Republic Day 2023: 26 जनवरी पर होगी कड़ी राष्ट्र सुरक्षा, जानें खास बातें

Republic Day 2023: गणतंत्र दिवस की तैयारी जोरो पर है। राजपथ पर मार्च-पास्ट की तैयारी और रिहर्सल शुरू की जा चुकी है। गणतंत्र दिवस के समय पर दिल्ली में भारी सुरक्षा के इंतजाम किए जाते हैं। लेकिन इस साल सुरक्षा और बढ़ा दी गई है। दरअसल हाल ही में सुरक्षा एंजेंसी की द्वारा प्राप्त एक खुफिया रिपोर्ट के माध्य्म से खबर सामने आई है, जिसके अनुसार गणतंत्र दिवस पर दिल्ली से लेकर पंजाब तक में एक बड़े आतंकवादी हमले की आशंका जताई जा रही है। इसके अलावा कई अन्य राज्यो में आतंकी हमले की जानकारी प्राप्त हुई है।

 

इतना ही नहीं दिल्ली पुलिस के सेप्शल सेन ऑफिसर द्वारा दी जानकारी के अनुसार कुछ लोगों को एक अज्ञात ई-मेल प्राप्त हुआ था जिसे आतंकवादी संगठन तहरीक-ए-तालिबान का बताया जा रहा है। जिसको लेकर उत्तर प्रदेश पुलिस को सूचित किया गया था। लगातार आ रही इस प्रकार की खबरों के कारण दिल्ली में सुरक्षा और कठी कर दी गई है और पुलिस कर्मियों और आर्मी ऑफिसर के साथ मिलकर सुराक्ष और बढ़ा दी गई है। फिलहाल ई-मेल भेजने वाले को ट्रैक किया जा रहा है ताकि और जानकारी प्राप्त की जा सकें।

Republic Day 2023: 26 जनवरी पर होगी कड़ी राष्ट्र सुरक्षा, जानें खास बातें

सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए हावाई वाहनों पर लगी रोक

 

लगातार आ रही आतंकवादी हमले की जानकारी के कारण और गणतंत्र दिवस की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए दिल्ली के पुलिस आयुक्त संडय अरोड़ा ने 15 फरवरी तक पैरा-ग्लाइडर, पैरा-मोटर, हैंग-ग्लाइडर, यूएवी, यूएएस, माइक्रोलाइट विमान, दूर से संचालित विमान, गर्म हवा के गुब्बारे, छोटे आकार के संचालित विमान जैसे हवाई वाहनों के उड़ने पर रोक लगाने के आदेश जारी कर दिए हैं। साथ ही पिछले साल की ट्रक्टर आंदोलन की घटना को देखते हुए दिल्ली के बोर्ड को भी सील कर दिया गया है। इसके अलावा सुरक्षा के लिए कई कडे़ इंतजाम भी किए गए हैं। आइए जाने -

आकाश मार्ग पर रखी जाएगी नजर

गणतंत्र दिवस पर किसी भी प्रकार की अपराधिक घटना और आतंकवादी घटना को रोकने और सुरक्षित करने के लिए आधुनिक हथियारों से लैस कमांडो की टीम हेलीकॉप्टर के माध्यम से आकाश मार्ग पर नजर रखेगी ताकि आकाश से आने वाले खतरों को रोका जा सकें और गणतंत्र दिवस परेड और गणजनों को सुरक्षति रखा जा सकें। गणतंत्र दिवस के दिन दिल्ली में प्रधानमंत्री, राष्ट्रपती और मिस्र के राष्ट्रपति की सुरक्षा को लेकर कई तरह के इंतजाम किए गए है। हालांकि ये सभी इंतजाम पहले भी किए जाते थे। लेकिन क्योंकि भारत इस बार जी 20 की अध्यक्षता कर रहा है और हाल ही इससे संबंधित आतंकी हमले की जानकारी प्राप्त की गई है, इसलिए सुरक्षा और कड़ी कर दी गई है।

वाहनों की चेकिंग की जाएगी। बोर्ड आदि से आने-जाने वाले सभी वाहनों की चेकिंग की जाएगी ताकि किसी भी प्रकार की अज्ञात सामग्री को एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने से रोका जा सके। कर्तव्य मार्ग और विजय चौक पर जाने वाले कई मार्गों की आवह-जाही बंद कर दी गई है। जिसको लेकर मार्गों में बदलाव किया गया है।

छतों से की जाएगी निगरानी

समारोह स्थल और आस-पास के स्थानों की निगरानी स्थित ऊंची इमारतों की छत से दूरबीन के माध्यम से की जाएगी। ताकि किसी भी अजीब गतिविधियों को देखा जा सकें और उसे पहले ही रोका जा सकें। इसमें पुलिस कर्मियों के साथ अन्य खुफियां एजेंसिया भी कार्य करेंगी ताकि ज्यादा से ज्यागा क्षेत्र कवर किया जा सकें और सुरक्षा में किसी भी प्रकार की चुक न हो।

बम निरोधक टीम की करेगी निगरानी

प्राप्त जानकारी के अनुसार बम बलास्ट होने की आशंकाओं को ध्यान में रखते हुए डॉग स्कवॉज और बम निरोधक टीम पूरे इलाके की जांच करेगी ताकि अपराधिक घटना को होने से पहले रोका जा सकें और क्षेत्र को सुरक्षित रखा जा सकें। साथ ही अधिक भीड़ वाले इलाकों और प्रमुख इलाकों में भी टीमों को कार्य पर लगा रखा है। क्योंकि सबसे अधिक खतरा भीड़ वाले इलकों में ही होता है।

पुलिस कर्मियों की संख्या बढ़ी

आतंकी घटना की सूचना प्राप्त होते ही पुलिस कर्मियों की संख्या को बढ़ा दिया गया है साथ ही हेल्प डेस्क का निर्माण किया गया है। हेल्प डेस्क की कुल संख्या 24 है। इस साल नई दिल्ली में करीब 6000 से अधिक सुरक्षाकर्मी तैनात रहेंगे।

मॉक ड्रिल

सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए मॉक ड्रिल का आयोजन किया जा रहा है और सोशल मीडिया को प्रयोग कर लोगों में जागरूकता फैलाई जा रही है। ताकि किसी भी संदिग्ध व्यक्ति और गतिविधि से और वस्तु से लोगों को सतर्क किया जा सकें।

होटलो और धर्मशाला का निरक्षण

सभी होटलों, धर्मशालाओं और अतिथि घरों की छानबीन की जा रही है। साथ ही वहां के अधिकारियों को कर्मियों को सूचित किया गया है कि किसी भी प्रकार की संदिग्ध गतिविधि की जानकारी महसूस होने पर पुलिस को तुरंत खबर दी जाए। क्योंकि कई बार एक आम दिखने वाली व्यक्ति भी इस तरह की घटनाओं को अंजाम दे सकता है, जिसके कारण हर स्थान की छानबीन पूरे ध्यान से की जा रही है।

हवाई अड्डों और रेलवे स्टेशनों पर सुरक्षा बढ़ी

हवाई अड्डों और रेलवे स्टेशनों पर भी सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। लोगों और समान की चेकिंग ध्यान से की जा रही है ताकि किसी भी प्रकार की कोई गलत सामग्री नजरों से बच न सकें।

क्यूआर कोड से एंट्री
इस साल गणतंत्र दिवस परेड में करीब 60 से 70 हजार लोगों के उम्मीद जताई गई है। सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए क्यूआर कोड के माध्यम से परेड के लिए एंट्री दी जाएगी। जिस व्यक्ति के पार क्यूआर कोड नहीं होगा उसे एंट्री प्राप्त नहीं होगी। इसके साथ ही आपको बता दें की क्षेत्र में 150 से अधिक सीसीटीवी कैमरों के साथ निगरानी की प्रक्रिया पूरी की जा रही है।

Republic Day 2023: इस गैस चैंबर में रखी है संविधान की मूल कॉपी

Beating Retreat क्या है? गणतंत्र दिवस पर बीटिंग रिट्रीट सेरेमनी क्यों मनाई जाती है

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Republic Day 2023: Preparations for Republic Day are in full swing. Preparations and rehearsals for the march-past at Rajpath have already started. Heavy security arrangements have been made in Delhi on the occasion of Republic Day. In fact, recently the news has come out through an intelligence report received by the security agency, according to which there is a possibility of a major terrorist incident from Delhi to Punjab on Republic Day.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X