पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन गाइनेकोलॉजी एंड ऑब्सटेट्रिक्स में करियर (PGD in Gynaecology & Obstetric)

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन गाइनेकोलॉजी एंड ऑब्सटेट्रिक्स दो साल की अवधि का कोर्स है। इस कोर्स में छात्रों को स्त्री रोग के बारे में पढ़ाया व सिखाया जाता है। ये कोर्स महिला प्रजनन प्रणाली और गर्भावस्था से संबंधित विषयों के अध्ययन पर केंद्रित है। पीजीडी इन गाइनेकोलॉजी एंड ऑब्सटेट्रिक्स में एडमिशन लेने के लिए छात्रों के पास संबंधित विषय में ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए।

 

आज के इस आर्टिकल में हम आपको पीजी डिप्लोमा इन गाइनेकोलॉजी एंड ऑब्सटेट्रिक्स से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी से अवगत कराएंगे कि आखिर ये कोर्स किस लिए बनाया गया है, इसका सिलेबस क्या है। इसमें एडमिशन लेने के लिए क्या एलिजिबिलिटी होनी चाहिए। इसका एडमिशन प्रोसेस क्या है, इसे करने के बाद आपके पास जॉब प्रोफाइल क्या होंगी और इस कोर्स को करने के लिए भारत के टॉप कॉलेज कौन से हैं।

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन गाइनेकोलॉजी एंड ऑब्सटेट्रिक्स में करियर

कोर्स का नाम- पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन गाइनेकोलॉजी एंड ऑब्सटेट्रिक्स
कोर्स का प्रकार- पीजी डिप्लोमा
कोर्स की अवधि- 1 साल
एलिजिबिलिटी- किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन की डिग्री
एडमिशन प्रोसेस- मेरिट बेस्ड
कोर्स फीस- 50,000 से 10,00,000 तक
अवरेज सेलरी- सालाना 6,00,000 से 20,00,000 तक
जॉब प्रोफाइल- सिनियर सर्जन, गाइनेकोलॉजी, ऑब्सटेट्रिशियन, कंस्लटेंट, क्लीनिक असोसिएट, गाइनेकोलॉजी स्पेशलिस्ट, इंफेंट केयर, पीडियाट्रेटिक स्पेशलिस्ट, सीनियर गाइनेकोलॉजी, सर्जन, लेक्चरर आदि।
जॉब फील्ड- सरकारी अस्पताल, प्राइवेट अस्पताल, क्लिनिक, बिजनेस, हेल्थ कंस्लटेंसी ग्रुप, सरकारी विभाग आदि।

 

पीजी डिप्लोमा इन गाइनेकोलॉजी एंड ऑब्सटेट्रिक्स: एलिजिबिलिटी

  • उम्मीदवार के पास एमसीआई क्लीनिकल ऑर्गेनाइजेशन से एमबीबीएस, बीएएमएस से ग्रेजुएशन की डिग्री होना आवश्यक है।
  • ग्रेजुएशन की डिग्री में न्यूनतम 50% अंक होना अनिवार्य है।
  • जिसमें की आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों को 5% अंक की छूट दी जाती है।

पीजीडी इन गाइनेकोलॉजी एंड ऑब्सटेट्रिक्स: एडमिशन प्रोसेस
पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन गाइनेकोलॉजी एंड ऑब्सटेट्रिक्स में एडमिशन प्रोसेस कॉलेज से कॉलेज पर निर्भर करता है। इस कोर्स में एडमिशन कुछ कॉलेज द्वारा एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर दिया जाता है तो कुछ संस्थानों में उम्मीदवार के ग्रेजुएशन डिग्री के अंकों के आधार पर यानि की मेरिट लिस्ट के आधार पर एडमिशन दिया जाता हैं।

पीजीडी इन गाइनेकोलॉजी एंड ऑब्सटेट्रिक्स कोर्स में ऑनलाइन आवेदन कैसे करें
चरण 1 उम्मीदवार ऑफिशयल वेबसाइट पर जाएं
चरण 2 ऑफिशयल वेबसाइट पर जाने के बाद रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरें
चरण 3 आवेदन फॉर्म को भरने के बाद ठीक तरह से जांच लें यदि फॉर्म में गलती हुई तो वह रिजक्ट हो सकता है
चरण 4 क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड से ऑनलाइन फॉर्म की फीस जमा करें
चरण 5 फीस जमा होना के बाद आपके रजिस्ट्रड फोन नं या मेल आईडी पर मैसेज आ जाएगा।
चरण 6 रजिस्ट्रेशन प्रोसेस पूरी होने के बाद कॉलेज द्वारा एंट्रेंस एग्जाम के लिए एडमिट कार्ड जारी किया जाता है।

एडमिशन के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पेन कार्ड
  • 10वीं, 12वीं, ग्रेजुएशन के सर्टिफिकेट
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • डोमिसाइल

पीजीडी इन गाइनेकोलॉजी एंड ऑब्सटेट्रिक्स: एंट्रेंस एग्जाम
भारत में पीजीडी इन गाइनेकोलॉजी एंड ऑब्सटेट्रिक्स कोर्स में एडमिशन के लिए प्रमुख एंट्रेंस एग्जाम निम्नलिखित है

  • नीट पीजी
  • एम्स पीजी

पीजी डिप्लोमा इन गाइनेकोलॉजी एंड ऑब्सटेट्रिक्स: सिलेबस
पीजीडी इन गाइनेकोलॉजी एंड ऑब्सटेट्रिक्स 2 साल की अवधि का कोर्स है जिसे 4 सेमेस्टर में विभाजित किया गया है। सेमेस्टर अनुसार विषयों की सूची निम्नलिखित है।

सेमेस्टर 1

  • मेट्रनल एनेटॉमी
  • मेट्रनल फिजियोलॉजी
  • ऑबसट्रेटिक्स एनेस्थिसिया
  • फिजियोलॉजी ऑफ फार्मेसी
  • नर्व सप्लाई ऑफ फिमेल जेनेटिव ट्रेक्ट
  • एल.वार्ड प्रैक्टिकल
  • सोनार एंड इनफर्टेलिटी सेमिनार

सेमेस्टर 2

  • एल वार्ड प्रैक्टिकल
  • एएन/पीएन वार्ड प्रैक्टिकल ट्रेनिंग
  • डिसिज इन द यूरेनेरी सिस्टम
  • एंडोस्कोपी ऑफ गाइनेकोलॉजी
  • अडोलसेंस गाइनेकोलॉजी
  • मालफॉरमेशन ऑफ द फिमेल जेनेरेटिव ऑर्गेन
  • गाइनेकोलॉजी बेसिक्स

सेमेस्टर 3

  • डिसिज इन वल्वा
  • फर्टेलिटी एंड इंफर्टेलिटी
  • एनडोमेट्रिोसिस
  • गाइनेकोलॉजी ऑनकोलॉजी
  • सर्जरी ऑफ मलेरियन डक्ट्स
  • हाईसट्रेक्टोमी
  • लोक्ल वार्ड प्रैक्टिकल

सेमेस्टर 4

  • सर्विक्स डिसिज
  • वेसेक्टॉमी
  • वेजाइनल वॉल्ट प्रोलेप्स
  • एन/पीएन वार्ड ट्रेनिंग
  • सर्जिकल थिएटर ट्रेनिंग
  • रिसर्च स्टडी
  • कॉम्प्रीहेनसिव वाइवा

पीजी डिप्लोमा इन गाइनेकोलॉजी एंड ऑब्सटेट्रिक्स: टॉप कॉलेज और उनकी फीस
गाइनेकोलॉजी एंड ऑब्सटेट्रिक्स में पीजी डिप्लोमा सरकारी व प्राइवेट दोनों ही प्रकार के कॉलेज से किया जा सकता है।

  • अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, नई दिल्ली
  • क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज, वेल्लोर
  • सशस्त्र बल मेडिकल कॉलेज, पुणे
  • मौलाना मेडिकल कॉलेज, दिल्ली
  • जवाहरलाल स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा और अनुसंधान संस्थान, पांडिचेरी
  • महात्मा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान, वर्धा
  • कस्तूरबा मेडिकल कॉलेज, मैंगलोर
  • स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा और अनुसंधान संस्थान, कोलकाता

पीजी डिप्लोमा इन काउंसलिंग: जॉब प्रोफाइल और सैलरी पैकेज

  • ऑब्सट्रेशियन एंड गाइनेकोलॉजिस्ट- सैलरी 11,00,000 से 13,00,000 तक
  • क्लिनिकल एसोसिएट- सैलरी 2,00,000 से 4,00,000 तक
  • लेक्चरर- सैलरी 3,00,000 से 5,00,000 तक
  • जनरल फिजिशियन- सैलरी 6,00,000 से 8,00,000 तक
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Post Graduate Diploma in Gynecology and Obstetrics is a two year duration course. In this course, students are taught and taught about gynecology. The course focuses on the study of topics related to the female reproductive system and pregnancy. To take admission in PGD in Gynecology and Obstetrics, students must have a graduation degree in the relevant subject.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X