Gandhi Jayanti Shayari 2022: गांधी जयंती पर टॉप 15 शायरी से सजायें व्हाट्सएप

भारत इस साल 153वीं गांधी जयंती मनाने जा रहा है। 1869 में इसी दिन भारत के सबसे बड़े स्वतंत्रता सेनानी का जन्म हुआ था। स्वतंत्रता के लिए अपने आप को पूर्ण रूप से समर्पित करने वाले महोनदास करमचंद गांधी को महात्मा, बापू और राष्ट्रपिता के नाम से सम्मानित किया गया। उन्होंने भारत को आजाद करने के लिए अहिंसा और सत्य का रास्ता अपनया और उसकी आधारशिला पर देश को आजादी दिलवाई। दक्षिण अफ्रिका के अपने समय काल में उन्हें एक भारतीय होने के कारण कई चुनौतियों और भेदभाव स्थितियों का सामना करना पड़ा है। भारत लौटने के बाद यहां किसानों के साथ हो रही कर वसूली और नील की खेती के जबरदस्ती को देखते हुए उन्होंने किसानों को ब्रिटिश सरकार के खिलाफ एकत्रित किया और शांतिपूर्ण ढंग आंदोलनों की शुरुआत की। अपने जीवन काल में उन्होंने कई अमरण अनशन किए हैं। आइए इस गांधी जयंती पर उनसे जुड़ी कुछ दमदार शायरी आपके साथ साझा करें जो आप अपने मित्रों के साथ भी शेयर कर सकते हैं।

 
Gandhi Jayanti Shayari 2022: गांधी जयंती पर टॉप 15 शायरी से सजायें व्हाट्सएप

गांधी जयंती पर शायरी (Gandhi Jayanti Shayari 2022)

1. महात्मा गाँधी कोई व्यक्ति नही अपने आप में एक क्रांति है, यह बात तो सारी दुनिया ही जानती है।

2. ऐनक, धोती और लाठी है जिसकी पहचान, वो है हमारे बापू महात्मा गाँधी महान।

3. गाँधी मानवता की आशा है, मन के शक्ति की परिभाषा है।

4. गांधी का विचार मन पर लगने वाला चंदन है, उनके जन्मदिवस पर शत-शत नमन बंदन है।

5. गांधी जी भारत के लिए वरदान है, तभी तो इनका अमिट सम्मान है।

6. स्वतंत्रता के लिए अंहिसा का पाठ पढ़ाया, गाधी नाम था सबके भीतर आजादी का स्वाभिमान जगाया।

7. दिन सुरमयी देशभक्ति का यह स्वर, आज आ गया है गाँधी जंयती का अवसर।

8. जिन्होंने मार्टिन लूथर और मंडेला को अंहिसा का पाठ पढ़ाया, वह और कोई नही महात्मा गाँधी थे, जिन्होंने इन्हे अंहिसा का मार्ग दिखाया।

 

9. कभी दांडी की यात्रा तो, कभी असहयोग आंदोलन का नारा, जिसके मन में थी अहिंसा की अलख, और कोई नही वो था बापू हमारा।

10. कहकर नही करके दिखाया है जिस स्वतंत्र भूमि पर हम खड़े है, उसके लिए महात्मा गांधी जैसो ने अपना सर्वस्व लुटाया है।

11. ऐसे कई अवसर आये जब स्वतंत्रता मौत से बड़ी हो गई, गुलामी के इन रास्तो में कभी यह मंगल पांडेय तो कभी गाँधी बनकर खड़ी हो गई।

12. देश के लिए अपने प्राणों तक को कुर्बान किया, महात्मा गांधी थे एक ऐसे व्यक्ति जिन्होंने हर धर्म का सम्मान किया।

13. भले ही इस दो अक्टूबर को बापू की तस्वीर तुम दिवारो पर ना लटकाना, बस इस बार तुम सच्चे दिल से बापू के विचारो को अपनाना।

14. महात्मा गांधी कोई नाम नही आजादी की चिंगारी है, पूरे भारत को स्वाभिमान का पाठ पढ़ाने वाले अंहिसा के पुजारी है।

15. गाँधी के विचारों की दिल में जलेगी मिशाल, तभी तो भारत के भविष्य का बदलेगा हाल।

Gandhi Jayanti 2022: शेयर करें अपने मित्रों और परिजनों के साथ गांधी जयंती की शुभकामनाएं

Gandhi Jayanti Motivational Quotes 2022 आपको जोश से भर देंगे गांधी जी के ये 15 दमदार कोट्स

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
India is going to celebrate 153rd Gandhi Jayanti this year. India's greatest freedom fighter was born on this day in 1869. Gandhi, who devoted himself completely to the cause of freedom, was honored with the names of Mahatma, Bapu and Father of the Nation. To liberate India, he adopted the path of non-violence and truth and got the country independence on its foundation. Let us share some powerful poetry related to him on this Gandhi Jayanti.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X