बोर्ड परीक्षा और प्रवेश परीक्षा की तैयारी एक साथ कैसे करें

स्कूल के बाद कॉलेज का जो समय होता है वही विद्यार्थियों का भविष्य तय करता है. इसलिए ऐसे समय में सही निर्णय लेना जरूरी है. स्कूल के बाद अच्छे कॉलेज में दाखिला लेने से न सिर्फ भविष्य सुरक्षित होता है बल्कि दुनियादारी की समझ भी कॉलेज में जाने के बाद ही आती है. तो ये हर किसी के लिए जरूरी है कि वो स्कूल के बाद किसी अच्छे कॉलेज में एडमिशन ले, इसलिए जरूरी है कि वह बोर्ड परीक्षा और प्रवेश परीक्षा में अच्छे नंबर हासिल करे. हर साल की तरह इस बार भी बोर्ड परीक्षाओं का सीजन शुरू होने को है. लगभग पूरे देश में कई बोर्ड की परीक्षाएं फरवरी, मार्च और अप्रैल के महीने में होती है. बोर्ड परीक्षाओं की तैयारी कर रहे विद्यार्थियों पर इस समय डबल प्रेशर रहता है, एक तो उनकी बोर्ड परीक्षा का और दूसरा है प्रवेश परीक्षा का. दोनों ही परीक्षाओं में अच्छी तैयारी करना जरूरी है. अब जबकि इन दोनों ही परीक्षाओं के लिए कम समय बचा है तो स्टूडेंट के मन में ये सवाल उठता है कि दोनों ही परीक्षा की तैयारी एक साथ कैसे करें. अगर आप भी बोर्ड परीक्षा के साथ प्रवेश परीक्षा की तैयारी कर रहे है तो आज हम लेकर आए है कुछ जरूरी टिप्स जिनसें ना सिर्फ बोर्ड परीक्षा में अच्छे नंबर हासिल किये जा सकते है बल्कि प्रवेश परीक्षा में भी सफलता अर्जित की जा सकती है.

तो आईये जानते है बोर्ड परीक्षा और प्रवेश परीक्षा की तैयारी एक साथ कैसे करनी है-

1.सिलेबस को बांटना-
सबसे पहले तो अपने सिलेबस को तीन हिस्सों में बांट दें जिसमें अत्यधिक कठिन, कम कठिन और आसान के विकल्प रखें. इन तीनों हिस्सों की तैयारी करने के लिए समय निश्चित कर लें. अत्यधिक कठिन विषय को ज्यादा समय देना है, उसके बाद कम कठिन विषय को और सबसे आखिर में आसान विषयों को समय देना है. इन तीनों हिस्सों की तैयारी के लिए टाईम टेबल बना ले. क्योंकि आप प्रवेश परीक्षा की तैयारी भी साथ में कर रहे है तो ये जरूरी है कि आप हर चैप्टर के हर पेरा को ध्यान से पढ़े और महत्वपूर्ण पॉइंट्स को अंडरलाईन कर ले.

2.टाईम टेबल बनाकर करे पढ़ाई-
सभी विषयों को पर्याप्त समय देने के लिए पढ़ाई का टाईम टेबल बनाना जरूरी है. इस टाईम टेबल में कठिन विषयों को ज्यादा समय दे और आसान विषयों को कम समय दें ताकि पढ़ाई में बैलेंस बना रहे. टाईम टेबल के अनुसार पढ़ाई करने से दिमाग शार्प होता है साथ धीरे-धीरे विषय की समझ होने पर पढ़ाई में पहले से ज्यादा मन लगने लगता है.

3.लायब्रेरी की मदद-
जो लोग बोर्ड के साथ प्रवेश परीक्षा की तैयारी भी कर रहे है उन लोगों को कभी भी शॉर्ट कट तरीका नही अपनाना चाहिए, क्योंकि प्रवेश परीक्षाओं में छोटी-छोटी बात पूछ ली जाती है जो कि कुंजी या गाईड में नही मिलती है. इसलिए एक ही विषय की तैयारी के लिए एक से अधिक किताब को पढे़ ताकि उस विषय से सम्बंछित कोई भी चीज़ छूटे नही. ज्यादा अच्छा रहेगा आप लायब्रेरी की सहायता लें.

4.नोट्स बनाना भी है जरूरी-
ज्यादा अच्छे से और बेहतर तरीके से याद रखने के लिए जरूरी है उस टॉपिक या विषय को लिख-लिख कर याद करें. इसलिए स्कूल में नोट्स बनवाये जाते है ताकि कम समय में अपना लिखा जल्दी से याद हो जाये. नोट्स बनाते समय इस बात का भी ध्यान रखे कि आप प्रवेश परीक्षा की तैयारी कर रहे है इसलिए महत्वपूर्ण पॉईंट्स पर टिक करना ना भूले.

5.पढ़ाई के दौरान ब्रेक लेना ना भूले-
पढ़ाई के दौरान हर 50 मिनट के बाद 10 मिनट के ब्रेक लेना ना भूले. दरअसल हमारा दिमाग किसी एक ही काम को लगातार करने से थक जाता है इसलिए पढ़ाई से ब्रेक लेकर घूम लें, या फिर टीवी भी देख सकते है, या जिस काम को करने से आपको आत्मिक शांति मिलती हो वही करे.

6.पिछले वर्ष के पेपर हल करना-
किसी भी परीक्षा में सफलता हासिल करने का सबसे आसान तरीका है उस परीक्षा के पिछले साल के पेपरों को हल किया जाए. इसके साथ ही प्रवेश परीक्षा के पेपर भी हल करें साथ ही मॉडल पेपर भी देखना ना भूले.

7.बोर्ड के पेपर लिखते समय ध्यान रखे ये बातें-
जब भी आप पेपर लिखना शुरू करें तो अपने प्रजेंटेशन का तरीका बदले और साफ-सुथरी रायटिंग में लिखने के साथ ही प्रश्न को बेहतर तरीके से समझाने की कोशिश करें. अगर जरूरी है जो डायग्राम या फिगर बनाना ना भूलें. अगर आप प्रश्न को डायग्राम से समझाने की कोशिश करेंगे तो सामने वाले को ज्यादा अच्छे से समझ आयेगा.

8.डर और चिंता से रहे दूर-
अक्सर बोर्ड परीक्षा के पास में आते ही विद्यार्थियों को डर और चिंता सताने लगती है और जब बोर्ड के साथ प्रवेश परीक्षा भी हो तो हर किसी को घबराहट होने लगती है. इसलिए ऐसे वक्त में जितना हो सके अपने आप को शांत रखने की कोशिश करें. क्योंकि डर और चिंता से आपके पेपर बिगड़ सकते है इसलिए बिना टेंशन के पेपर की तैयारी करें.

9.एकाग्रता है सबसे जरूरी-
अधिक्तर विद्यार्थियों की शिकायत होती है कि पढ़ते वक्त उनका ध्यान भटकता है, अगर आपके साथ भी ऐसा ही हो रहा है तो आपको इन कुछ टिप्स को अपनाना चाहिये-
-योग और प्राणायम का सहारा लें
-तेज गति से और बोल-बोल कर पढ़े इससे भी ध्यान एकाग्र रहता है
-लगातार नही पढ़े और हर 50 मिनट के बाद 10 मिनट का ब्रेक ले
-म्यूजिक सुने इससे मन को एकाग्र करने में मदद मिलती है.

10.अच्छी नींद है सबसे जरूरी-
दिमाग को तरोताजा करने के लिए नींद बेहद जरूरी है, खासकर बोर्ड परीक्षा की तैयारी कर रहे विद्यार्थियों को कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद लेना जरूरी है. अच्छी नींद लेने से याददाश्त तेज होती है, इसलिए जरूरी है कि रात में ज्यादा देर तक ना जागकर एक अच्छी नींद ली जाये.

अगर आप भी बोर्ड परीक्षा के साथ प्रवेश परीक्षा की तैयारी की रहे है तो टिप्स को अपनाइये. इन खास टिप्स से आप ना सिर्फ चिंता मुक्त रहेंगे बल्कि अपनी बोर्ड परीक्षा और प्रवेश परीक्षा की अच्छे से तैयारी भी कर पायेंगे.

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

    English summary
    The students who are preparing for board exams have double pressure at this time, one for their board exams and the second is entrance examination. It is important to have good preparation in both exams. Now while the short time is left for both of these examinations, the question arises in the minds of the students how both of them prepare for the exam together. So today we have come up with some important tips that can not only get good numbers in the board exam but success can also be achieved in the entrance exam.

    Get Latest News alerts from Hindi Careerindia

    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Careerindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Careerindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more