एंर्जी इंजीनियरिंग में बीटेक कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस, टॉप कॉलेज और करियर स्कोप के बारे में

कक्षा 12वीं के बाद जो छात्र इंजीनियरिंग के क्षेत्र में अपना करियर बनाने की इच्छा रखते हैं उन्हें बता दें कि इसमें कई तरह के अंडरग्रेजुएट प्रोग्राम होते हैं। जिसमें छात्र प्रवेश ले सकते हैं। इन्ही में से एक कोर्स है एंर्जी इंजीनियरिंग का जिसमें आप बीटेक की डिग्री प्राप्त कर सकते हैं। इस कोर्स में प्रवेश के लिए छात्रों का साइंस स्ट्रीम से होना आवश्यक है। भारत के कई बड़े संस्थान एंर्जी इंजीनियरिंग कोर्स ऑफर करते हैं। संस्थान की जानकारी लेख में नीचे दी गई है।

 

बीटेक एंर्जी इंजीनियरिंग 4 साल का अंडरग्रेजुएट प्रोग्राम है जिसे सेमेस्टर में बांटा गया है। 4 साल के इस कोर्स को छात्रों को 8 सेमेस्टर में पढ़ाया जाता है। प्रत्येक सेमेस्टर 6 महीना को होता है और हर सेमेस्टर के पूरा होने के बाद परीक्षा का आयोजन किया जाता है। इस तरह से छात्रों पर जोर भी नहीं पढ़ता है और वह परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन भी कर पाते हैं।

एंर्जी इंजीनियरिंग के बीटेक प्रोग्राम में छात्रों को इलेक्ट्रिसिटी और मैग्नेटिज्म, कंप्यूटर प्रोग्रामिंग, एनर्जी कन्वर्सेशन, एनवायरमेंटल स्टडीज, इक्विपमेंट्स डिजाइन, एनर्जी रिसोर्सेज, इल्केट्रोकेमिस्ट्री और एंर्जी मैनेजमेंट जैसे निम्न विषयों के बारे में सिखाया और पढ़ाया जाता है। इंजीनियरिंग कोर्स में छात्रों को थ्योरी के साथ प्रैक्टिकल ज्ञान भी दिया जाता है, ताकि आने वाले समय में जब वह नौकरी के लिए जाएं तो उन्हें किसी प्रकार की दिक्कता का सामना न करना पडे़। आइए आपको इस कोर्स की योग्यता, कॉलेज, करियर स्कोप और टॉप भर्तीकर्ता सें संबंधित अन्य जानकारी दें।

 
एंर्जी इंजीनियरिंग में बीटेक कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस, टॉप कॉलेज और करियर स्कोप के बारे में

बीटेक एंर्जी इंजीनियरिंग : योग्यता

- मान्यता प्राप्त संस्थान से कक्षा 12वीं साइंस स्ट्रीम से पास छात्र।
- 12वीं की परीक्षा में शामिल होने वाला या परीक्षा के रिजल्ट का इंचजार कर रहा छात्र भी कोर्स के लिए आवेदन कर सकता है।
- साइंस में मुख्य विषय के रूप में पीसीएम यानी फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथमेटिक्स पढ़ा हुआ होना आवश्यक है।
- न्यूनतम आयु 17 वर्ष और अधिकत आयु 23 वर्ष।
- प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षा अनिवार्य है।

बीटेक एंर्जी इंजीनियरिंग : प्रवेश परीक्षा

1. जेईई मेंस
2. जेईई एडवांस
3. डब्ल्यूबीजेईई
4. एमएचटीसीईटी
5. बीआईटीएसएटी

बीटेक एंर्जी इंजीनियरिंग : कॉलेज और फीस

1. हिंदुस्तान प्रौद्योगिकी और विज्ञान संस्थान - 80,000 से 90,000 रुपये
2. लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी - 75,000 से 90,000 रुपये
3. मणिपाल एकेडमी ऑफ हायर एजुकेशन - 70,000 से 85,000 रुपये
4. नॉर्थईस्टर्न हिल यूनिवर्सिटी - 60,000 से 90,000 रुपये
5. चंडीगढ़ विश्वविद्यालय - 70,000 से 90,000 रुपये
6. रुड़की प्रौद्योगिकी संस्थान - 80,000 से 2,70,000 रुपये

बीटेक एंर्जी इंजीनियरिंग : सिलेबस

सेमेस्टर 1
कंप्यूटर प्रोग्रामिंग 1
केमिस्ट्री
इकोनॉमिक्स
कंप्यूटर प्रोग्रामिंग 2
मॉडर्न फिजिक्स
इलेक्ट्रिसिटी एंड मैग्नेटिज्म
कैलकुलेशन

सेमेस्टर 2
केमिस्ट्री
लिनियर अलजेब्रा एंड ऑर्डिनरी डिफरेंशियल इक्वेशन 1
मॉडर्न फिजिक्स
इलेक्ट्रिसिटी और मैग्नेटिज्म
डाटा एनालिसिस एंड इंटरप्रिटेशन

सेमेस्टर 3
बेसिक इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग
एनवायरमेंटल स्टडीज
थर्मोडायनेमिक्स एंड एनर्जी कन्वर्सेशन

सेमेस्टर 4
पावर इलेक्ट्रॉनिक्स एंड मशीन
इंट्रोडक्शन के न्यूमेरिकल एनालिसिस
मटेरियल साइंस फॉर एनर्जी एप्लीकेशन
इलेक्ट्रॉनिक्स

सेमेस्टर 5
हीट एंड मैस ट्रांसफर
इंट्रोडक्शन टू रिन्यूएबल एनर्जी टेक्नोलॉजी
इक्विपमेंट्स डिजाइन एंड कंट्रोल
फ्ल्यूड एंड मेकैनिज्म

सेमेस्टर 6
इलेक्ट्रिकल एनर्जी सिस्टम
पावर जेनरेशन एंड सिस्टम प्लानिंग
डिपार्टमेंट इलेक्टिव
कंप्बूटेशन इंजीनियरिंग

सेमेस्टर 7
एनर्जी रिसोर्सेज, इकनोमिक एंड एनवायरमेंट
एनर्जी सिस्टम मॉडलिंग एंड एनालिसिस
डिपार्टमेंट इलेक्टिव
डिपार्टमेंट इलेक्टिव

सेमेस्टर 8
इंस्टिट्यूट इलेक्टिव
एंर्जी मैनेजमेंट
डिपार्टमेंट इलेक्टिव
इल्केट्रोकेमिस्ट्री

बीटेक एंर्जी इंजीनियरिंग : जॉब प्रोफाइल और सैलरी

एनर्जी ऑडिटर - 5.50 से 8.50 लाख रुपये सालाना
प्रोग्रामर - 5 लाख रुपये सालाना
फील्ड इंजीनियर - 4 से 5.50 लाख रुपये सालाना
प्रोजेक्ट इंजीनियर - 6 से 7 लाख रुपये सालाना

बीटेक एंर्जी इंजीनियरिंग : भर्तीकर्ता

1. विकास केंद्र और अनुसंधान
2. विद्युत ऊर्जा और बिजली कंपनियां
3. बिजली संयंत्र
4. प्रौद्योगिकी हस्तांतरण कंपनियां
5. ईंधन प्रौद्योगिकी कंपनियां
6. विश्वविद्यालय और कॉलेज

बीटेक एंर्जी इंजीनियरिंग : स्कोप

एंर्जी इंजीनियरिंग में बीटेक की डिग्री प्राप्त करने के बाद छात्र नौकरी के लिए उर्जा (एंर्जी) संबंधिचत कंपनियों में कार्य कर सकते है। छात्र इन कंपनियों में अच्छे पदों पर कार्य कर सालाना 4 से 8 लाख रुपये तक कमा सकते हैं। जैसे-जैसे आपका अनुभव बढ़ेगा वैसे-वैसे आपके वतेन और पद में वृद्धि होगी।

जो छात्र उच्च शिक्षा में डिग्री प्राप्त करने की इच्छा रखते हैं वह बीटेक अपना कोर्स पूरा करने के बाद उच्च शिक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं। कोर्सेस की लिस्ट इस प्रकार है-

- पोस्टग्रेजुएट डिप्लोमा
- एमटेक
- एमबीए
- पीएचडी

यह खबर पढ़ने के लिए धन्यवाद, आप हमसे हमारे टेलीग्राम चैनल पर भी जुड़ सकते हैं।

बीटेक पावर इलेक्ट्रॉनिक्स कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस, टॉप कॉलेज और करियर स्कोप के बारे में

पैट्रोलियम इंजीनियरिंग में बीटेक कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस, टॉप कॉलेज और करियर स्कोप के बारे में

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
B.Tech Energy Engineering is a 4 year undergraduate program divided into semesters. This course can be done after class 12th. After completing the course, students can earn 4 to 10 lakh rupees per annum. Along with theory knowledge, practical knowledge is also given to the students in the course. In the B.Tech program of Energy Engineering, the students are taught and taught about the following topics such as Electricity and Magnetism, Computer Programming, Energy Conversion, Environmental Studies, Equipment's Design, Energy Resources, Electrochemistry and Energy Management.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X