Independence Day 2021 PM Modi Speech: 15 अगस्त पर पीएम मोदी के भाषण की 75 बड़ी बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भाषण लाइव: 15 August Independence Day 2021 PM Narendra Modi Speech Live Updates:

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 15 अगस्त 2021, रविवार को सुबह 7:45 बजे लाल किले से स्वतंत्रता दिवस पर आठवीं बार राष्ट्र को संबोधित किया। स्वतंत्रता दिवस 2021 पर पीएम मोदी के दूसरे कार्यकाल का तीसरा भाषण है। पीएम मोदी ने कोरोनावायरस (COVID-19) महामारी में देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए स्वतंत्रता दिवस 2021 की थीम 'फर्स्ट नेशन ऑलवेज फर्स्ट' रखी गई है। पीएम नरेंद्र मोदी का भाषण भारतीय अर्थव्यवस्था, टैक्स में सुधर, कोरोना वॉरियर्स और नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन पर आधारित होगा। 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी का भाषण ट्विटर, फेसबुक, यूट्यूब, इंस्टाग्राम, टेलीविज़न, रेडियो और अन्य सोशल माध्यमों से सुना-देखा जा सकता है। इसके साथ ही करियर इंडिया हिंदी के इसी पेज पर आप पीएम 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी का भाषण लाइव देख सकते हैं। इसलिए आप इस पेज पर लगातार बने रहें और 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी का भाषण की अपडेट प्राप्त करते रहें....

Independence Day 2021 PM Modi Speech: 15 अगस्त पर पीएम मोदी के भाषण की 75 बड़ी बातें

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को 75 वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रतिष्ठित लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित कर रहे हैं, जो उनका लगातार आठवां I-day संबोधन है। लाल किले पर तिरंगा फहराने के बाद पीएम मोदी का भाषण सुबह करीब 7:45 बजे शुरू हुआ। विशेष अतिथियों को समारोह में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया है, अन्य लोग भी अपने घरों से इस समारोह को देख सकते हैं।

 

पीएम मोदी के संबोधन का राष्ट्रीय सार्वजनिक प्रसारक दूरदर्शन द्वारा सीधा प्रसारण किया जा रहा है, जबकि प्रेस सूचना ब्यूरो (PIB) भी भाषण को अपने YouTube चैनल के साथ-साथ अपने ट्विटर हैंडल पर भी लाइव-स्ट्रीम किया हुआ है। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) का आधिकारिक यूट्यूब चैनल भी राष्ट्रीय संबोधन प्रसारित कर रहा है। साथ ही, पीएमओ का ट्विटर हैंडल भाषण के लाइव अपडेट प्रदान कर रहे हैं।

बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को COVID-19 महामारी के मद्देनजर 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस समारोह आयोजित करने के लिए दिशानिर्देश जारी कर दिए हैं। जिसमें लिखा है कि स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान सामाजिक दूरी, मास्क पहनना, उचित स्वच्छता, कमजोर व्यक्तियों की सुरक्षा और स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशानिर्देशों का पालन करने जैसे उपायों का पालन करना अनिवार्य है। सभी कार्यक्रमों को इस तरह से आयोजित किया जाना चाहिए कि बड़ी सभाओं से बचा जा सके और प्रौद्योगिकी का सर्वोत्तम संभव तरीके से उपयोग किया जा सके। घटनाओं को वेब-कास्ट किया जा सकता है।

दिल्ली में लाल किले में समारोह में प्रधानमंत्री को सशस्त्र बलों और दिल्ली पुलिस द्वारा गार्ड ऑफ ऑनर की प्रस्तुति शामिल होगी; राष्ट्रगान बजाने के साथ राष्ट्रीय ध्वज फहराना और 21 तोपों की सलामी देना; वायु सेना के हेलीकाप्टरों द्वारा फूलों की पंखुड़ियों की वर्षा; प्रधान मंत्री का भाषण; राष्ट्रगान का गायन; और अंत में तिरंगे गुब्बारों को छोड़ना शामिल होगा। राष्ट्रपति भवन में "एट होम" रिसेप्शन आयोजित किया गया।

स्वतंत्रता दिवस पर भाषण टीचर्स के लिए (15 August Independence Day Speech For Teachers In Hindi)

Independence Day Motivational Speech In Hindi:छात्रों के लिए स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त पर प्रेरक भाषण

स्वतंत्रता दिवस प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भाषण {2021} लाइव: 15 August Independence Day 2021 PM Narendra Modi Speech Live Updates:

  1. मैं आदरणीय बाबा साहेब पुरंदरे जी को जीवन के सौवें वर्ष में प्रवेश के लिए हृदय से शुभकामनाएँ देता हूँ। उनका मार्गदर्शन, उनका आशीर्वाद जैसे अभी तक हम सबको मिलता रहा है, वैसे ही आगे भी लंबे समय तक मिलता रहे, ये मेरी मंगलकामना है।
  2. उन्होंने शिवाजी महाराज के जीवन को, उनके इतिहास को जन-जन तक पहुंचाने में जो योगदान दिया है, उसके लिए हम सभी उनके हमेशा ऋणी रहेंगे।
  3. मुझे खुशी है कि हमें उनके इस योगदान के बदले देश को उनके प्रति कृतज्ञता ज्ञापित करने का सौभाग्य मिला है।
  4. आप सब इस बात से परिचित हैं कि आज़ादी के अमृत महोत्सव में देश ने स्वाधीनता सेनानियों के, अमर आत्माओं के इतिहास लेखन का अभियान शुरू किया है। बाबा साहेब पुरंदरे यही पुण्य-कार्य दशकों से करते आ रहे हैं।
  5. छत्रपति शिवाजी महाराज के बिना भारत के स्वरूप की, भारत के गौरव की कल्पना भी मुश्किल है। जो भूमिका उस कालखंड में छत्रपति शिवाजी की थी, वही भूमिका उनके बाद उनकी प्रेरणाओं ने, उनकी गाथाओं ने निभाई है।
  6. शिवाजी महाराज का 'हिंदवी स्वराज' सुशासन का, पिछड़ों-वंचितों के प्रति न्याय का, और अत्याचार के खिलाफ हुंकार का अप्रतिम उदाहरण है।
  7. वीर शिवाजी का प्रबंधन, देश की समुद्रिक शक्ति का इस्तेमाल, नौसेना की उपयोगिता, जल प्रबंधन ऐसे कई विषय आज भी अनुकरणीय हैं।
  8. बाबा साहेब ने हमेशा सुनिश्चित करने का प्रयास किया कि युवाओं तक इतिहास अपनी प्रेरणाओं के साथ पहुंचे, साथ ही अपने सच्चे स्वरूप में भी पहुंचे। इसी संतुलन की आज देश के इतिहास को आवश्यकता है। उनकी श्रद्धा और उनके भीतर के साहित्यकार ने कभी भी उनके इतिहासबोध को प्रभावित नहीं किया।
  9. मैं स्वतंत्रता दिवस के इस विशेष अवसर पर बधाई संदेश देकर शुरुआत करना चाहता हूं। यह हमारे महान स्वतंत्रता सेनानियों को याद करने का दिन है।
  10. आजादी का अमृत महोत्सव, 75वें स्वतंत्रता दिवस पर आप सभी को और विश्वभर में भारत को प्रेम करने वाले, लोकतंत्र को प्रेम करने वाले सभी को बहुत-बहुत शुभकामनाएं।
  11. कोरोना वैश्विक महामारी में हमारे डॉक्टर, हमारे नर्सेस, हमारे पैरामेडिकल स्टाफ, सफाईकर्मी, वैक्सीन बनाने मे जुटे वैज्ञानिक हों, सेवा में जुटे नागरिक हों, वे सब भी वंदन के अधिकारी हैं।
  12. भारत के पहले प्रधानमंत्री नेहरू जी हों, देश को एकजुट राष्ट्र में बदलने वाले सरदार पटेल हों या भारत को भविष्य का रास्ता दिखाने वाले बाबासाहेब अम्बेडकर, देश ऐसे हर व्यक्तित्व को याद कर रहा है, देश इन सबका ऋणी है।
  13. हम आजादी का जश्न मनाते हैं, लेकिन बंटवारे का दर्द आज भी हिंदुस्तान के सीने को छलनी करता है।
  14. यह पिछली शताब्दी की सबसे बड़ी त्रासदी में से एक है। कल ही देश ने भावुक निर्णय लिया है। अब से 14 अगस्त को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस के रूप में याद किया जाएगा।
  15. प्रगति पथ पर बढ़ रहे हमारे देश के सामने, पूरी मानवजाति के सामने कोरोना का यह कालखंड बड़ी चुनौती के रूप में आया है। भारतवासियों ने संयम और धैर्य के साथ इस लड़ाई को लड़ा है।
  16. हर देश की विकासयात्रा में एक समय ऐसा आता है, जब वो देश खुद को नए सिरे से परिभाषित करता है, खुद को नए संकल्पों के साथ आगे बढ़ाता है। भारत की विकास यात्रा में भी आज वो समय आ गया है।
  17. यहां से शुरू होकर अगले 25 वर्ष की यात्रा नए भारत के सृजन का अमृतकाल है। इस अमृतकाल में हमारे संकल्पों की सिद्धि, हमें आजादी के 100 वर्ष तक ले जाएगी।
  18. संकल्प तब तक अधूरा होता है, जब तक संकल्प के साथ परिश्रम और पराक्रम की पराकाष्ठा न हो। इसलिए हमें हमारे सभी संकल्पों को परिश्रम और पराक्रम की पराकाष्ठा करके सिद्ध करके ही रहना है।
  19. सबका साथ-सबका विकास-सबका विश्वास, इसी श्रद्धा के साथ हम सब जुटे हुए हैं।
  20. आज लाल किले से मैं आह्वान कर रहा हूं- सबका साथ-सबका विकास-सबका विश्वास और सबका प्रयास हमारे हर लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।
  21. अब हमें सैचुरेशन की तरफ जाना है। शत प्रतिशत गांवों में सड़कें हों, शत प्रतिशत परिवारों के पास बैंक अकाउंट हो।
  22. शत प्रतिशत लाभार्थियों के पास आयुष्मान भारत का कार्ड हो, शत-प्रतिशत पात्र व्यक्तियों के पास उज्ज्वला योजना का गैस कनेक्शन हो।
  23. सरकार अपनी अलग-अलग योजनाओं के तहत जो चावल गरीबों को देती है, उसे फोर्टिफाई करेगी, गरीबों को पोषणयुक्त चावल देगी।
  24. राशन की दुकान पर मिलने वाला चावल हो, मिड डे मील में मिलने वाला चावल हो, वर्ष 2024 तक हर योजना के माध्यम से मिलने वाला चावल फोर्टिफाई कर दिया जाएगा।
  25. 21वीं सदी में भारत को नई ऊंचाई पर पहुंचाने के लिए भारत के सामर्थ्य का सही इस्तेमाल, पूरा इस्तेमाल जरूरी है। इसके लिए जो वर्ग पीछे है, जो क्षेत्र पीछे है, हमें उनकी हैंड-होल्डिंग करनी ही होगी।
  26. आज नॉर्थ ईस्ट में कनेक्टिविटी का नया इतिहास लिखा जा रहा है। ये कनेक्टिविटी दिलों की भी है और इंफ्रास्ट्रक्चर की भी है।
  27. बहुत जल्द नॉर्थ ईस्ट के सभी राज्यों की राजधानियों को रेलसेवा से जोड़ने का काम पूरा होने वाला है।
  28. हमारा पूर्वी भारत, नॉर्थ ईस्ट, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख सहित पूरा हिमालय का क्षेत्र हो, हमारी कोस्टल बेल्ट या फिर आदिवासी अंचल हो, ये भविष्य में भारत के विकास का बड़ा आधार बनेंगे।
  29. सभी के सामर्थ्य को उचित अवसर देना, यही लोकतंत्र की असली भावना है। जम्मू हो या कश्मीर, विकास का संतुलन अब ज़मीन पर दिख रहा है।
  30. जम्मू कश्मीर में डी-लिमिटेशन कमीशन का गठन हो चुका है और भविष्य में विधानसभा चुनावों के लिए भी तैयारी चल रही है।
  31. लद्दाख भी विकास की अपनी असीम संभावनाओं की तरफ आगे बढ़ चला है। एक तरफ लद्दाख, आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण होते देख रहा है।
  32. तो वहीं दूसरी तरफ 'सिंधु सेंट्रल यूनिवर्सिटी' लद्दाख को उच्च शिक्षा का केंद्र भी बनाने जा रही है।
  33. देश के जिन ज़िलों के लिए ये माना गया था कि ये पीछे रह गए, हमने उनकी आकांक्षाओं को भी जगाया है।
  34. देश मे 110 से अधिक आकांक्षी ज़िलों में शिक्षा, स्वास्थ्य, पोषण, सड़क, रोज़गार, से जुड़ी योजनाओं को प्राथमिकता दी जा रही है। इनमें से अनेक जिले आदिवासी अंचल में हैं।
  35. आज हम अपने गांवों को तेजी से परिवर्तित होते देख रहे हैं। बीते कुछ वर्ष, गांवों तक सड़क और बिजली जैसी सुविधाओं को पहुंचाने रहे हैं।
  36. अब गांवों को ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क, डेटा की ताकत पहुंच रही है, इंटरनेट पहुंच रहा है। गांव में भी डिजिटल Entrepreneur तैयार हो रहे हैं।
  37. गांव में जो हमारी सेल्फ हेल्प ग्रुप से जुड़ी 8 करोड़ से अधिक बहनें हैं, वो एक से बढ़कर एक प्रॉडक्ट्स बनाती हैं।
  38. इनके प्रॉडक्ट्स को देश में और विदेश में बड़ा बाजार मिले, इसके लिए अब सरकार ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म तैयार करेगी।
  39. छोटा किसान बने देश की शान, ये हमारा सपना है। आने वाले वर्षों में हमें देश के छोटे किसानों की सामूहिक शक्ति को और बढ़ाना होगा। उन्हें नई सुविधाएं देनी होंगी।
  40. देश के 80 प्रतिशत से ज्यादा किसान ऐसे हैं, जिनके पास 2 हेक्टेयर से भी कम जमीन है।
  41. पहले जो देश में नीतियां बनीं, उनमें इन छोटे किसानों पर जितना ध्यान केंद्रित करना था, वो रह गया। अब इन्हीं छोटे किसानों को ध्यान में रखते हुए निर्णय लिए जा रहे हैं।
  42. हमें मिलकर काम करना होगा, Next Generation Infrastructure के लिए। हमें मिलकर काम करना होगा, World Class Manufacturing के लिए।
  43. हमें मिलकर काम करना होगा Cutting Edge Innovation के लिए। हमें मिलकर काम करना होगा New Age Technology के लिए।
  44. देश ने संकल्प लिया है कि आजादी के अमृत महोत्सव के 75 सप्ताह में 75 वंदेभारत ट्रेनें देश के हर कोने को आपस में जोड़ रही होंगी।
  45. आज जिस गति से देश में नए Airports का निर्माण हो रहा है, उड़ान योजना दूर-दराज के इलाकों को जोड़ रही है, वो भी अभूतपूर्व है।
  46. भारत को आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर के साथ ही इंफ्रास्ट्रक्चर निर्माण में होलिस्टिक अप्रोच अपनाने की भी जरूरत है।
  47. भारत आने वाले कुछ ही समय में प्रधानमंत्री गतिशक्ति- नेशनल मास्टर प्लान को लॉन्च करने जा रहा है।
  48. भारत आज अपना लड़ाकू विमान बना रहा है, सबमरीन बना रहा है, गगनयान भी बना रहा है। विकास के पथ पर आगे बढ़ते हुए भारत को अपनी मैन्यूफैक्चरिंग और एक्सपोर्ट, दोनों को बढ़ाना होगा।
  49. आपने देखा है, अभी कुछ दिन पहले ही भारत ने अपने पहले स्वदेशी एयरक्राफ्ट कैरियर INS विक्रांत को समुद्र में ट्रायल के लिए उतारा है।
  50. मैं इसलिए मनुफक्चरर्स को कहता हूँ - आपका हर एक प्रॉडक्ट भारत का ब्रैंड एंबेसेडर है। जब तक वो प्रॉडक्ट इस्तेमाल में लाया जाता रहेगा, उसे खरीदने वाला कहेगा - हां ये मेड इन इंडिया है।
  51. देश के सभी मैन्यूफैक्चर्स को भी ये समझना होगा- आप जो Product बाहर भेजते हैं वो आपकी कंपनी में बनाया हुआ सिर्फ एक Product नहीं होता। उसके साथ भारत की पहचान जुड़ी होती है, प्रतिष्ठा जुड़ी होती है, भारत के कोटि-कोटि लोगों का विश्वास जुड़ा होता है।
  52. हमने देखा है, कोरोना काल में ही हजारों नए स्टार्ट-अप्स बने हैं, सफलता से काम कर रहे हैं। कल के स्टार्ट-अप्स, आज के Unicorn बन रहे हैं। इनकी मार्केट वैल्यू हजारों करोड़ रुपए तक पहुंच रही है।
  53. हमने देखा है, कोरोना काल में ही हजारों नए स्टार्ट-अप्स बने हैं, सफलता से काम कर रहे हैं। कल के स्टार्ट-अप्स, आज के Unicorn बन रहे हैं। इनकी मार्केट वैल्यू हजारों करोड़ रुपए तक पहुंच रही है।
  54. Reforms को लागू करने के लिए Good औऱ Smart Governance चाहिए। आज दुनिया इस बात की भी साक्षी है कि कैसे भारत अपने यहां गवर्नेंस का नया अध्याय लिख रहा है।
  55. आज देश के पास 21वीं सदी की जरूरतों को पूरा करने वाली नई 'राष्ट्रीय शिक्षा नीति' भी है। जब गरीब के बेटी, गरीब का बेटा मातृभाषा में पढ़कर प्रोफेशनल्स बनेंगे तो उनके सामर्थ्य के साथ न्याय होगा। नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को गरीबी के खिलाफ लड़ाई का मैं साधन मानता हूं।
  56. नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति की एक और विशेष बात है। इसमें स्पोर्ट्स को Extracurricular की जगह मेनस्ट्रीम पढ़ाई का हिस्सा बनाया गया है। जीवन को आगे बढ़ाने में जो भी प्रभावी माध्यम हैं, उनमें एक स्पोर्ट्स भी है।
  57. ये देश के लिए गौरव की बात है कि शिक्षा हो या खेल, बोर्ड्स के नतीजे हों या ओलपिंक का मेडल, हमारी बेटियां आज अभूतपूर्व प्रदर्शन कर रही हैं। आज भारत की बेटियां अपना स्पेस लेने के लिए आतुर हैं।
  58. दो-ढाई साल पहले मिजोरम के सैनिक स्कूल में पहली बार बेटियों को प्रवेश देने का प्रयोग किया गया था। अब सरकार ने तय किया है कि देश के सभी सैनिक स्कूलों को देश की बेटियों के लिए भी खोल दिया जाएगा।
  59. आज मैं एक खुशी देशवासियों से साझा कर रहा हूँ। मुझे लाखों बेटियों के संदेश मिलते थे कि वो भी सैनिक स्कूल में पढ़ना चाहती हैं, उनके लिए भी सैनिक स्कूलों के दरवाजे खोले जाएं।
  60. भारत की प्रगति के लिए, आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए भारत का Energy Independent होना अनिवार्य है।
  61. इसलिए आज भारत को ये संकल्प लेना होगा कि हम आजादी के 100 साल होने से पहले भारत को Energy Independent बनाएंगे।
  62. भारत आज जो भी कार्य कर रहा है, उसमें सबसे बड़ा लक्ष्य है, जो भारत को क्वांटम जंप देने वाला है- वो है ग्रीन हाइड्रोजन का क्षेत्र। मैं आज तिरंगे की साक्षी में National Hydrogen Mission की घोषणा कर रहा हूं।
  63. त्रिपुरा में दशकों बाद ब्रू रियांग समझौता होना हो, ओबीसी कमीशन को संवैधानिक दर्जा देना हो, या फिर जम्मू-कश्मीर में आजादी के बाद पहली बार हुए BDC और DDC चुनाव, भारत अपनी संकल्पशक्ति लगातार सिद्ध कर रहा है।
  64. Article 370 को बदलने का ऐतिहासिक फैसला हो, देश को टैक्स के जाल से मुक्ति दिलाने वाली व्यवस्था- GST हो, हमारे फौजी साथियों के लिए वन रैंक वन पेंशन हो, या फिर रामजन्मभूमि केस का शांतिपूर्ण समाधान, ये सब हमने बीते कुछ वर्षों में सच होते देखा है।
  65. 21वीं सदी का आज का भारत, बड़े लक्ष्य गढ़ने और उन्हें प्राप्त करने का सामर्थ्य रखता है। आज भारत उन विषयों को भी हल कर रहा है, जिनके सुलझने का दशकों से, सदियों से इंतजार था।
  66. आज दुनिया, भारत को एक नई दृष्टि से देख रही है और इस दृष्टि के दो महत्वपूर्ण पहलू हैं। एक आतंकवाद और दूसरा विस्तारवाद।
  67. भारत इन दोनों ही चुनौतियों से लड़ रहा है और सधे हुए तरीके से बड़े हिम्मत के साथ जवाब भी दे रहा है।
  68. वो कहते थे कि- हमें उतना सामर्थ्यवान बनना होगा, जितना हम पहले कभी नहीं थे। हमें अपनी आदतें बदली होंगी, एक नए हृदय के साथ अपने को फिर से जागृत करना होगा।
  69. आज देश के महान विचारक श्री ऑरबिंदो की जन्मजयंती भी है। साल 2022 में उनकी 150वां जन्मजयंती है।
  70. जिन संकल्पों का बीड़ा आज देश ने उठाया है, उन्हें पूरा करने के लिए देश के हर जन को उनसे जुड़ना होगा, हर देशवासी को इसे Own करना होगा।
  71. देश ने जल संरक्षण का अभियान शुरू किया है, तो हमारा कर्तव्य है पानी बचाने को अपनी आदत से जोड़ना।
  72. मैं भविष्य़दृष्टा नहीं हूं, मैं कर्म के फल पर विश्वास रखता हूं। मेरा विश्वास देश के युवाओं पर है। मेरा विश्वास देश की बहनों-बेटियों, देश के किसानों, देश के प्रोफेशनल्स पर है।
  73. ये Can Do Generation है, ये हर लक्ष्य हासिल कर सकती है। 21वीं सदी में भारत के सपनों और आकांक्षाओं को पूरा करने से कोई भी बाधा रोक नहीं सकती।
  74. हमारी ताकत हमारी जीवटता है, हमारी ताकत हमारी एकजुटता है। हमारी प्राणशक्ति, राष्ट्र प्रथम, सदैव प्रथम की भावना है।
  75. स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी की कवित : यही समय है, सही समय है, भारत का अनमोल समय है।
    कुछ ऐसा नहीं जो कर ना सको, कुछ ऐसा नहीं जो पा ना सको,
    तुम उठ जाओ, तुम जुट जाओ, सामर्थ्य को अपने पहचानो,
    कर्तव्य को अपने सब जानो,भारत का ये अनमोल समय है,
    यही समय है, सही समय है, भारत का अनमोल समय है।
    असंख्य भुजाओं की शक्ति है, हर तरफ़ देश की भक्ति है,
    तुम उठो तिरंगा लहरा दो, भारत के भाग्य को फहरा दो।
Independence Day 2021 PM Modi Speech: 15 अगस्त पर पीएम मोदी के भाषण की 75 बड़ी बातें

स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी का भाषण {2020} PM Modi Speech On Independence Day 2020

  • यह हमारे स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान को याद करने का दिन है। यह सेना, अर्धसैनिक और हमारी सुरक्षा सुनिश्चित करने वाली पुलिस सहित सुरक्षा कर्मियों का आभार व्यक्त करने का भी दिन है
  • हम अलग-अलग समय से गुजर रहे हैं। मैं आज (लाल किले पर) मेरे सामने छोटे बच्चों को नहीं देख सकता। कोरोना ने सभी को रोक दिया है। COVID के इन समयों में, कोरोना योद्धाओं ने 'सेवा परमो धर्म' के मंत्र को जिया और भारत के लोगों की सेवा की। मैं उनके प्रति आभार व्यक्त करता हूं।
  • पीएम नरेंद्र मोदी प्राकृतिक आपदाओं और आपदाओं का सामना कर रहे देश के कुछ हिस्सों में संवेदना व्यक्त करते हैं और जरूरत के इस घंटे में हमारे साथी नागरिकों को पूरा समर्थन देते हैं।
  • अगले साल हम भारत का 75 वां स्वतंत्रता दिवस मनाने जा रहे हैं। यह एक महत्वपूर्ण अवसर है।
  • कोरोना महामारी के बीच, 130 करोड़ भारतीयों ने एक आत्‍मा निर्भार भारत (आत्मनिर्भर भारत) बनाने का संकल्प लिया है।
  • कोरोनोवायरस के समय में, उनके जीवन की देखभाल के बिना, हमारे डॉक्टर, नर्स, पैरा-मेडिकल स्टाफ, एम्बुलेंस कर्मचारी, स्वच्छता कार्यकर्ता, पुलिस, स्वयंसेवक और विभिन्न अन्य लोग 24 घंटे काम कर रहे हैं। मैं उन्हें प्रणाम करता हूँ।
  • कोरोना महामारी के बीच, 130 करोड़ भारतीयों ने एक आत्मीय निर्भार भारत बनाने का संकल्प लिया है।
  • मुझे पूरा विश्वास है कि भारत इस सपने को साकार करेगा। मुझे अपने साथी भारतीयों की क्षमताओं, आत्मविश्वास और क्षमता पर भरोसा है। एक बार जब हम कुछ करने का निर्णय लेते हैं, तो हम उस लक्ष्य को प्राप्त करने तक आराम नहीं करते हैं।
  • ऐसा कभी नहीं हुआ कि भारत की गुलामी के समय में ऐसा कोई हिस्सा था, जिसमें देश को आजाद करने का कोई प्रयास नहीं किया गया और न ही किसी ने आजादी के लिए बलिदान दिया।
  • आमिर कोविद -19 महामारी 130 करोड़ भारतीयों ने आत्मनिर्भर होने का संकल्प लिया और भारत के दिमाग में 'आत्मानिर्भर भारत' है। हमें 'स्थानीय के लिए मुखर' होना चाहिए। यह सपना एक प्रतिज्ञा में बदल रहा है। आज 130 करोड़ भारतीयों के लिए आत्मानिभर भारत एक 'मंत्र' बन गया है।
  • मुझे पूरा विश्वास है कि भारत इस सपने को साकार करेगा। मुझे अपने साथी भारतीयों की क्षमताओं, आत्मविश्वास और क्षमता पर भरोसा है। एक बार जब हम कुछ करने का निर्णय लेते हैं, तब तक हम आराम नहीं करते हैं जब तक कि हम उस लक्ष्य को प्राप्त नहीं कर लेते।
  • आज दुनिया की कुछ बड़ी कंपनियां भारत की ओर जा रही हैं। 'मेक इन इंडिया' के साथ-साथ हमें 'मेक फॉर वर्ल्ड' के 'मंत्र' को भी अपनाना होगा।
  • भारत को विकास की ओर ले जाने के लिए समग्र बुनियादी ढांचे के विकास को एक नई दिशा देने की आवश्यकता है। हम नेशनल इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट का उपयोग करके इसे हासिल करेंगे।
  • वन नेशन-वन टैक्स, इन्सॉल्वेंसी, बैंकरप्सी कोड, बैंकों का विलय, देश की सच्चाई है।
  • कुछ महीने पहले, हम एन -95 मास्क, पीपीई किट और वेंटिलेटर आयात कर रहे थे। भारत न केवल अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए इन उत्पादों को बना रहा है, बल्कि अन्य राष्ट्रों की भी मदद कर रहा है।
  • मुझे विश्वास है कि SPACE क्षेत्र को खोलने जैसे उपाय हमारे युवाओं के लिए रोजगार के कई नए अवसर पैदा करेंगे और उनके कौशल और क्षमता को बढ़ाने के लिए और अधिक अवसर प्रदान करेंगे।
  • देश इस दिशा में 100 लाख करोड़ रुपये खर्च करने को तैयार है। विभिन्न क्षेत्रों में 7,000 परियोजनाओं की पहचान की गई है। यह बुनियादी ढांचे में एक क्रांति होगी।
  • यह बुनियादी ढांचे में सिलोस को समाप्त करने का युग है। इसे प्राप्त करने के लिए, एक विशाल योजना मल्टी-मोडल कनेक्टिविटी इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार किया गया है।
  • देश के कुछ क्षेत्र अविकसित रह गए हैं। हमने 110 संभावित जिलों की पहचान की है। इन जिलों को बेहतर शिक्षा, स्वास्थ्य सुविधाएं और रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए विशेष प्रयास किए जा रहे हैं।
  • आत्मनिर्भरता भारत का प्रमुख उद्देश्य है। आत्मनिर्भर कृषि, आत्मनिर्भर किसान।
  • देश के किसानों को आधुनिक बुनियादी ढांचा प्रदान करने के लिए, 1 लाख करोड़ रुपये का 'कृषि बुनियादी ढांचा कोष' बनाया गया है।
  • पिछले साल हमारे देश में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) में रिकॉर्ड 18% की वृद्धि हुई थी। दुनिया ने जिस पर भरोसा दिखाया है
  • भारत जैसा कि हमने अपनी नीतियों, लोकतंत्र और अपनी अर्थव्यवस्था की नींव को मजबूत करने पर काम किया है।
  • मध्यवर्ग में क्षमता है और नए अवसर चाहते हैं।
  • आधुनिक, नए और समृद्ध भारत में आचार निर्भय के निर्माण में शिक्षा की अहम भूमिका है। इसलिए, हम तीन दशकों के बाद नई शिक्षा नीति लाए हैं जिसका पूरे देश में स्वागत किया गया है, जो नए आत्मविश्वास को बढ़ाती है।
  • 2014 से पहले केवल 5 दर्जन ग्राम पंचायतें ऑप्टिकल फाइबर से जुड़ी थीं। पिछले 5 वर्षों में, 1.5 लाख ग्राम पंचायतों को ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ा गया है। आने वाले 1000 दिनों में, राष्ट्र के हर गांव को ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ा जाएगा।
  • जब भी महिलाओं को अवसर मिला, उन्होंने भारत को गौरवान्वित किया और इसे मजबूत बनाया। आज, राष्ट्र आत्म-तैनाती और उन्हें रोजगार के समान opportunities प्रदान करने के लिए निर्धारित है। आज महिलाएँ कोयला खदानों में काम कर रही हैं, हमारी बेटियाँ लड़ाकू विमान उड़ाते हुए आसमान को छू रही हैं।
  • हमने अपनी बेटियों की शादी के लिए न्यूनतम आयु पर पुनर्विचार करने के लिए समिति का गठन किया है। समिति अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करने के बाद उचित निर्णय लेगी।
  • देश में 40 करोड़ जन धन बैंक खातों में से 22 करोड़ महिलाओं के हैं। तीन कोरोनोवायरस-संक्रमित महीनों, अप्रैल, मई और जून में, लगभग 30,000 करोड़ रुपये सीधे इन खातों में स्थानांतरित किए गए हैं।
  • आज, देश में विकास के तहत एक नहीं बल्कि तीन कोरोनावायरस टीके हैं। जैसे ही इन वैक्सीन को वैज्ञानिकों से हरी झंडी मिली, देश इन्हें बड़े पैमाने पर बनाने के लिए तैयार हो गया।
  • आपका प्रत्येक परीक्षण, बीमारी, डॉक्टरों द्वारा आपके लिए निर्धारित दवाएं, इन सभी विवरणों को हेल्थ आईडी के माध्यम से एक्सेस किया जा सकता है।
  • आज देश में एक नया कार्यक्रम शुरू होने जा रहा है। यह राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन है। राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन भारत के स्वास्थ्य क्षेत्र में एक क्रांति लाएगा।
  • यह एक वर्ष जम्मू और कश्मीर के विकास की नई यात्रा का एक वर्ष है। यह एक वर्ष जम्मू और कश्मीर में महिलाओं और दलितों को मिले अधिकारों का वर्ष है। यह एक साल जम्मू-कश्मीर में शरणार्थियों के लिए सम्मान की जिंदगी का साल भी है।
  • LOC से LAC तक, जिसने भी देश की संप्रभुता को चुनौती देने की कोशिश की है, देश और उसकी ताकतों ने उन्हें करारा जवाब दिया है।
  • एनसीसी का विस्तार 173 सीमावर्ती और तटीय जिलों तक किया जाएगा। इस कार्यक्रम के तहत, एक लाख एनसीसी कैडेटों को विशेष प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। इन कैडेटों में से एक तिहाई महिलाएं होंगी।

लाल किला आयोजन
यह सातवीं बार होगा जब मोदी आई-डे समारोह में लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित करेंगे। यह कार्यालय में दूसरे कार्यकाल का उनका दूसरा भाषण होगा। मुगल-काल की संरचना में लगभग 4,000 सुरक्षाकर्मी तैनात किए जाएंगे। 350 से अधिक दिल्ली पुलिस कर्मी, जो एहतियात के तौर पर सम्मानित किए गए हैं, गार्ड ऑफ ऑनर का हिस्सा होंगे। इस कार्यक्रम में सशस्त्र बलों और दिल्ली पुलिस द्वारा प्रधानमंत्री को गार्ड ऑफ ऑनर, राष्ट्रीय ध्वज को फहराने और 21 तोपों की सलामी के साथ फायरिंग, प्रधानमंत्री का संबोधन, उनके भाषण के तुरंत बाद राष्ट्रगान का गायन शामिल होगा। और ट्राईकोलोरेड गुब्बारे की रिहाई।

देश भर में सुरक्षा कड़ी कर दी गई; हाई अलर्ट पर एजेंसियां
सीमावर्ती क्षेत्रों में बहुस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गई है और कड़ी चौकसी बरती जा रही है। एनएसजी, एसपीजी, आईटीबीपी जैसी एजेंसियों को हाई अलर्ट पर रखा गया है। सिविल ड्रेस में पुलिसकर्मियों को लाल किले में और उसके आसपास अतिरिक्त फोकस के साथ राष्ट्रीय राजधानी में रणनीतिक स्थानों पर भी तैनात किया जाएगा। जबकि 45,000 से अधिक सुरक्षाकर्मी स्वतंत्रता दिवस पर शहर की रखवाली करेंगे, लाल किले के लगभग 5 किमी परिधि में 2,000 से अधिक स्नाइपर्स को उच्च स्थानों पर विशिष्ट स्थानों पर तैनात किया जाएगा। क्राइम ब्रांच के डॉग स्क्वायड की कम से कम 20 टीमों और हर जिले से कई अन्य लोगों को स्वतंत्रता दिवस पर राजधानी में किसी भी परेशानी को सूँघने के लिए तैनात किया गया है। बम निरोधक दस्ते को भी अलर्ट पर रखा गया है और रणनीतिक रूप से लाल किले के आस-पास रखा जाएगा।

लाल किले पर 74वें स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान राष्ट्रीय ध्वज फहराने के समय महिला सेना अधिकारी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ रहेंगी। ध्वज अधिकारी मेजर श्वेता पांडे भारतीय सेना की 505 आधार कार्यशाला से एक ईएमई (इलेक्ट्रॉनिक्स और मैकेनिकल इंजीनियर) अधिकारी हैं। महिला अधिकारियों ने गणतंत्र दिवस की परेड के दौरान इस तरह की भूमिकाओं को अंजाम दिया और यहां तक ​​कि मार्चिंग कंटेस्टेंट का नेतृत्व भी किया।

मंत्रालय ने कहा कि झंडे को फहराने से 2233 फील्ड बैटरी (समारोह) के बंदूकधारियों द्वारा दागे गए 21-गन सैल्यूट के साथ सिंक्रनाइज़ हो जाएगा। झंडा फहराने के बाद पीएम देश को अपना संबोधन देंगे। इससे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और रक्षा सचिव अजय कुमार लाल किले के लाहौर गेट के सामने सुबह 7.18 बजे पीएम की अगवानी करेंगे। रक्षा सचिव दिल्ली क्षेत्र के जनरल ऑफिसर कमांडिंग लेफ्टिनेंट जनरल विजय कुमार मिश्रा को पीएम से मिलवाएंगे।

इसके बाद मिश्रा उन्हें सलामी बेस पर ले जाएंगे जहां एक संयुक्त अंतर-सेवा और पुलिस गार्ड पीएम को एक सामान्य सलामी देंगे, जो बाद में गार्ड ऑफ ऑनर का निरीक्षण करेंगे। मंत्रालय के बयान में कहा गया है कि पीएम के लिए गार्ड ऑफ ऑनर में सेना, नौसेना, वायु सेना और दिल्ली पुलिस के एक-एक अधिकारी और 24 जवान शामिल होंगे। गार्ड ऑफ ऑनर का निरीक्षण करने के बाद, पीएम लाल किले की प्राचीर से आगे बढ़ेंगे जहां उनका स्वागत राजनाथ सिंह और शीर्ष सैन्य अधिकारियों द्वारा किया जाएगा। जीओसी दिल्ली क्षेत्र फिर राष्ट्रीय ध्वज फहराने के लिए पीएम को चप्पे-चप्पे पर आयोजित करेगा।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Prime Minister Narendra Modi addressed the nation for the eighth time on Independence Day from Red Fort on Sunday, 15 August 2021, at 7:45 am. This is the third speech of PM Modi's second term on Independence Day 2021. PM Modi has kept the theme of Independence Day 2021 'First Nation Always First' to make the country self-reliant in the Coronavirus (COVID-19) pandemic. PM Narendra Modi's speech will be based on the Indian economy, tax reform, Corona Warriors and National Digital Health Mission. PM Modi's speech on 15 August Independence Day can be heard and watched on Twitter, Facebook, YouTube, Instagram, Television, Radio and other social media. Along with this, on this page of Career India Hindi, you can watch PM Modi's speech live on PM 15 August Independence Day. So you stay on this page continuously and keep getting updates of PM Modi's speech on 15th August Independence Day....
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X