Independence Day 2021: राष्ट्रीय भारतीय ध्वज तिरंगे के बारे में कितना जानते हैं आप, देखें सभी सवालों के जवाब

By Careerindia Hindi Desk

स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री दिल्ली के लाल किले पर भारत का राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा फेहराते हैं। इस वर्ष 75वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लालकिले से भाषण देंगे और ध्वजारोहण करेंगे। 15 अगस्त 2021 यानि स्वतंत्रता दिवस 2021 की थीम 'फर्स्ट नेशन, ऑलवेज फर्स्ट' रखी गई है। भारत का राष्ट्रीय ध्वज का स्वरूप कई बार बदला गया। 15 अगस्त पर तिरंगा फहराने से पहले आपको भारत के राष्ट्रीय ध्वज के बारे में कुछ जरूरी बातें जरूर पता होनी चाहिए।

 
Independence Day 2021: राष्ट्रीय भारतीय ध्वज तिरंगे के बारे में कितना जानते हैं आप, देखें सभी जवाब

भारत का राष्ट्रीय ध्वज कैसे है?
भारत का राष्ट्रीय ध्वज तीन रंगों से मिलकर बना है, जिसमें केसरिया, सफेद और हरे रंग शामिल है। भारतीय ध्वज तिरंगे के बीच में एक पहिया चक्र है, जो अशोक के स्तंभ के अबेकस पर दिखाई देता है।

भारत के राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे का इतिहास क्या है?
पहली बार भारतीय ध्वज को 22 जुलाई 1947 को अनुमोदित किया गया था और 15 अगस्त 1947 को देश के सामने भारतीय राष्ट्र को प्रस्तुत किया गया।

भारत का झंडा पहली बार किसने फहराया था?
जब भारत आजाद हुआ तब भरत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने दिल्ली में लाल किले के लाहौर गेट पर झंडा फहराया था।

भारत के तिरंगे के तीन रंगों का क्या अर्थ है?
भारत का राष्ट्रीय ध्वज का पहला केसरिया रंग साहस, त्याग और त्याग का प्रतीक है। सफेद रंग सत्य और पवित्रता का प्रतीक है। हरा रंग विश्वास और शौर्य का प्रतीक है। जबकि पहिया निरंतर गति और प्रगति का प्रतीक है।

 

भारतीय राष्ट्रीय ध्वज का नाम क्या है?
भारत के राष्ट्रीय ध्वज का नाम "तिरंगा" है। जिसमें तीन रंग शामिल है, सबसे गहरा केसरिया, बीच में सफेद और सबसे नीचे गहरा हरा रंग शामिल है।

भारतीय ध्वज में 24 तीलियां किसका प्रतिनिधित्व करती हैं?
भारतीय ध्वज के धर्म चक्र में चिन्हित 24 तीलियां हिमालय के 24 ऋषियों का प्रतिनिधित्व करती हैं। जिसमें पहली तिल्ली विश्वामित्र और अंतिम तिल्ली याज्ञवल्क्य से संबंध रखती है। अशोक चक्र को समय चक्र के रूप में भी जाना जाता है, जो पूरे 24 घंटों का प्रतिनिधित्व करती हैं।

क्या हम घर पर भारतीय झंडा फहरा सकते हैं?
भारतीय ध्वज संहिता में 26 जनवरी 2002 को संशोधित किया गया, जिसके बाद हर भारतीय नागरीक किसी भी दिन अपने घर, कार्यालय और कारखाने पर भारतीय ध्वज फहरा सकता है। नई संहिता की धारा 2 सभी निजी नागरिकों के अपने परिसर में झंडा फहराने के अधिकार को स्वीकार करती है।

अशोक चक्र का आविष्कार किसने किया था?
चरखा चलाने का विचार लाला हंसराज ने रखा था और गांधी ने पिंगली वेंकय्या को लाल और हरे रंग के बैनर पर झंडा डिजाइन करने के लिए नियुक्त किया था। ध्वज में कुछ परिवर्तन हुए और 1931 की बैठक में कांग्रेस का आधिकारिक ध्वज बन गया।

राष्ट्रीय ध्वज के नियम क्या हैं?
1.3 राष्ट्रीय ध्वज आकार में आयताकार होगा। झंडे की लंबाई और ऊंचाई (चौड़ाई) का अनुपात 3:2 होगा। 1.5 प्रदर्शन के लिए उपयुक्त आकार का चयन किया जाना चाहिए। 450X300 मिमी आकार के झंडे वीवीआईपी उड़ानों पर विमानों के लिए, मोटर कारों के लिए 225X150 मिमी आकार और टेबल झंडे के लिए 150X100 मिमी आकार के हैं।

क्या मैं अपनी कार पर झंडा लगा सकता हूं?
कार में झंडे का इस्तेमाल करने के लिए कोई कानून नहीं बनाया गया है, लेकिन आप भारतीय ध्वज का अनादर नहीं कर सकते, जैसे आपको अपनी कार पर अच्छी जगह पर इस्तेमाल करना है। आप कार के पहिए या नीचे की किसी जगह पर झंडे का इस्तेमाल नहीं कर सकते।

क्या बारिश में फहराया जा सकता है राष्ट्रीय ध्वज?
भारतीय ध्वज संहिता के अनुसार, बारिश में भारतीय ध्वज फहराया जा सकता है। जहाँ झंडा खुले में प्रदर्शित किया जाता है, जहाँ तक संभव हो, इसे सूर्योदय से सूर्यास्त तक फहराया जाना चाहिए, चाहे मौसम की स्थिति कुछ भी हो।

हम भारत के राष्ट्रीय ध्वज को कैसे नष्ट कर सकते हैं?
जब ध्वज क्षतिग्रस्त या गंदी स्थिति में हो, तो इसे व्यक्तिगत रूप से, अधिमानतः जलाकर या ध्वज की गरिमा के अनुरूप किसी अन्य तरीके से नष्ट किया जा सकता है।

Independence Day Speech 2021: स्वतंत्रता दिवस पर भाषण लिखने की तैयारी कैसे करें जानिए

Independence Day Quiz 2021: अच्छे अच्छे इन सवालों में खा जाते हैं गच्चे, देखें कितना जानते हैं आप भारत को

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
On Independence Day, the Prime Minister hoists the national flag of India at the Red Fort in Delhi. Prime Minister Narendra Modi will deliver a speech and hoist the flag from the Red Fort on the occasion of 75th Independence Day this year. The theme of Independence Day 2021 is 'First Nation, Always First' on 15 August 2021. The form of the national flag of India was changed several times.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X