Haryana HBSE 12th Topper 2022 List हरियाणा बोर्ड 12वीं टॉपर काजल सेना में बनना चाहती हैं अफसर

Haryana Board HBSE 12th Topper 2022 List District Wise सीएम मनोहर लाल के पैतृक गांव निंदाना की आर्ट्स की छात्रा काजल 498 अंकों के साथ टॉपर रही है। काजल के पिता खेती करते हैं। उनकी 5 एकड़ पैतृक जमीन है। पिता रावत 7वीं पास हैं और मां गुड्डी 9वीं तक पढ़ी हैं। खेती-बाड़ी से ही परिवार का गुजर-बसर होता है। काजल के पिता का कहना है कि मेरी 2 बेटियां और एक बेटा है। बड़ी बेटी काजल 10वीं में ब्लॉक में सेकंड रही थी। 12वीं में नंबर-1 रही है। मेरे पास साधारण फोन है। कोरोना काल में बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाई करनी पड़ी। परिवार की स्थिति नया फोन खरीदने की नहीं थी। इसलिए 5 हजार रुपए खर्च कर टच स्क्रीन का सेकंड हैंड फोन खरीदकर बेटी को दिया। इसी से तीनों बच्चे बारी-बारी अपना ऑनलाइन होमवर्क करने लगे। हमारे घर में केबल का कनेक्शन भी नहीं है।' वहीं, काजल की मां गुड्डी ने कहा कि मैं और मेरे पति उच्च शिक्षा नहीं प्राप्त कर पाए, लेकिन बेटी ने पूरे प्रदेश में परिवार का जो नाम रोशन किया है, उससे सीना चौड़ा हो गया है।

 
Haryana HBSE 12th Topper 2022 List District Wise हरियाणा बोर्ड 12वीं टॉपर लिस्ट 2022 जिला अनुसार

एचबीएसई 12वीं टॉपर काजल ने बताया कि स्कूल में जो काम दिया जाता, उसे साथ-साथ पूरा करती थी। रात 12:00 बजे तक पढ़ाई करती। सुबह 4:00 बजे उठकर पढ़ती थी। कभी कोई ट्यूशन नहीं लिया। केवल स्कूल टीचर्स की ओर से दिए गए कार्य को खत्म करना ही प्राथमिकता रही। स्कूल में एक्स्ट्रा कक्षाएं लगाई जाती थीं। परिवार की आर्थिक स्थिति को देखते हुए फौज में नौकरी करना चाहती हूं। एक अफसर बनकर देशसेवा करने की इच्छा है।

स्टेट की टॉपर बनी जिले के निंदाना गांव की काजल ने इस मुकाम तक पहुंचने के लिए रोजाना 11 घंटे तक पढ़ाई की। इसके साथ-साथ उस पर अपने छोटे भाई-बहन को पढ़ाने की भी जिम्मेदारी रही। काजल ने बताया कि परीक्षा से एक माह पहले उनकी अंगुलियों में दिक्कत हो गई थी, वह इस बात को लेकर चिंतित हो उठी थी कि परीक्षा कैसे देगी। हालांकि परीक्षा से पहले उसकी उंगलियां ठीक हो गईं।

 

काजल ने बताया कि उनके पिता रावत नेहरा को दादा की मौत के बाद सातवीं कक्षा में ही पढ़ाई छोड़नी पड़ गई थी, वहीं मां गुड्डी भी केवल आठवीं तक ही पढ़ी हैं। कम पढ़े लिखे होने पर भी माता-पिता ने उन्हें हमेशा पढ़ाई के लिए प्रेरित किया और हमेशा उनके निर्णय का साथ दिया। अब आगे बढ़कर लेफ्टिनेंट बनने का सपना संजोया है।

मंत्र: स्कूल बंद थे तो सारे डाउट्स इंटरनेट से खुद हल ही किए।
मंत्र: डेढ़ घंटा पढ़ाई के बाद 15 मिनट रेस्ट, सुबह 1 घंटा योग।
मंत्र: अगले दिन पढ़ाए जाने वाले विषय को पहले ही पढ़ लेती थी।
मंत्र: किताब ही मेरी दुनिया, पढ़ाई के अलावा कोई शौक नहीं है।
मंत्र: अध्यापकों के दिए होमवर्क को खत्म करना प्राथमिकता रही।

हरियाणा बोर्ड 12वीं टॉपर 2022 लिस्ट (HBSE 12th Topper List 2022)
रैंक: टॉपर नाम: मार्क्स
1: काजल: 498
2: मुस्कान: 496
2: साक्षी: 496
3: श्रुति: 495
3: पूनम: 495

हरियाणा बोर्ड 12वीं साइंस टॉपर 2022 लिस्ट (HBSE 12th Science Topper List 2022)
रैंक: नाम: मार्क्स
1: पायल: 494
2: कपी: 493
2: महक: 493
2: किरण देवी: 493
3: तमन्ना: 492

हरियाणा बोर्ड 12वीं कॉमर्स टॉपर 2022 लिस्ट (HBSE 12th Commerce Topper List 2022)
रैंक: नाम: मार्क्स
1: मुस्कान: 496
1: साक्षी: 496
2: पूनम: 495
3: याशिका: 494

हरियाणा बोर्ड 12वीं आर्ट्स टॉपर 2022 लिस्ट
रैंक: नाम: मार्क्स
1: काजल: 498
2: श्रुति: 495
3: कृति डिंडयाल: 494
3: नेहा: 494

एचबीएसई 12वीं रिजल्ट 2022 पास प्रतिशत
2022: 87.50%
2020: 71.90%
2019: 73.57%
2018: 65.63%
2017: 59.26%
2016: 64.69%
2015: 51.79%

रेगुलर स्कूल पास प्रतिशत
लड़कियां: 90.61%
लड़के: 83.96%

प्राइवेट स्कूल पास प्रतिशत
लड़कियां: 87.50&
लड़के: 77.85%

HBSE 12th Result 2022 Check Link हरियाणा बोर्ड 12वीं रिजल्ट 2022 मोबाइल पर यहां चेक करें

HBSE 12th Topper 2022 List हरियाणा बोर्ड 12वीं टॉपर लिस्ट, एचबीएसई 12वीं पास प्रतिशत डिटेल चेक करें

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Haryana Board HBSE 12th Topper 2022 List District Wise Kajal, an arts student from Nindana, the native village of CM Manohar Lal, has been the topper with 498 marks. Kajal's father is a farmer. He has 5 acres of ancestral land. Father Rawat is 7th pass and mother Guddi has studied till 9th. The family earns a living by farming. Kajal's father says that I have 2 daughters and a son. Elder daughter Kajal was second in the block in 10th. Ranked 1 in 12th. I have a simple phone. During the Corona period, children had to study online. The family was not in a position to buy a new phone. Therefore, after spending 5 thousand rupees, buying a second hand phone of touch screen and giving it to the daughter. With this, all the three children started doing their online homework in turn. We don't even have a cable connection in our house. At the same time, Kajal's mother Guddi said that my husband and I could not get higher education, but the chest has widened due to the daughter who has brought laurels to the family in the entire state.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X