बायोमेडिकल इंजीनियरिंग में बीटेक कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस, टॉप कॉलेज और करियर स्कोप

मेडिकल में जाने की इच्छा के साथ इंजीनियरिंग करने की इच्छा रखने वाले छात्र जो इन दोनों विषयों को लेकर दुविधा में हैं, वह छात्र बायोमेडिकल इंजीनियरिंग कोर्स में बीटेक की डिग्री कर सकते हैं। बीटेक इन बायोमेडिकल इंजीनियरिंग छात्र कक्षा 12वीं के बाद कर सकते हैं इंजीनियरिं में करियर बनाने का सपना देखने वाले छात्रों के लिए ये एक अच्छा ऑप्शन है। इस विषय में प्रवेश केवस प्रवेश परीक्षा के माध्यम से लिया जा सकता है। आपको बता दें की कोर्स में प्रवेश के लिए जो छात्रों जेईई की परीक्षा देने की सोच रहे हैं उन्हें ऑल इंडिया रैंक के अलावा कक्षा 12वीं में भी कम से कम 75 प्रतिशत अंक प्राप्त करने होंगे। हाल ही एनटीए द्वारा प्रवेश पात्रता में बदलाव किए गए हैं।

 

बीटेक इन बायोमेडिकल इंजीनियरिंग 4 साल का कोर्स है, जिसे सेमेस्टर सिस्टम के तहत 8 सेमेस्टर में बांटा गया है। इस कोर्स में छात्रों को थर्मोडायनेमिक्स, मैकेनिक्स, केमेस्ट्री, बायोमेडिकल प्रोसेस, बायो टेक्नोलॉजी, ह्यूमन फिजियोलॉजी, बायोमेडिकल और हॉस्पिटल सेफ्टी एंड मैनेजमेंट संबंधित कई विषयों का ज्ञान दिया जाता है। इस कोर्स को पूरा करने के बाद छात्र नौकरी कर सकते हैं और यदि वह चाहें तो उच्च शिक्षा भी प्राप्त कर सकते हैं। जिसकी पूरी जानकारी लेख में नीचे दी गई है। नौकरी करने की इच्छा रखने वाले कोर्स पूरा कर साल का 2 से 7 लाख रुपये आराम से कमा सकते हैं। आइए कोर्स की फीस, जॉब प्रोफाइल और स्कोप से संबंधित अन्य सूचान आपको दें।

बायोमेडिकल इंजीनियरिंग में बीटेक कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस, टॉप कॉलेज और करियर स्कोप

बीटेक इन बायोमेडिकल इंजीनियरिंग : योग्यता

 

- किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से कक्षा 12वीं साइंस स्ट्रीम का छात्र कोर्स के लिए आवेदन कर सकते हैं।
- साइंस स्ट्रीम में मुख्य विषयों में पीसीएम (फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स) के साथ बायोलॉजी विषय पढ़े हुए आवश्यक है।
- कक्षा 12वीं में छात्रों को कम से कम 75 प्रतिशत अंक होने चाहिए, तभी वह कोर्स में प्रवेश ले सकते हैं।
- कोर्स में प्रवेश के लिए न्यूनतम आयु 17 वर्ष और अधिकतम आयु 23 वर्ष की होनी चाहिए।
- कोर्स में प्रवेश केवल प्रवेश परीक्षा के माध्यम से लिया जा सकता है।

नोट: छात्रों को बात दें कि हाल ही में जारी नई सूचना के अनुसार छात्रों को एआईआई की रैंक के अलावा कक्षा 12वीं में 75 प्रतिशत अंक प्राप्त करना भी आवश्यक है। इससे पहले कोर्स में प्रेवश के लिए छात्रों को कम से कम 50 से 55 प्रतिशत अंकों की आवश्यकता होती थी।

बीटेक इन बायोमेडिकल इंजीनियरिंग : प्रवेश परीक्षा

1. जेईई मेंस
2. जेईई ए़डवांस
3. बीआईटीएसएटी
4. केआईआईटीईईई
5. वीआईटीईईई
6. एसआरएमजेईईई
7. एमएचटी सीईटी

बीटेक इन बायोमेडिकल इंजीनियरिंग : प्रवेश प्रक्रिया

आवेदन प्रक्रिया - कोर्स में प्रवेश के लिए छात्रों को प्रवेश परीक्षा के लिए शुरु की गई आवेदन प्रक्रिया के लिए रजिस्ट्रेशन करना है। रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी करने के बाद छात्रों को आवेदन पत्र में सारी जानकारी भरने के बाद डॉक्यूमेंट्स अपलोड करने है और आवेदन शुल्क का भुगतान करना है।

प्रवेश परीक्षा - संस्थान, राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित होने वाली प्रवेश परीक्षा में छात्रों को शामिल होना है।

रिजल्ट - प्रवेश परीक्षा में छात्र के प्रदर्शन के अनुसार जारी रिजल्ट में छात्रों के अंकों के आधार पर उन्हें रैंक किया जाता है।

काउंसलिंग - रिजल्ट के बाद छात्रों की प्राप्त रैंक के अनुसार काउंसलिंग प्रक्रिया का आयोजन किया जाता है जिसमें छात्रों को सीट अलॉट की जाती है।

डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन - सीट अलॉट होने के बाद छात्रों को अलॉटेड संस्थान में वेरिफिकेशन की प्रक्रिया पूरी कर कोर्स की फीस का भुगतान करना होता है।

बीटेक इन बायोमेडिकल इंजीनियरिंग : सिलेबस

सेमेस्टर 1
इंजीनियरिंग केमेस्ट्री 1
बेसिक ऑफ बायोमेडिकल इंजीनियरिंग
मैथमेटिक्स 1
इंजीनियरिंग मैकेनिक्स
इंजीनियरिंग फिजिक्स 1
बेसिक ऑफ बायोमेडिकल इंजीनियरिंग
प्रैक्टिकल्स

सेमेस्टर 2
इंजीनियरिंग मैकेनिक्स
थर्मोडायनेमिक्स
फिजिकल केमेस्ट्री
मैथमेटिक्स 2
इंजीनियरिंग फिजिक्स 2
मैटेरियल साइंस
वर्कशॉप

सेमेस्टर 3
बायोमेडिकल प्रोसेस इन इंडस्ट्रीज
बायो टेक्नोलॉजी
इलेक्ट्रिक सर्किट
ओपन इलेक्टिव
स्टैटिसटिकल मैथर्ड

सेमेस्टर 4
बायोफ्यूल एंड डायनेमिक
ह्यूमन फिजियोलॉजी एंड एनाटॉमी
इलेक्ट्रॉनिक सर्किट
रेडियोलॉजिकल इक्विपमेंट्स एंड प्रिंसिपल
ओपन इलेक्टिव

सेमेस्टर 5
एप्लीकेशन ऑफ माइक्रोप्रोसेसर
बायोमैकेनिक्स
इंस्ट्रूमेंटेशन ऑफ मेडिकल
ओपन इलेक्टिव

सेमेस्टर 6
बायोमेडिकल एक्सपोर्ट सिस्टम
डायग्नोस्टिक एंड थैरेपीयूटिक इक्विपमेंट्स
बायोमेडिकल इन एंबेडेड
बायोमेडिकल सिगनल प्रोसेसिंग

सेमेस्टर 7
ओपन इलेक्टिव 2
ओपन इलेक्टिव 3
हॉस्पिटल सेफ्टी एंड मैनेजमेंट
प्रोजेक्ट
प्रैक्टिकल पेपर

सेमेस्टर 8
ओपन इलेक्टिव 4
ओपन इलेक्टिव 5
प्रैक्टिकल पेपर
बायोमेडिकल प्रोसेसिंग टेक्नोलॉजी
इंटर्नशिप

बीटेक इन बायोमेडिकल इंजीनियरिंग : स्पेलशलाइजेशन

1. सर्जिकल इंस्ट्रूमेंट एंड मेडिकल डिवाइस इंजीनियरिंग
2. बायोमटेरियल इंजीनियरिंग
3. बायोमैकेनिक इंजीनियरिंग
4. बायोसिगनल प्रोसेस इंजीनियरिंग
5. कंप्यूटेशनल मॉडलिंन
6. टिशु इंजीनियरिंग
7. न्यूरल इंजीनियरिंग
8. टैलीहेल्थ कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग
9. मेडिकल इमेज

बीटेक इन बायोमेडिकल इंजीनियरिंग : टॉप कॉलेज लिस्ट

आईआईटी मद्रास - भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान
आईआईटी दिल्ली - भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान
आईआईटी बॉम्बे - भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान
आईआईटी कानपुर - भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान
आईआईटी खड़गपुर - भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान

बीटेक इन बायोमेडिकल इंजीनियरिंग : कॉलेज और फीस

वीआईटी वेल्लोर - 1,76,000 रुपये
एनआईटी, राउरकेला - 1,78,000 रुपये
थापर इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, पटियाला - 3,24,800 रुपये
एसआरएम इंजीनियरिंग कॉलेज, कांचीपुरम - 2,60,000 रुपये
एमआईटी, उडुपी - 3,35,000 रुपये
सत्यबामा विज्ञान और प्रौद्योगिकी संस्थान, चेन्नई - 1,75,000 रुपये
जेएनटीयू हैदराबाद - 12,500 रुपये
एनआईटी रायपुर - 1,38,000 रुपये
करुणा प्रौद्योगिकी और विज्ञान संस्थान, कोयम्बटूर - 1,88,500 रुपये
बीवीडीयू, पुणे - 1,20,000 रुपये

बीटेक इन बायोमेडिकल इंजीनियरिंग : जॉब प्रोफाइल और सैलरी

  1. बायोमेडिकल इंजीनियर - 3.50 लाख रुपये सालाना
  2. प्रोफेसर - 8 लाख रुपये सालाना
  3. कंटेंट डेवलपर - 4.50 लाख रुपये सालाना
  4. क्लिनिकल रिसर्च - 4 से 5 लाख रुपये सालाना
  5. बायोमेडिकल इंजीनियर - 3 से 7 लाख रुपये सालाना
  6. माइक्रोबायोलॉजिस्ट - 3 से 5 लाख रुपये सालाना
  7. प्रोजेक्ट मैनेजर - 3 से 6 लाख रुपये सालाना
  8. बायोकेमिस्ट्स - 2 से 5 लाख रुपये सालाना
  9. बायोमेडिकल मैनेजर्स - 4 से 6 लाख रुपये सालाना
  10. रिसर्च एनालिस्ट - 3 से 5 लाख रुपये सालाना
  11. बायोमेडिकल टेक्नीशियन - 2 से 5 लाख रुपये सालाना

बीटेक इन बायोमेडिकल इंजीनियरिंग : भर्तीकर्ता

  1. सीमेंस हेल्थकेयर
  2. जीई हेल्थकेयर
  3. मेडट्रॉनिक
  4. जॉनसन एंड जॉनसन
  5. फ्रेसेनियस मेडिकल केयर एजी एंड कंपनी. केजीएए
  6. ड्रेगर
  7. स्ट्राइकर
  8. मैक्वेट
  9. फिलिप्स हेल्थकेयर
  10. सैमसंग हेल्थकेयर
  11. ज़िमर बायोमेट
  12. स्कैनरे हेल्थकेयर
  13. तोशिबा मेडिकल सिस्टम्स
  14. एलेंजर्स मेडिकल सिस्टम्स
  15. ओलंपस मेडिकल
  16. स्मिथ्स मेडिकल

बीटेक इन बायोमेडिकल इंजीनियरिंग : स्कोप

बायोमेडिकल इंजीनयिरिंग में बीटेक कोर्स करने के बाद छात्र किसी भी अच्छे पद पर भारत की बड़ी कंपनियों में कार्य कर साल का 3 से 9 लाख रुपये कमा सकते हैं। भारत के टॉप भर्तीकर्ता और जॉब प्रोफाइल की जानकारी लेख में ऊपर दी गई है। नौकरी के अलावा जो छात्र इस कोर्स के बाद संबंधित विषय में उच्च शिक्षा प्राप्त करना चाहते हैं वह छात्र नीचे दी गई कोर्सेस के लिए आवेदन कर सकते हैं। कोर्स की लिस्ट कुछ इस प्रकार है।

1. पीजी डिप्लोमा इन बायोमेडिकल इंजीनियरिंग
2. मास्टर ऑफ साइंस (एमई) बायोमेडिकल इंजीनियरिंग
3. एमटेक इन बायोमेडिकल इंजीनियरिंग
4. एमफिल (मास्टर करने के बाद)
5. पीएचडी (मास्टर करने के बाद)

बीई इन कंप्यूटर इंजीनियरिंग कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस, टॉप कॉलेज और करियर स्कोप के बारे में

इलेक्टॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग में बीटेक कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस, टॉप कॉलेज और करियर स्कोप

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
B.Tech in Biomedical Engineering is a 4 year course divided into 8 semesters under the semester system. In this course, students are given knowledge of many subjects related to thermodynamics, mechanics, chemistry, biomedical process, biotechnology, human physiology, biomedical and hospital safety and management. After completing this course, students can get a job and if they want, they can also pursue higher education. Whose complete information is given below in the article. Job aspirants can easily earn Rs 2 to 7 lakh per year after completing the course.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X