Mothers Day 2021 Special Story: ये हैं दुनिया की 7 सबसे अलग मां, होती हैं इंसान से ज्यादा संवेदनशील

By Careerindia Hindi Desk

Mothers Day 2021 Special Story: मदर्स डे यानी मां के लिए निर्धारित खास दिन। (Mothers Day Date 2021) इस वर्ष मदर्स डे 2021 में 9 मई को मनाया जा रहा है। अभी तक हमने केवल इंसानों में मां और बच्चे के संबंध (Mother Child Relations) की कहानी सुनी हैं। मदर्स डे के इस अवसर (Occasion of mother's day) पर हम आपको जीवों जानवरों में मां और बच्चे के प्रेम की कहानी (Mothers Child Relations In Animals) बताएंगे। कैसे एक मां अपने बच्चे के लिए स्पेशल (World Best Mothers) होती है। जब एक बच्चे की जान की बात आ जाए तो कैसे मां अनूठी और हैरतनाक हो जाती है। जीवजगत यानी जानवरों में कुछ ऐसी मांएं हैं जिनकी मदरिंग टेकनीक बेहद अनूठी और हैरतनाक है। आइये जानते हैं इनके बारे में...

 
Mothers Day 2021 Special Story: ये हैं दुनिया की 7 सबसे अलग मां, होती हैं इंसान से ज्यादा संवेदनशील

जिराफ
जिराफ माँ को अपने नवजात शिशु के साथ पेश आते देख आप दांतों तले ऊँगली दबा लेंगे। आप हो सकता है इसे दुनिया की सबसे निष्ठुर माँ भी कह दें. जैसे ही इसका नवजात शिशु माँ के पेट से नीचे गिरता है, वह घबरा जाता है क्योंकि यह आठ फुट की ऊँचाई से गिरता है। जिराफ माँ एक बार इसे पुचकारती है लेकिन फिर तुरंत ही कसकर लात से ठोकर मारती है तो शिशु बेचारा दो-तीन फुट दूर जा गिरता है। लडखडाकर वह मासूम दोबारा उठने की कोशिश करता है तो माँ फिर उसके पास पहुंचकर उसी तरह लात जमा देती है। अबतक शिशु अपने पैर पर खड़ा होना सीख लेता है। यही तो माँ चाहती है। आज की दुनिया में बच्चे का खुद के पैर पर खड़ा होण कितना जरुरी है यह समझना कोई मुश्किल काम नहीं।

मुर्गी
ये अपनी जिम्मेदारी को बहुत गंभीरता से लेती हैं। इन्हें अपने अंडों को कठोर बनाने के लिए अपनी डाइट में कैल्शियम कार्बोनेट की अत्यधिक मात्रा का सेवन करना पड़ता है। अगर डाइट सही नहीं मिलती तो इनके शरीर में मौजूद हड्डियों के क्षऱण से अंडों का खोल बनता है, जिससे ये बेचारी बेहद दुर्बल हो जाती हैं।लेकिन बच्चे की भलाई के लिए इन्हें सब मंजूर है।

 

शिकारी चींटियां
मैडागास्कर में पाई जाने वाली ब्लड सकिंग चींटी एडेटोमिरमैंट अपने बच्चों के प्रति अलग अंदाज में प्यार दिखाती है। जब रानी चींटी लार्वा को जन्म देती है तब वह खुद और मजदूर चींटियां उसमें छेद करके उनका तरल हीमोलिम्फ (खून जैसा) में चूसती हैं। वैज्ञानिकों का भी उनके इस डरावने स्नेह पर अचरज होता है, लेकिन उनका मानना है कि चींटियों में फ्लूइड ट्रांसफर सोशल बिहेवियर है।

ग्रे व्हेल
आपको यह जानकर ताज्जुब होगा कि अपने बच्चों की सुरक्षा के लिए पैसिफिक महासागर के ठंडे पानी में रहने वाली ग्रे व्हेल हजारों मील की दूरी तय करके मैक्सिको के समुद्र तट के पास आती है। यहां ये अपने बच्चों को शांति से अपना पौष्टिक दूध पिला पाती हैं। इनके दूध में ५३ फीसदी वसा रहती है। इस दौरान लंबे समय तक इन्हें भूखा रहकर बच्चों के लिए पौष्टिक दूध भी तैयार करना पड़ता है। प्रसव होने तक ये कई बार 8 टन तक वजन खो देती हैं।

मकड़ी
मकड़ियों की कुछ प्रजातियां अपने अंडे देने के बाद एग कुकून को जाल में सुरक्षित रखती है। फिर जब बच्चे निकलने लगते हैं, तो भूखी मकड़ी अपने कुछ बच्चों को खा जाती है, फिर दूसरे बच्चों के लिए पौष्टिक सूप जैसा पदार्थ तैयार करती हैं, जिसे खाकर वे मजबूत होते हैं। जबये बच्चे एक महीने के हो जाते हैं तो मां मकड़ी गोलमोल होकर उनके लिए जगह बनाती है। ये बच्चे उस पर टूट पड़ते हैं और अपना जहर व डाइजेस्टिव एंजाइम्स उसमें इंजेक्ट करके उसे मार डालते हैं फिर उसे खा लेते हैं। इसके बाद ये बच्चे भी आपस में एक दूसरे को खाने लगते हैं। जो कमजोर होता है वो मारा जाता है और ताकतवर बच जाता है।

पॉयजन फ्रॉग
पॉयजन ऐरो फ्रॉग मां अपने बच्चों के पालन पोषण के लिए इतने जतन कहती है कि आप जानकर हैरान हो जाएंगे। ये एक बार में 5 अंडे देती हैं।जब अंडे फूट जाते हैं तो एक एक टैडपोल को पीठ पर बैठाकर पेड़ की सबसे ऊंची शाखाओं पर ले जाती है। इसके बाद वह तालाब की खोज में निकलती है और हर टैडपोल को अलग तालाब या पानी के गड्ढे में छोड़कर आती है। इसकी सुपरमॉम ड्यूटी यहीं खत्म नहीं होती। इसके बाद हर टैडपोल को यह 6 से 8 हफ्ते तक अपने अंडे खिलाती है ताकि वे ताकतवर बनें। इन्हें (बच्चों को) दूर दूर और अलग अलग रखने का मकसद यही है कि ये एक दूसरे को न खा जाएं।

अपनी जान दे देती है आक्टोपस
ऑक्टोपस मां कई मायनों दुनिया की दूसरी माताओं से बिल्कुल अलग होती है। ऐसा त्याग करने वाली माता का दूसरा उदाहरण नहीं मिलेगा। ऑक्टोपस मां एक बार में दो लाख तक अंडे दे सकती है। इन्हें अपने अण्डों की एक माह तक निगरानी करनी पड़ती है और इस दौरान यह अण्डों के पास से हिलती तक नहीं। चाहे भूख से इनकी हालत कितनी भी खराब हो जाए, फिर भी नहीं। कई बार तो ये क्षुधा मिटाने के लिए अपनी ही भुजाओं को खा डालती हैं, लेकिन बच्चों को अकेला नहीं छोड़ती। अंडे फूटने पर उनमें से बच्चे निकलकर इधर-उधर बहने लगते हैं, इस बीच मां ज्यादातर भूख से और कई बार दुर्बल होने की वजह से दुश्मन का शिकार होकर मर जाती है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Mothers Day 2021 Special Story / World Best Mother In Animals: Mother's Day means special day for mother. This year Mother's Day 2021 is being celebrated on 9 May. Till now we have only heard the story of the relation between mother and child in humans. On this occasion of Mother's Day, we will tell you the story of the love of mother and child in living animals. How a mother is special for her child. When it comes to the life of a child, how a mother becomes unique and surprising. There are some mothers in the animal kingdom, whose mothering technology is very unique and amazing. Let's know about them ...GiraffeSeeing the mother of a giraffe behaving with her newborn baby, you will press the finger under the teeth. You may also call it the most ruthless mother in the world. As soon as its newborn baby falls below the mother's belly, it panics as it falls from an eight-foot height. The mother of the giraffe calls it once but then immediately stumbles with a tight kick, the baby poor boy falls two to three feet away. When the boy tries to get up again innocently, the mother again approaches him and freezes in the same way. By now, the baby has learned to stand on her feet. This is what mother wants. In today's world, it is not a difficult task to understand how important it is for the child to stand on his own feet.The chickenThey take their responsibility very seriously. They have to consume excessive amounts of calcium carbonate in their diet to make their eggs hard. If the diet is not found properly, then the shell of eggs is formed due to the loss of bones present in their body, due to which these poor people become very weak, but they are all approved for the good of the child.Hunter antsThe blood-sucking ant adetomyrment found in Madagascar shows love for its children in a different way. When the queen gives birth to the ant larva, she and the laborer ants pierce it and suck their liquid into the hemolymph (like blood). Scientists are also astonished at his dreaded affection, but he believes that fluid transfer in ants is a social behavior.Gray whaleYou'd be surprised to know that gray whales that live in the cold waters of the Pacific Ocean travel thousands of miles to the coast of Mexico to protect their children. Here she feeds her children peacefully their nutritious milk. Their milk contains 53 percent fat. During this time, they have to prepare nutritious milk for the children by staying hungry for a long time. They often lose up to 8 tons by the time of delivery.SpiderSome species of spiders keep the egg cocoon in a trap after laying their eggs. Then when the babies start coming out, the hungry spider eats some of their children, then prepares the nutritious soup-like substance for the other children, which they eat and become stronger. When these children are one month old, the mother spider makes a break for them. These children break up on him and inject his poison and digestive enzymes into him and kill him, then eat it. After this, these children also start eating each other. The one who is weak is killed and the powerful one survives.Poison FrogPoison Arrow Frog mother says so much for the upbringing of her children that you will be shocked to know. They lay 5 eggs at a time. When the eggs are split, one takes a tadpole on the back and takes it to the highest branches of the tree. She then sets out in search of the pond and arrives, leaving each tadpole in a separate pond or water pit. Its supermom duty does not end here. After this it feeds its eggs to every tadpole for 6 to 8 weeks so that they become strong. The purpose of keeping them (children) far and wide apart is that they should not eat each other.Octopus gives its lifeIn many ways, the octopus mother is completely different from other mothers in the world. A second example of such a sacrificial mother will not be found. The octopus mother can lay up to two million eggs at a time. They have to monitor their eggs for a month and during this time it does not even move from the eggs. No matter how bad their condition gets from hunger, it still does not. Many times these apps eat their own arms to erase, but do not leave children alone. When the eggs burst, the children start to flow from here and there, in the meantime, the mother dies mostly due to hunger and sometimes due to debilitating death of the enemy.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X