बीटेक इन एनवायरमेंट इंजीनियरिंग कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस, टॉप कॉलेज और करियर स्कोप के बारे में

इंजीनियरिंग में इतने विषय हैं जिसके बारे में कई लोग जानते तक नहीं है। इंजीनियरिंग का क्षेत्र बहुत बड़ा क्षेत्र है जिसमें कई तरह के कोर्स है और इन विषयों में बीटेक की डिग्री प्राप्त कर उम्मीदवार अपने करियर की शुरुआत कर सकते हैं। आज जिस कोर्स के बारे में हम आपको बताएंगे वह है बीटेक इन एनवायरमेंटल इंजीनियरिंग। इस की पढ़ाई कर उम्मीदवार पर्यावरण से संबंधित क्षेत्रों में अपना करियर बना सकते हैं। आइए आपको कोर्स के बारे में विस्तार से जानकारी दें।

 

बीटेक इन एनवायरमेंट इजीनियरिंग कोर्स 4 साल का अंडरग्रेजुएट कोर्स है। इस विषयों मे इंजीनियरिंग ग्रैफिक्स, एनवायरमेंटल स्टडीज, इलेक्ट्रिकल साइंस, वेब डिजाइन, इंजीनियरिंग मैकेनिक्स, मैन्युफैक्चरिंग प्रोसेस, पापुलेशन मेजरमेंट, इंट्रोडक्शन टू प्रोग्रामिंग, एनवायरमेंटल साइंस और माइक्रोबायोलॉजी जैसे कई विषयों की जानकारी दी जाती है। इसके साथ आपको बता दें कि कोर्स में छात्रों को प्रैक्टिकल के माध्यम से भी सिखाया जाता है।

इस कोर्स की फीस की बात करें तो कोर्स की फीस 30 हजार से 1 लाख तक जा सकती है। कोर्स की फीस संस्थान के प्रकार के साथ उसकी रैंकिंग पर भी निर्भर करती है। इसके साथ आपको बता दें कि कोर्स पूरा कर छात्र उच्च शिक्षा के लिए भी जा सकते हैं और चाहें तो वह नौकरी कर साल का 3 से 5 लाख रुपये कमा सकते हैं। जॉब प्रोफाइल और अन्य स्कोप की जानकारी करियर इंडिया के इस लेख में नीचे दी गई है।

 
बीटेक इन एनवायरमेंट इंजीनियरिंग कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस, टॉप कॉलेज और करियर स्कोप के बारे में

एनवायरमेंट इंजीनियर कौन होते हैं?

एनवायरमेंट इंजीनियर वह होते हैं जो प्रदूषण आदि जैसी समस्याओं के लिए नए-नए समाधान खोजते हैं ताकि इससे निपटा जा सकें। इसके अलावा जल प्रबंध, जीवित जीवों के कल्याण और प्राकृतिक जनित रोगों को रोकने के लिए कई चीजों का निर्माण करते हैं और तकनीकों की खोज करते हैं। जो छात्र इस विषय में दिलचस्पी रखते हैं और पर्यावरण के लिए कुछ करना चाहते हैं वह उम्मीदवार इस विषयों में प्रवेश लेकर अपने करियर कि शुरुआत कर सकते हैं। उम्मीदवारों के लिए ये एक अच्छा करियर ऑप्शन है।

बीटेक इन एनवायरमेंट इंजीनियरिंग : योग्यता

- उम्मीदवार को कोर्स में प्रवेश के लिए किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से कक्षा 12वीं साइंस विषय में पास करनी अनिवार्य है। साइंस में छात्रों के पास फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथमेटिक्स विषय की जानकारी होनी चाहिए।
- कोर्स में प्रवेश के लिए छात्रों को कम से कम 60 प्रतिशत अंकों की आवश्यकता है।
- आरक्षित श्रेणी वाले छात्रों को प्रवेश के लिए केवल 45 प्रतिशत अंकों की आवश्यकता है।
- जेईई परीक्षा के माध्यम से प्रवेश लेने वाले छात्रों को प्रवेश के लिए कम से कम 75 प्रतिशत अंकों की आवश्यकता है। एनटीए द्वारा हाल ही में पात्रता मानदंड में बदलाव किए गए हैं। जिसके अनुसार छात्रों को एआईआर के साथ 75 प्रतिशत अंक कक्षा 12वीं में चाहिए होंगे।
- कोर्स में प्रवेश लेने के लिए उम्मीदवारों की न्यूनतम आयु 17 वर्ष और अदिकत 23 वर्ष होनी चाहिए।

बीटेक इन एनवायरमेंटल इंजीनियरिंग : प्रवेश परीक्षा

1. जेईई मेंस
2. जेईई एडवांस

बीटेक इन एनवायरमेंटल इंजीनियरिंग : सिलेबस

प्रथम वर्ष
अप्लाइड मैथमेटिक्स
अप्लाइड फिजिक्स
अप्लाइड फिजिक्स
इंजीनियरिंग केमिस्ट्री
मैन्युफैक्चरिंग प्रोसेस
इंट्रोडक्शन टू कंप्यूटर एंड ऑटो सीएडी
कम्युनिकेशन स्किल्स
इंपैक्ट ऑफ़ साइंस एंड टेक्नोलॉजी एंड सोसायटी

द्वितीय वर्ष
अप्लाइड फिजिक्स लैब
इंजीनियरिंग केमिस्ट्री लैब
इंट्रोडक्शन टू ऑटो सीएडी
ऑफिस ऑटोमेशन एंड वेब डिजाइन
इलेक्ट्रिकल साइंस
इंजीनियरिंग ग्रैफिक्स
एनवायरमेंटल स्टडीज
इंजीनियरिंग मैकेनिक्स
वर्कशॉप प्रैक्टिस

तृतीय वर्ष
एनवायरमेंटल स्टडीज लैब
सी प्रोग्रामिंग लैब
इंजीनियरिंग मैकेनिक्स
इलेक्ट्रिकल साइंस लैब
इंस्ट्रूमेंटल एनालिसिस
एनवायरमेंटल साइंस और माइक्रोबायोलॉजी
मकैनिक्स ऑफ सॉलिड

चौथा वर्ष
वॉटर इंजीनियरिंग
इंट्रोडक्शन टू इलेक्ट्रॉनिक एंड इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग
न्यूमेरिकल मैथर्ड एंड प्रोग्रामिंग
इंस्ट्रूमेंट एनालिसिस एंड पापुलेशन मेजरमेंट
एनवायरमेंटल साइंस एंड बायोकेमिस्ट्री
सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट
अर्थ साइंस , जीआईएस एंड नेचुरल पॉल्यूशन

बीटेक इन एनवायरमेंटल इंजीनियरिंग : टॉप कॉलेज कॉलेज

1. आईआईटी, खड़गपुर
2. सीएच बीपी गवर्नमेंट इंजीनियरिंग कॉलेज, नई दिल्ली
3. श्री जयचामाराजेंद्र कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, मैसूर
4. हिंदुस्तान कॉलेज ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी, मथुरा
5. एल.डी. इंजीनियरिंग कॉलेज, अहमदाबाद
6. डॉ. एस एंड एसएस गांधी गवर्नमेंट इंजीनियरिंग कॉलेज, सूरत

बीटेक इन एनवायरमेंटल इंजीनियरिंग : जॉब प्रोफाइल

  1. एयर क्वालिटी इंजीनियर
  2. असिस्टेंट पॉलिसी स्पेशलिस्ट
  3. एनवायरमेंटल इंजीनियर
  4. फील्ड केमिस्ट
  5. हाइड्रो-जियोलॉजिस्ट
  6. वेस्टलैंड इकोलॉजिस्ट
  7. सेफ्टी डिजाइन मैनेजर
  8. वेस्ट रिसोर्सेज मैनेजर

बीटेक इन एनवायरमेंटल इंजीनियरिंग : स्कोप

कोर्स पूरा कर जो उम्मीदवार नौकरी करने की इच्छा रखते हैं वह नौकरी कर सकते हैं वह ऊपर दिए गए पदों पर कार्य कर वह साल का 3 से 6 लाख रुपये कमा सकते हैं और जो उच्च शिक्षा प्राप्त करने की इच्छा रखते हैं वह उम्मीदवार एमटेक एनवायरमेंटल इंजीनियरिंग कर सकते हैं और संबंधित विषय में डिप्लोमा कोर्स के लिए आवेदन कर सकते हैं इसके अलावा छात्र पीएचडी करके किसी भी सरकारी या प्राइवेट विश्वविद्यालयों में प्रोफेसर के तौर पर कार्य कर साल का 7 से 11 लाख रुपये कमा सकते हैं।

यह खबर पढ़ने के लिए धन्यवाद, आप हमसे हमारे टेलीग्राम चैनल पर भी जुड़ सकते हैं।

एंर्जी इंजीनियरिंग में बीटेक कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस, टॉप कॉलेज और करियर स्कोप के बारे में

बीटेक पावर इलेक्ट्रॉनिक्स कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस, टॉप कॉलेज और करियर स्कोप के बारे में

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
B.Tech in Environment Engineering course is a 4 year undergraduate course. Science stream students of class 12th can do this course. Talking about the fees of this course, the course fees can go from 30 thousand to 1 lakh. B.Tech in Environment Engineering course is a 4 year undergraduate course. In this subjects, engineering graphics, environmental studies, electrical science, and engineering mechanics are taught.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X