Hindi Diwas 2021: हिंदी दिवस से जुड़ी ये 10 बातें हर छात्र को पता होनी चाहिए

By Careerindia Hindi Desk

हिंदी दिवस (Hindi Diwas 2021): यह तो सब जानते हैं कि भारत में हर साल 14 सितंबर को राष्ट्रीय हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है। लेकिन हिंदी दिवस मनाने की शुरुआत कब हुई? हिंदी दिवस क्यों मनाया जाता है? और हिंदी दिवस 14 सितंबर को ही क्यों मनाया जाता है? इसकी जानकारी शायद बहुत कम लोग जानते हैं। हिंदी भारत में सभी अधिक और पूरे विश्व में चौथी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है। आइये जानते हैं हिंदी से जुड़ी कुछ रोचक बातें...

 
Hindi Diwas 2021: हिंदी दिवस से जुड़ी ये 10 बातें हर छात्र को पता होनी चाहिए

1. हिंदी को जनमानस की भाषा कहने वाले महात्मा गांधी ने हिंदी साहित्य सम्मलेन में 1918 में हिन्दी को राष्ट्रभाषा बनाने को कहा था। हिंदी दिवस 14 सितंबर को मनाया जाता है। पहली बार 1949 में संविधान सभा द्वारा हिंदी को आधिकारिक भाषा के रूप में अपनाया गया था।

2. स्वतंत्र भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू ने हिंदी दिवस के लिए 14 सितंबर का चयन किया था। यह बहुत कम लोग जानते हैं कि हिंदी शब्द एक फारसी शब्द है। इस हिंदी भाषा की पहली कविता उर्दू के मशहूर कवी अमीर खुसरो द्वारा लिखी गई थी।

3. फारसी में हिंदी शब्द का अर्थ 'सिंधु नदी की भूमि' है। मंदारिन, स्पेनिश और अंग्रेजी के बाद दुनिया में चौथी सबसे अधिक बोली जाने वाली हिंदी भाषा है। भारत में 70 प्रतिशत से अधिक लोग हिंदी बोलते और समझते हैं।

 

4. हिंदी 26 जनवरी 1950 को भारतीय संविधान का एक हिस्सा बन गई थी। राष्ट्रभाषा प्रचार समिति के सुझाव पर, पहला हिंदी दिवस 1953 में मनाया गया था।

5. राजेंद्र सिंह की जयंती को हिंदी दिवस के नाम से भी जाना जाता है। राजेंद्र जी हिंदी के प्रतिष्ठित लेखक और इतिहासकार थे। हिंदी को भारत की आधिकारिक भाषा बनाने में उन्होंने अहम् भूमिका निभाई थी।

6. हिंदी को राष्ट्रीय भाषा बनाने का विचार पहली बार 1918 में हिंदी साहित्य सम्मेलन के दौरान महात्मा गांधी द्वारा लाया गया था। भारत का संविधान अनुच्छेद 343 के तहत हिंदी को आधिकारिक भाषा के रूप में मान्यता दी गई।

7. भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने 1977 में पहली बार संयुक्त राष्ट्र महासभा को हिंदी में संबोधित किया। अटल बिहारी वाजपेयी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में पहली बार हिंदी में भाषण दिया था।

8. हिंदी दिवस को चिह्नित करने के लिए 14 सितंबर से 21 सितंबर तक पूरे सप्ताह को हिंदी पखवाड़ा यानी राजभाषा सप्ताह के रूप में मनाया जाता है। इस पूरे सप्ताह में हिंदी संस्थानों में हिंदी को बढ़ावा देने के लिए लेख, निबंध, भाषण, वाद-विवाद, कविता पाठ और हिंदी शायरी समेत विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती हैं।

9. हिंदी दिवस पर हर साल स्कूलों, कॉलेजों और संस्थानों में विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती हैं। कोरोनावायरस महामारी के बाद से इस तरह के आयोजन ऑनलाइन हो गए हैं, लेकिन हिंदी भाषियों का हिंदी प्रेम कम नहीं हुआ है।

10. भाषा सम्मान पुरस्कार भी हिंदी दिवस के दिन ही शुरू किया गया था। यह उन लोगों को प्रदान किया जाता है जिन्होंने अपने लेखन और अन्य माध्यमों से भाषा में महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

128 साल पहले स्वामी विवेकानंद ने दिया था ये ऐतिहासिक भाषण

TEACHERS DAY: शिक्षक दिवस पर भाषण की तैयारी यहां से करें

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Top 10 Facts About Hindi Diwas 2021: It is well known that every year 14 September is celebrated as National Hindi Diwas in India. But when did the celebration of Hindi Divas begin? Why is Hindi Divas celebrated? And why Hindi Diwas is celebrated only on 14th September? Very few people probably know about this. Hindi is the most spoken language all over India and the fourth most spoken in the whole world. Let's know some interesting things related to Hindi.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X