पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बिजनेस लॉ में करियर (Career in PG Diploma in Business Law)

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बिजनेस लॉ 1 साल का पोस्ट ग्रेजुएशन लेवल का डिप्लोमा कोर्स है। इस कोर्स को इस तरह से डिजाइन किया गया है ताकि छात्रों को बिजनेस लॉ सें संबंधित प्रैक्टिकल नॉलेज के साथ-साथ थ्योरिटिकल ज्ञान भी प्राप्त कराया जाएं। पीजीडी इन बिजनेस लॉ- कंपनी कानून, प्रतिस्पर्धा कानून, प्रतिभूति कानून, विदेशी निवेश कानून, संपत्ति कानून जैसे विभिन्न क्षेत्रों को कवर करता है, और छात्रों को भारतीय कानूनी प्रणाली से परिचित कराता है और भारत में बिजनेस ऑर्गेनाइजेशन से संबंधित कानूनों के बारे में जानकारी भी प्रदान करता है।

 

आज के इस आर्टिकल में हम आपको पीजी डिप्लोमा इन बिजनेस लॉ से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी से अवगत कराएंगे कि आखिर ये कोर्स किस लिए बनाया गया है, इसका सिलेबस क्या है। इसमें एडमिशन लेने के लिए क्या एलिजिबिलिटी होनी चाहिए। इसका एडमिशन प्रोसेस क्या है, इसे करने के बाद आपके पास जॉब प्रोफाइल क्या होंगी और इस कोर्स को करने के लिए भारत के टॉप कॉलेज कौन से हैं।

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बिजनेस लॉ में करियर

कोर्स का नाम- पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बिजनेस लॉ
कोर्स का प्रकार- पीजी डिप्लोमा
कोर्स की अवधि- 1 साल
एलिजिबिलिटी- किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से लॉ से संबंधित किसी विषय में ग्रेजुएशन की डिग्री
एडमिशन प्रोसेस- मेरिट बेस्ड/ एंट्रेंस एग्जाम बेस्ड
कोर्स फीस- 15,000 से 3,00,000 तक
अवरेज सेलरी- सालाना 7 से 8 लाख तक
जॉब प्रोफाइल- लॉ ऑफिस मैनेजर, ऑडिट मैनेजर, लीगल काउंसल, कॉनट्रेक्ट एंड कंर्शियल मैनेजर आदि।
हायर स्टडीज- एलएलएम, एमबीए, आदि।

 

पीजीडी इन बिजनेस लॉ : एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया

  • उम्मीदवार के पास किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या कॉलेज से लॉ में ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए।
  • ग्रेजुएशन की डिग्री में कम से कम 50% अंक होने चाहिए।
  • जबकि आरक्षित वर्गों को इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए 5% अंक की छूट दी जाती है।
  • लॉ में ग्रेजुएशन कर रहे अंतिम वर्ष के छात्र भी इस कोर्स में एनरोल कर सकते हैं।

पीजीडी इन बिजनेस लॉ: एडमिशन प्रोसेस
बिजनेस लॉ में पीजीडी करने के लिए एडमिशन प्रोसेस कॉलेज से कॉलेज पर निर्भर करता है। कुछ कॉलेज एडमिशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम आयोजित करते हैं तो कुछ कॉलेज मेरिट बेस्ड के आधार पर छात्रों का चयन कर एडमिशन देते हैं।

पीजीडी इन बिजनेस लॉ कोर्स में ऑनलाइन आवेदन कैसे करे
चरण 1 उम्मीदवार ऑफिशयल वेबसाइट पर जाएं
चरण 2 ऑफिशयल वेबसाइट पर जाने के बाद आवेदन फॉर्म भरें
चरण 3 आवेदन फॉर्म को भरने के बाद ठीक तरह से जांच लें यदि फॉर्म में गलती हुई तो वह रिजक्ट हो सकता है
चरण 4 क्रेडीट कार्ड या डेबिट कार्ड से ऑनलाइन फॉर्म की फीस जमा करें
चरण 5 फीस जमा होना के बाद आपके रजिस्ट्रड फोन नं या मेल आईडी पर मैसेज आ जाएगा।

एडमिशन के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पेन कार्ड
  • 10वीं, 12वीं, ग्रेजुएशन के सर्टिफिकेट
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • डोमिसाइल

पीजीडी इन बिजनेस लॉ: एंट्रेंस एग्जाम
इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए कॉलेजों द्वारा आयोजित किए जाने वाले कुछ सबसे लोकप्रिय एंट्रेंस एग्जाम निम्नलिखित हैं

  • क्लेट (कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट)
  • जयपुर नेशनल यूनिवर्सिटी एंट्रेंस एग्जाम
  • महर्षि अरविंद यूनिवर्सिटी लॉ एंट्रेंस टेस्ट

पीजीडी इन बिजनेस लॉ: टॉप कॉलेज और फीस

  • वेस्ट बंगाल नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ ज्यूरिडिकल साइंसेज कोलकाता- फीस 35,000
  • गुजरात नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी अहमदाबाद- फीस 81,400
  • तमिलनाडु डॉ अम्बेडकर लॉ यूनिवर्सिटी, चेन्नई- फीस 67,220
  • द इंडियन सोसाइटी ऑफ इंटरनेशनल लॉ, दिल्ली- फीस 14,350
  • मुंबई सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान (एमआईआईटी) - शुल्क 3,00,000
  • जयपुर नेशनल यूनिवर्सिटी, जयपुर- फीस 20,000
  • हिमालयन यूनिवर्सिटी, ईटानगर- फीस 12,000
  • महर्षि अरविंद विश्वविद्यालय, जयपुर- फीस 35,000
  • छत्तीसगढ़ विश्वविद्यालय, रायपुर- फीस 40,000
  • कर्नाटक राज्य मुक्त विश्वविद्यालय, मैसूर- फीस 8,500
  • प्रज्ञान इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी, रांची- फीस 18,000

पीजीडी इन बिजनेस लॉ: सिलेबस
पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन लेबर लॉ एक साल की अवधि का कोर्स है जिसे 2 सेमेस्टर में विभाजित किया गया है।
सेमेस्टर 1

  • लॉ ऑफ कॉन्ट्रैक्ट
  • कंज्यूमर प्रोटेक्शन एक्ट 1986 एंड कॉम्पिटिशन एक्ट 2002
  • कॉर्पोरेट लॉ
  • इंटरनेशनल इकोनॉमिक लॉ

सेमेस्टर 2

  • कॉरपोरेट स्ट्रक्चर लॉ
  • डिस्प्यूट रिजोल्यूशन लॉ
  • लॉ रिलेटेड टू बैंकिंग
  • कॉर्पोरेट फाइनेंस लॉ

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन बिजनेस लॉ: जॉब प्रोफाइल और सैलरी
इस कोर्स को सफलतापूर्वक करने के बाद उम्मीदवारों के सरकारी क्षेत्र के अलावा प्राइवेट क्षेत्र में भी काम कर सकते हैं। यदि बात करें सैलरी की तो लॉ क्षेत्र में हर जॉब प्रोफाइल में अनुभव के अनुसार सैलरी दी जाती है।

  • लॉ ऑफिस मैनेजर- सैलरी 8,50,000
  • कॉन्ट्रैक्ट एंड कमर्शियल मैनेजर- सैलरी 7,50,000
  • ऑडिट मैनेजर- सैलरी 10,30,000
  • लीगल काउंसिल- 3,75,000
  • कॉर्पोरेट इवेंट असोसिएट- 4,50,000
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Post Graduate Diploma in Business Law is a 1-year post graduation level diploma course. This course has been designed in such a way that the students are provided with practical knowledge as well as theoretical knowledge related to business law. PGD ​​in Business Law- Covers various areas like company law, competition law, securities law, foreign investment law, property law, and introduces students to the Indian legal system and the laws related to business organization in India also provides.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X