Coronavirus India: आईआईटी रुड़की ने स्वास्थ्य कर्मियों के लिए बनाई 45 रुपए की फेस शील्ड

By Careerindia Hindi Desk

Coronavirus India: आईआईटी रुड़की के शोधकर्ताओं ने एम्स ऋषिकेश में कोरोनावायरस (Coronavirus) कोविड -19 के मरीजों का इलाज कर रहे स्वास्थ्य कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए कम लागत वाली फेस शील्चेड बनाई है। इन फेस शील्ड को बनाने के लिए 3डी प्रिंटर का उपयोग किया गया है। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) रुड़की में शोधकर्ताओं द्वारा बनाए गए फेस शील्ड की लागत मात्र 45 रुपए है। प्रत्येक शीट की लागत सिर्फ 5 रुपये है और बड़े पैमाने पर विनिर्माण क्षेत्र की ढालें ​​25 रुपये में आएंगी।

Coronavirus India: आईआईटी रुड़की ने स्वास्थ्य कर्मियों के लिए बनाई 45 रुपए की फेस शील्ड

 

एम्स ऋषिकेश के प्रोफ़ेसर रविकांत ने कहा कि मैं फ्रंटलाइन हेल्थकेयर कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए फेस शील्ड्स के विकास के लिए एक सराहनीय काम के लिए आईआईटी रुड़की को बधाई देना चाहूंगा। मुझे विश्वास है कि ये फेस शील्ड न केवल हमारे देश के मेडिकल हेल्थ वर्कर्स के लिए बल्कि पूरे देश के लिए बेहद काम आएंगे।

Coronavirus Tips: गूगल ने डूडल बनाकर बताए कोरोनावायरस से बचाव के टिप्स

आईआईटी रुड़की के कम लागत वाले फेस शील्ड में 3 डी प्रिंटेड फ्रेम है। फेस शील्ड का फ्रेम 3डी प्रिंटेड है और वार्ड इसका इस्तेमाल कोरोनावायरस कोविड ​​-19 के मरीजों की देखभाल कर रहे हेल्थकेयर कर्मियों बेहद जरूरी है, जो सुरक्षा गार्ड का काम करेगी।

कोविड -19 स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को बचाने के लिए फेस शील्ड कैसे विकसित की गई ?

फेस शील्ड को 'रिहिंक' पर विकसित किया गया है! टिंकरिंग लैब ', आईआईटी रुड़की में सभी छात्रों के लिए एक तकनीकी सुविधा है। टिंकरिंग लैब छात्रों को कुछ बेहतरीन करने के लिए एक मंच प्रदान करता है और उनके बीच सरल भावना पैदा करता है। यह नवाचार, प्रयोग, कल्पना और बहुत कुछ को बढ़ावा देता है। आईआईटी रुड़की के टिंकरिंग लेबोरेटरी के समन्वयक, अक्षय द्विवेदी ने कहा, "यह चेहरा ढाल उन सभी स्वास्थ्य सेवा पेशेवरों के लिए हमारा विनम्र धन्यवाद है जो मानव जाति के लिए अपना काम कर रहे हैं।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Coronavirus India: Researchers at IIT Roorkee have created a low-cost face shield to protect health workers treating Kovid-19 patients at AIIMS Rishikesh. 3D printers have been used to create these face shields. The cost of a face shield made by researchers at the Indian Institute of Technology (IIT) Roorkee is just Rs 45.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X