 3 साल की अवधि का एक ग्रेज्युशन लेवल का कोर्स है जो कि मानव स्वास्थ्य से संबंधित प्रमुख विज्ञान विषयों पर केंद्रित है। इस विशेष कोर्स में एडमिशन लेने वाले छात्रों को कक्षा 12वीं में सभी विज्ञान विषयों का अध्ययन करना चाहिए।
• जैव उपकरण
• जैव सामग्री
• जैव यांत्रिकी
• चिकित्सीय इमेजिंग
• जनन विज्ञानं अभियांत्रिकी
• आर्थोपेडिक होम्योपैथी सर्जरी
• सेलुलर और ऊतक इंजीनियरिंग

बीएससी मेडिकल कोर्स करने के बाद हायर स्टडीज का स्कोप

बीएससी मेडिकल का कोर्स पूरा करने के बाद उम्मीदवार अपनी हायर स्टडीज के लिए क्या कर सकते हैं? बीएससी मेडिकल में ग्रेजुशन करने के बाद छात्र हायर स्टडीज के लिए एप्लाई कर सकते हैं जिसके बाद उनके लिए हाई सैलरी पैकेज के साथ अन्य नौकरी के अवसर भी खुल जाते हैं।

बीएससी मेडिकल उम्मीदवारों के लिए हायर स्टडीज के लिए विकल्प निम्न हैं
• एमबीबीएस
• बीडीएस
• बीएएमएस
• बीयूएमएस
• बीएचएमएस

भारत में टॉप बीएससी मेडिकल कॉलेज की सूची

1. एम्स, दिल्ली
2. जेएसएस मेडिकल कॉलेज, मैसूर
3. गोवा मेडिकल कॉलेज, पणजी
4. गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, चंडीगढ़
5. यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ मेडिकल साइंस, दिल्ली
6. लोकमान्य तिलक नगर मेडिकल कॉलेज, मुंबई
7. मद्रास मेडिकल कॉलेज, चेन्नई
8. बीजे गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, पुणे
9. दयानंद मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, लुधियाना
10. सेंट जेवियर्स कॉलेज, अहमदाबाद

बीएससी मेडिकल कोर्स करने के बाद करियर स्कोप

बीएससी मेडिकल कोर्स पूरा करने के बाद छात्रों के लिए मेडिकल इंडस्ट्री में बहुत से विकल्प खुल जाते हैं, और इच्छुक उम्मीदवार सरकारी और प्राइवेट क्षेत्र में अपनी रुचि के अनुसार और नौकरी के दायरे के आधार पर आवेदन कर सकते हैं।
सरकारी क्षेत्र में नौकरी के अवसर निम्न प्रकार के हैं:
• सरकारी हॉस्पिटल
• भारतीय सेना
• रिसर्च इंडस्ट्री
• लैबोरेट्री
• एआईएचएस
• गवर्नमेंट कार्डिएक सेंटर
प्राइवेट क्षेत्र में नौकरी के अवसर निम्न प्रकार के हैं:
• प्राइवेट हॉस्पिटल
• प्राइवेट लैब्स
• टेरुमो इंडिया प्राइवेट लिमिटेड
• मेडट्रॉनिक
• लिवानोवा
• सीमेंस बायोमेडिकल्स
• अपोलो कार्डिएक सेंटर

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
B.Sc i.e. Bachelor in Medical Science, subjects related to human health and human biology are taught in this course. B.Sc Medical is a course of three years duration. After doing this, options open up for jobs in health sectors like hospitals, clinics, government agencies, science research centers and educational institutions.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X