बैचलर ऑफ पैरामेडिकल टेक्नोलॉजी (बीपीएमटी) कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस और टॉप कॉलेज के बारे में

बैचलर ऑफ पैरामेडिकल टेक्नोलॉजी जिसे शॉर्ट में बीपीएमटी भी कहा जा सकता है 3 साल का अंडरग्रेजुएट कोर्स है। जिसे कक्षा 12वीं साइंस स्ट्रीम के छात्र कर सकते हैं। ये कोर्स पैरामेडिक कोर्स में सबसे महत्वपूर्ण कोर्सेस में से एक है। हैल्थ केयर सेक्टर में पैरामेडिकल एक महत्वपूर्ण सेक्टर है, जो छात्र इस सेक्टर में अपना करियर बनाने की इच्छा रखते हैं। उन छात्रों के लिए ये कोर्स के अच्छा ऑप्श हो सकता है।

 

बीपीएमटी कोर्स में छात्रों को इंजरी मैनेजमेंट, रेडियोलॉजी, मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी, ऑपरेशन थिएटर टेक्नोलॉजी और ब्लड ट्रांसफ्यूजन टेक्नोलॉजी से संबंधित है। इस कोर्स को पूरा करने के बाद छात्र सराकारी अस्पतालों और प्राइवेट अस्पतालों में कार्य कर साल का 2 से 5 लाख रुपये कमा सकते हैं। आइए इस लेख के माध्यम से आपको इस कोर्स से संबंधित योग्यता, कॉलेज, फीस और करियर ऑप्शन के बारे में बताएं।

बैचलर ऑफ पैरामेडिकल टेक्नोलॉजी (बीपीएमटी) कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस और टॉप कॉलेज के बारे में

बैचलर ऑफ पैरामेडिकल टेक्नोलॉजी : योग्यता

 

बैचलर ऑफ पैरामेडिकल टेक्नोलॉजी कोर्स करने के लिए छात्रों कोर्स की योग्यता के बारे में जानकारी होना आवश्यक है। आइए आपको कोर्स की योग्यता के बारे में बताएं।

- मान्यता प्राप्त संस्थान से साइंस स्ट्रीम में कक्षा 12वीं पास होना आवश्यक है।
- साइंस में पढ़ाए जाने वाले मुख्य विषयों में पीसीबी विषय (फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी) का ज्ञान आवश्यक है।
- कक्षा 12वीं में छात्रों के के कम से कम 50 प्रतिशत अंक होने चाहिए।
- कक्षा 12वीं बोर्ड परीक्षा में शामिल होने वाला छात्र भी कोर्स में प्रवेश के लिए आवेदन कर सकता है।
- कोर्स में प्रवेश मेरिट और प्रवेश परीक्षा के माध्यम से लिया जा सकता है। (मुख्य तौर पर प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया जाता है भारत के कुछ संस्थान ही हैं जो मेरिट बेस पर प्रवेश देते हैं।)

बैचलर ऑफ पैरामेडिकल टेक्नोलॉजी : प्रवेश परीक्षा

एमएचटी सीईटी
नीट
ईएएमसीईटी
केईएएम
जीसीईटी
केरला सीईई

बीपीएमटी कोर्स में प्रवेश के लिए ऊपर दी गई प्रवेश परीक्षाएं मुख्य है। आपको बता दें कि राज्य और नेशनल लेवल पर आयोजित होने वाली प्रवेश परीक्षा के अलावा कई संस्थान है जो संस्थान आधारित प्रवेश परीक्षा का आयोजन करते हैं।

बैचलर ऑफ पैरामेडिकल टेक्नोलॉजी : प्रवेश प्रक्रिया

आवेदन पत्र- किसी भी कोर्स में प्रवेश लेने के लिए चाहें वह मेरिट आधरित हो या फिर प्रवेश परीक्षा के आधार पर छात्रों को सबसे पहल आवेदन प्रक्रिया पूरी करनी होती है। आवेदन पत्र में आवश्यक सारी जानकारी और दस्तावेज अपलोड कर आवेदन शुल्क का भुगतान करना है।

प्रवेश परीक्षा - संस्थान, राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित होने वाली प्रवेश परीक्षा में शामिल होना है।

परिणाम - प्रवेश परीक्षा के बाद रिजल्ट जारी किया जाता है जिसमें छात्रों को उनके प्रदर्शन के अनुसार रैंक प्राप्त होती है।

ऑनलाइन चॉइस फिलिंग - रिजल्ट के बाद छात्रों को आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर संस्थानों के लिए चॉइस फिलिंग प्रक्रिया पूरी करनी है।

डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन - रैंक के आधार पर प्राप्त संस्थान में जाकर छात्रों को डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन प्रक्रिया पूरी करनी है साथ ही कोर्स में प्रवेश की फीस का भुगतान करना है।

मेरिट आधार पर प्रवेश लेने वाले छात्रों को बता दें कि संस्थान द्वारा एक मेरिट लिस्ट जारी की जाती है ये लिस्ट कक्षा 12वीं के अंकों के आधार पर जारी की जाती है। मेरिट बेस पर प्रवेश लेने के लिए छात्रों को कक्षा 12वीं की परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन करना होगा क्योंकि कक्षा 12वीं के अंकों के आधार पर ही छात्रों को संस्थानों में प्रवेश प्राप्त होता है।

बैचलर ऑफ पैरामेडिकल टेक्नोलॉजी : कॉलेज और फीस

गवर्नमेंट ऑफ मेडिकल कॉलेज, नागपुर - 30,000 रुपये
बायरामजी जीजीभॉय गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, पुणे - 43,600 रुपये
सशस्त्र बल मेडिकल कॉलेज, पुणे - 20,000 से 50,000 रुपये
लोकमान्य तिलक म्युनिसिपल मेडिकल कॉलेज, मुंबई - 47,585 रुपये
सरकारी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल, औरंगाबाद - 32,700 रुपये
टोपीवाला नेशनल मेडिकल कॉलेज, मुंबई - 45,160 रुपये
श्री भाऊसाहेब गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, धुले - 35,704 रुपये

बैचलर ऑफ पैरामेडिकल टेक्नोलॉजी : सिलेबस

प्रथम वर्ष
एनाटॉमी 1
फिजियोलॉजी
बायोकेमेस्ट्री
माइक्रोबायोलॉजी
पैथोलॉजी
फॉरेंसिक मेडिसिन
पीसीएम : रोल ऑफ पैरामेडिकल इन मेडिकल एंड सर्जिकल इन इमरजेंसी
कम्युनिटी ऑर्गेनाइजेशन
हॉस्पिटल मैनेजमेंट
फार्मोकोलॉजी
जनरल मेडिकल एंड सर्जिकल
नर्सिंग
हेल्थ एंड सैनिटाइजेशन

द्वितीय वर्ष
ऑब्सटेट्रिक्स एंड गाइनेकोलॉजी
फिजिक्स एंड इमेजिंग टेक्नोलॉजी
एनाटॉमी 2
प्रोसीजर एंड पेशेंट केयर
गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
बेसिक न्यूरोसाइंसेज
बेसिक और अप्लाइड परफ्यूशन टेक्नोलॉजी
ऑटोप्सी एंड पोस्टमार्टम रूम प्रोसीजर
क्लीनिकल फॉरेंसिक मेडिसिन
ऑब्सटेट्रिक्स एंड गाइनेकोलॉजी 2
फिजिक्स एंड इमेजिंग टेक्नोलॉजी

तृतियी वर्ष
रेडिएशन: एडमिनिस्ट्रेशन और सेफ्टी
ट्रांसफ्यूजन रिएक्शन
यूरोलॉजी
मेंटल और नर्वस डिसऑर्डर्स
रिजेंट एडवांस इन परफ्यूशन टेक्नोलॉजी
फॉरेंसिक पैथोलॉजी

बैचलर ऑफ पैरामेडिकल टेक्नोलॉजी : जॉब प्रोफाइल और सैलरी

मेडिकल लैबोरेट्री टेक्निशियन - 2.5 से 3 लाख रुपये सालाना
ऑपरेशन थियेटर टेक्निशियन - 3 से 4 लाख रुपये सालाना
एंडोस्कोपी टेक्निशियन - 3.5 से 5 लाख रुपये सालाना
ब्लड ट्रांसफ्यूजन टेक्नीशियन - 8 से 9 लाख रुपये सालाना

बैचलर ऑफ पैरामेडिकल टेक्नोलॉजी : भर्तीकर्ता

नर्सिंग
थेरेपी
पैरामेडिक हेल्थकेयर वर्कर्स
नर्सिंग होम
डॉक्टरों असिस्टेंट
शिक्षण
रिसर्च डेवलपमेंट
पैरामेडिकल साइंस ऑब्सटेट्रिक्स
फ्रैक्चर मैनेजमेंट
स्पाइनेल इंजरी मैनेजमेंट और जनरल एक्सीडेंट

बैचलर ऑफ पैरामेडिकल टेक्नोलॉजी : स्कोप

बीएमपीटी कोर्स करने के बाद छात्रों के पास दो ऑप्शन होते हैं। पहला वो नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं और ऊपर दिए गए पदों पर कार्य कर साल का 2 से 6 लाख रुपये कमा सकते हैं। दूसरा ऑप्शन है उच्च शिक्षा। जो छात्र कोर्स पूरा आगे उच्च शिक्षा प्राप्त करने की इच्छा रखते हैं वह छात्र निम्नलिखित कोर्स को के लिए आवेदन कर सकते हैं। जिन कोर्स के लिए आप आवेदन कर सकते हैं वह इस प्रकार है-

- मास्ट इन मेडिकल लेबोटेररी टेक्नोलॉजी
- मास्टर इन रेडियोलॉजी
- पीजी डिप्लोमा
- एमफिल (मास्टर के बाद किया जा सकता है)
- पीएचडी कोर्स ( मास्ट के बाद किया जा सकता है।)

यह खबर पढ़ने के लिए धन्यवाद, आप हमसे हमारे टेलीग्राम चैनल पर भी जुड़ सकते हैं।

बीएससी इन मेडिकल रेडियोलॉजी एंड इमेजिंग टेक्नोलॉजी कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस और टॉप कॉलेज के बारे में

बीएससी इन नर्सिंग कैसे करें, जानिए कोर्स, फीस और टॉप कॉलेज

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Bachelor of Paramedical Technology which can also be called as BPMT in short is a 3 years undergraduate course. Which can be done by class 12th science stream students. In BPMT course, students are exposed to Injury Management, Radiology, Medical Lab Technology, Operation Theater Technology and Blood Transfusion Technology. After completing the course, students can work in government hospitals and private hospitals.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X