बीए ज्योतिष में करियर (Career in BA Astrology After 12th)

बैचलर ऑफ आर्ट्स- बीए ज्योतिष (एस्ट्रोलॉजी) कोर्स तीन साल का अंडरग्रेजुएट कोर्स है छात्र इस कोर्स को कक्षा 12वीं के बाद कर सकते हैं। इस कोर्स में प्रवेश के लिए छात्रों को किसी विशिष्ट स्ट्राम से बोना जरूरी नहीं है कक्षा 12वीं में किसी भी स्ट्रीम से पढ़ने वाली छात्र इस कोर्स में प्रवेश के लिए आवेदन कर सकता है। ज्योतिष विद्या में दिलचस्पी रखने वाले छात्रों के लिए ये एक बेहतरीन कोर्स है। बीए ज्योतिष में छात्रों को कास्टिंग ऑफ हॉरोस्कोप, फंडामेंटल्स ऑफ एस्ट्रोलॉजी , सिक्स सिस्टम्स इंडियन फिलासफी, वास्तु शास्त्र, न्यूमैरोलॉजी पल्मीस्ट्री, जेमोलॉजिस्ट और पंचांग आदि का गहन अध्ययन करवाया जाता है। इस कोर्स को 6 सेमेस्टर में बांट के छात्रों के लिए आसान बनाने का प्रयत्न किया गया है। छात्र कोर्स पूरा करने के बाद उच्च शिक्षा के लिए जा सकते है उसी के साथ वह नौकरी के लिए भी आवेदन कर सकते हैं। बीए ज्योतिष कोर्स के काफी अच्छे स्कोप है जिसके बारे में आप इस लेख में नीचे पढ़ेंगे। इस कोर्स की फीस संस्थान आधारित होती है जो कि 5 हजार से शुरू होकर 20 बजार तक हो सकती है। कोर्स पूरा कर आप साल का 3 लाख से 9 लाख तक आराम से कमा सकते हैं। इस कोर्स से जुड़ी अधिक जानकारी हम आपके साथ इस लेख के माध्यम से साझा कर रहें। जिसमें कॉलेज के नाम से लेकर उसकी फीस और कोर्स पूरा करने के बाद आपके पास किस तरहा के करियर ऑप्शन है तक की सारी जानकरी मिल जाएगी।

 
बीए ज्योतिष में करियर (Career in BA Astrology After 12th)

बीए ज्योतिष (एस्ट्रोलॉजी) कोर्स प्रवेश प्रक्रिया

बीए ज्योतिष कोर्स में छात्र दो तरह से प्रवेश ले सकता है। कुछ संस्थान प्रवेशके लिए मेरिट लिस्ट जारी करते हैं तो कुछ संस्थान प्रवेश प्रक्रिया के आधार पर् कोर्स में प्रवेश देते हैं।

मेरिट लिस्ट के आधार पर् प्रवेस छात्रों के कक्षा 12वीं के अंकों पर आधारित होता है। संस्खान या कॉलेज कोर्स की एक कट ऑफ लिस्ट जारी करते हैं। जिसके आधार पर छात्र संस्थान में प्रवेश ले सकते हैं ये लिस्ट छात्रों के 12वीं परीक्षा के अंकों के आधार पर बनाई जाती है। मेरिट के आधार प्र प्रवेश लेने के लिए छात्रों को कक्षा 12वीं में अच्छे अंकों की आवश्यकता है।

प्रवेश परीक्षा

कई संस्थान ऐसे होते हैं जो परीक्षा का आयोजम कर छात्रों को अपने संस्थान में प्रवेश देते हैं। वहीं कई संस्थान कोर्स के लिए आए आवेदनों के आधार पर प्रवेश परीक्षा का आयोजन और इंटरव्यू राउंड का आयोजन करते हैं। कोर्स में प्रवेश लेने के लिए छात्रों को आयोजित प्रवेश परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन करना होता है। परीक्षा में उसके प्रदर्शन के आधार पर छात्रों को कोर्स में प्रवेश दिया जाता है।

बीए ज्योतिष (एस्ट्रोलॉजी) एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया

सभी कोर्स का अपना अलग-अलग कोर्स क्राइटेरिया होता है। जिसके मुताबिक कोर्स में प्रवेश की प्रक्रिया पूरी की जाती है। उसी प्रकार बीए एस्ट्रोलाॉली का यानी ज्योतिष कोर्स की भी कोर्स योग्यता है जिसके आधार पर छात्र कोर्स में प्रवेश लेते हैं। बीए ज्योतिष कोर्स की योग्यता कुछ इस प्रकार है।

किसी भी मान्ता प्राप्त संस्थान से कक्षा 12 वीं पास छात्र इस कोर्स के लिए आवेदन कर सकता है।

छात्र के कक्षा 12वीं में कम से कम 50 प्रतिशत अंक होने अनिवार्य है।

इस कोर्स में किसी भी स्ट्रीम का छात्र प्रवेश ले सकता है।

बीए ज्योतिष (एस्ट्रोलॉजी) कॉलेज के नाम और फीस

सस्त्र विश्वविद्यालय, तंजावुर, तमिलनाडु : 3,400 रुपए
श्री लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय, नई दिल्ली : 2,450 रुपए
संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय, वाराणसी : 34,000 रुपए
कविकुलगुरु कालिदास संस्कृत विश्वविद्यालय, महाराष्ट्र : 21,600 रुपए
भारतीय ज्योतिष संस्थान, कोलकाता : 7,800 रुपए
भारतीय हस्तरेखा संस्थान, ऋषिकेश, उत्तराखंड : INR 18,000 रुपए

बीए एस्ट्रोलॉजी कोर्स पुस्तकों के नाम और ऑथर

हिंदुओं की भविष्यवाणी ज्योतिष : गोपेश क्र. ओझा
ज्योतिष की मूल बातें : एम. रामकृष्ण भाटी
वैदिक ज्योतिष : पी.वी.आर. नरसिम्हा राव
21वीं सदी के लिए ज्योतिष : प्राश त्रिवेदी
टैरो: आत्म-खोज की यात्रा : अनुराधा शारदा

बीए ज्योतिष (एस्ट्रोलॉजी) कोर्स सिलेबस

बीए एस्ट्रोलॉजी तीन साल का अंडरग्रेजुएट कोर्स है। इस कोर्स को छात्रों के लिए आसान बनाने के लिए सेमेस्टर सिस्टम के तहत 6 सेमेस्टर में बांटा गया है। जो कुछ इस प्रकार है।

सेमेस्टर 1

बेसिक ऑफ एस्ट्रोलॉजी
इंग्लिश
कास्टिंग ऑफ हॉरोस्कोप सम मेथड एंड गणिठम

सेमेस्टर 2

फंडामेंटल्स ऑफ एस्ट्रोलॉजी
सिक्स सिस्टम्स इंडियन फिलासफी
मुहूर्त

 

सेमेस्टर 3

संस्कार
वास्तु शास्त्र
न्यूमैरोलॉजी पल्मीस्ट्री, जेमोलॉजिस्ट

सेमेस्टर 4

सारावली
परासरा होरा शास्त्र:

सेमेस्टर 5

केस स्टडी
पंचांग

सेमेस्टर 6

ज्योतिषीय योग
जातक भरण

बीए ज्योतिष कोर्स के बाद करियर स्कोप

ज्योतिष में बीए करने के बाद छात्र उच्च शिक्षा के लिए भी जा सकते हैं और चाहें तो आगे अपना करियर बना सकते हैं नौकरि आदि कर सकते हैं। यदि आप आगे पढने की इच्छा रखते हैं तो आप उच्च शिक्षा के लिए आवेदन कर सकेत हैं। उच्च शिक्षा के लिए जाने की इच्छा रखने वाले छात्र नीचे दिए गए निम्न कोर्स के लिए आवेदन कर सकते हैं। जो इस प्रकार है-

एमए इन ज्योतिष
पीएचडी इन ज्योतिष

मास्टरस इम ज्योतिष और पीएचडी करने के बाद छात्र सराकरी या प्रवाइवेट शिक्षण संस्थान में प्रोफेसर और लेक्चरर के लिए आवेदन कर सकते हैं। एजुकेशन सेक्चर में जा सकते हैं।

इसी के साथ ज्योतिष के क्षेत्र में जॉब ऑप्शन भी अच्छे है। छात्र कोर्स पूरा करने के बाद अपना खुद का ज्योतिष सेंटर आदि खोल सकते है और किसी अन्य कंपनी में भी काम कर सकते हैं। नौकरी में छात्र 24 हजार से 80 हजार रुपए महीना तक कमा सकते हैं।

बीए ज्योतिष के बाद जॉब प्रोफाइल और सैलरी

एस्ट्रोलॉजिस्ट के तौर पर आप साल का 8 लाख 40 हजार तक आराम से कमा सकते हैं।

न्यूमैरोलॉजिस्ट के तौर पर आप साल का 7 लाख 20 हजार तक कमा सकते हैं।

जेमोलॉजिस्ट के तौर पर आप 8 लाख तक सालाना कमा सकते हैं।

पाम रीडर और पल्मीस्ट्री के तौर पर सालाना 8 लाख 40 हजार तक कमया जा सकता है।

टैरो कार्ड रीडर के तौर पर आप साल का 6 लाख आराम से कमा सकते हैं।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
BA astrology is a 3 year undergraduate course student can opt after class 12th. Any stream student can apply for this course. BA astrology has many career option stored for those who have knee interest in astrology.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X