UP Budget 2021 In Hindi PDF Download: उत्तर प्रदेश बजट 2021 में युवाओं को पढ़ाई के लिए मिली बड़ी सौगात

By Careerindia Hindi Desk

Uttar Pradesh Budget 2021-22 Highlights Key Points In Hindi PDF Download: उत्तर प्रदेश के वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने आज 22 फरवरी 2021 को सुबह 11 बजे यूपी बजट 2021-22 पेश किया। उत्तर प्रदेश का वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए कुल बजट 05 लाख 50 हजार 270 करोड़ 78 लाख रुपए रखा गया है। यूपी की अर्थव्यवस्था को 01 ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। यूपी शिक्षा बजट के लिए 200 करोड़ रुपए आवंटित किए गए। वित्त मंत्री ने उत्तर प्रदेश के हर विभाग में एक विश्वविद्यालय और 26 जिलों में मॉडल कॉलेजों के लिए 200 करोड़ रुपये का बजट रखा है।

 
Uttar Pradesh Budget 2021 22 In Hindi PDF Download Direct Links
UP BUDGET 2021 22 SPEECH IN HINDI PDF Download
UP BUDGET 2021 22 Annual Financial Statement PDF Download
UP BUDGET 2021 22 Memorandum Grant Wise PDF Download
UP BUDGET 2021 22 Schedule of New Demand PDF Download
UP BUDGET 2021 22 Receipt Detail In Hindi PDF Download
UP BUDGET 2021 22 Estimate In Hindi PDF Download
UP BUDGET 2021 22 Khand 6 In Hindi PDF Download

UP Budget 2021 In Hindi PDF Download: उत्तर प्रदेश बजट 2021 में युवाओं को पढ़ाई के लिए मिली बड़ी सौगात

राज्य में अगले साल के शुरू में चुनाव होने से पहले भाजपा सरकार का यह आखिरी बजट है। केंद्रीय बजट 2021-22 की तरह यूपी बजट 2021-22 भी कागज रहित रखा गया है। उत्तर प्रदेश कागज रहित बजट पेश करने वाला देश का पहला राज्य है। आइये जानते हैं यूपी बजट 2021-22 की मुख्य विशेषताएं।

  • 05 लाख 50 हजार 270 करोड़ 78 लाख के आकार का वित्तीय वर्ष 2021-22 बजट उत्तर प्रदेश का समग्र विकास सुनिश्चित करने तथा राज्य की अर्थव्यवस्था को 01 ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।
  • शहरी क्षेत्रों में बेहतर इलाज देने के उद्देश्य से शहरी स्वास्थ्य एवं आरोग्य केन्द्रों हेतु ₹425 करोड़ का बजट प्रस्तावित।
  • प्रदेश में प्राथमिक स्वास्थ्य परिचर्या सुविधाओं के लिए डायग्नोस्टिक बुनियादी ढाँचा सृजित किए जाने हेतु ₹1,073 करोड़ का बजट प्रस्तावित।
  • महिलाओं की चिकित्सा सुविधा सुनिश्चित करने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के लिए ₹320 करोड़ का बजट प्रस्तावित।
  • प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाएं मजबूत करने के उद्देश्य से आयुष्मान भारत-मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना हेतु ₹142 करोड़ का बजट प्रस्तावित।
  • प्रदेशवासियों को निःशुल्क स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के उद्देश्य से आयुष्मान भारत योजना के लिए ₹1,300 करोड़ का बजट प्रस्तावित।
  • प्रदेश के प्रत्येक व्यक्ति को उच्चतम स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करने हेतु राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत ₹5,395 करोड़ की बजट व्यवस्था प्रस्तावित।
  • कोविड-19 की रोकथाम एवं प्रदेश की जनता को कोरोना महामारी से सुरक्षित रखने हेतु टीकाकरण योजना के लिए ₹50 करोड़ की बजट व्यवस्था प्रस्तावित।
  • विद्यार्थियों को बेहतर सुविधाएं प्रदान करने हेतु अटल आवासीय विद्यालय के लिए ₹270 करोड़ की बजट व्यवस्था प्रस्तावित।
  • प्रदेश के हर व्यक्ति को सुलभ चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने हेतु 'मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना' प्रारम्भ। इस हेतु ₹100 करोड़ की बजट व्यवस्था प्रस्तावित।
  • पल्लेदारों, श्रमिक परिवारों तथा असंगठित क्षेत्र के कर्मकारों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान किए जाने हेतु 'मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना' प्रारम्भ। इस हेतु ₹12 करोड़ की बजट व्यवस्था प्रस्तावित।
  • कोरोना महामारी के लॉकडाउन में विभिन्न प्रदेशों से वापस आए प्रदेश के श्रमिकों व कामगारों को रोजगार व स्वरोजगार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से 'मुख्यमंत्री प्रवासी श्रमिक उद्यमिता विकास योजना' लाई जा रही है। इस योजना हेतु ₹100 करोड़ की बजट व्यवस्था प्रस्तावित।
  • युवा अधिवक्ताओं के लिए पुस्तक एवं पत्रिका आदि के क्रय करने हेतु ₹10 करोड़ की बजट की व्यवस्था प्रस्तावित की गई है।
  • प्रदेश के विभिन्न जनपदों में अधिवक्ता चैम्बर का निर्माण एवं उनमें अन्य अवस्थापना सुविधाओं के विकास हेतु ₹20 करोड़ की धनराशि की व्यवस्था प्रस्तावित।
  • युवा अधिवक्ताओं को आर्थिक सहायता प्रदान किए जाने हेतु कॉर्पस फंड में ₹05 करोड़ की धनराशि की व्यवस्था प्रस्तावित।
  • पश्चिमी उत्तर प्रदेश में खेलों को बढ़ावा देने हेतु जनपद मेरठ में नए स्पोर्ट्स विश्वविद्यालय की स्थापना हेतु ₹20 करोड़ का बजट प्रस्तावित।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में युवा फिटनेस को बढ़ावा देने हेतु ग्रामीण स्टेडियम एवं ओपन जिम के निर्माण हेतु ₹25 करोड़ की बजट व्यवस्था प्रस्तावित है।
  • प्रदेश में खेलों को बढ़ावा देने हेतु सरकार सतत प्रयासरत है। इसके लिए युवा खेल विकास एवं प्रोत्साहन योजना हेतु ₹8.55 करोड़ की व्यवस्था प्रस्तावित।
  • उत्तर प्रदेश के 12 अन्य जनपदों में मॉडल कैरियर सेंटर स्थापित किए जाने की योजना प्रस्तावित है। इससे बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार से जोड़ने में मदद मिलेगी।
  • युवाओं के उत्थान हेतु मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2021-22 में पात्र छात्रों को टैबलेट उपलब्ध कराया जाएगा। संस्कृत विद्यालयों में अध्ययनरत निर्धन छात्रों को गुरुकुल पद्धत्ति के अनुरूप निःशुल्क छात्रावास व भोजन की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।
  • महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए प्रदेश सरकार राज्य में #MissionShakti का संचालन कर रही है। इसी क्रम में महिला शक्ति केंद्रों की स्थापना के लिए बजट में ₹32 करोड़ की धनराशि प्रस्तावित की गई है।
  • प्रदेश के बच्चों के सर्वांगीण शारीरिक विकास सुनिश्चित करने के उद्देश्य से संचालित पुष्टाहार कार्यक्रम के लिए वित्तीय वर्ष 2021-22 में ₹4,094 करोड़ की धनराशि प्रस्तावित की गई है। राष्ट्रीय पोषण अभियान हेतु ₹415 करोड़ की धनराशि का प्रावधान किया गया है।
  • महिलाओं का आर्थिक स्वावलंबन सुनिश्चित करने के लिए वित्तीय वर्ष 2021-22 से महिला सामर्थ्य योजना का संचालन किया जाएगा। इस नई योजना के लिए ₹200 करोड़ की धनराशि प्रस्तावित की गई है।
  • महिलाओं एवं बच्चों में कुपोषण की समस्या के निदान हेतु मुख्यमंत्री सक्षम सुपोषण योजना वित्तीय वर्ष 2021-22 से क्रियान्वित की जाएगी। इस योजना हेतु बजट में ₹100 करोड़ की व्यवस्था की गई है।
  • राज्य की महिलाओं के उत्थान के लिए समर्पित उत्तर प्रदेश सरकार ने वित्तीय वर्ष 2021-22 में मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना को और परिष्कृत कर लागू करने का निर्णय लिया है।
  • ग्रामीण भू-स्‍वामियों को स्‍थायी व निरंतर आय का स्रोत प्रदान करने हेतु प्रधानमंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा एवं उत्थान महाभियान के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2021-22 में 15,000 सोलर पंप की स्थापना का लक्ष्य रखा गया है।
  • किसानों को रियायती दरों पर फसली ऋण उपलब्ध कराए जाने के लिए अनुदान हेतु ₹400 करोड़ की धनराशि प्रस्तावित है।
  • वित्तीय वर्ष 2021-22 में प्रदेश के किसानों को मुफ्त पानी की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए ₹700 करोड़ का प्रावधान किया गया है।
  • प्रदेश के किसानों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से प्रारंभ की गई मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना के अंतर्गत ₹600 करोड़ की धनराशि प्रस्तावित की गई है।
  • प्रदेश सरकार राज्य के किसानों की आय को दोगुना करने के लिए कृतसंकल्पित है। इसी क्रम में वित्तीय वर्ष 2021-22 से आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना संचालित की जाएगी। इस योजना के क्रियान्वयन हेतु ₹100 करोड़ का प्रावधान किया गया है।
  • सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ समाज के सभी वर्गों तक पहुंचाने के लिए वित्तीय वर्ष 2021-22 के बजट में ₹27 हजार 598 करोड़ 40 लाख की नई विकास योजनाओं को सम्मिलित किया गया है।
  • वित्तीय बजट 2021-22 में विधान मंडल क्षेत्रों के विकास कार्यों के लिए मंडल क्षेत्र विकास निधि हेतु ₹2,000 करोड़ की धनराशि प्रस्तावित की गई है।

UP BUDGET 2021 22 SPEECH IN HINDI PDF Download

 

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Uttar Pradesh Budget 2021-22 Highlights Key Points in Hindi PDF Download: Uttar Pradesh Finance Minister Suresh Kumar Khanna presented UP Budget 2021-22 at 11 am today on 22 February 2021. The total budget for Uttar Pradesh's financial year 2021-22 has been kept at 05 lakh 50 thousand 270 crore 78 lakh rupees. An important step towards making UP's economy a $ 1 trillion economy. 200 crores allocated for UP education budget. The Finance Minister has set a budget of Rs 200 crore for a university in every department of Uttar Pradesh and model colleges in 26 districts.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X