Tap to Read ➤

Job Colors किस रंग का संबंध किस जॉब से है जानिए

रिक्रूटमेंट एजेंसी क्यूजॉब्स के मुताबिक बीते वित्त वर्ष 2021-22 में ब्लू कॉलर जॉब्स की वैंकेसी में 73% की बढ़ोतरी हुई है।
Narender Sanwariya
Blue Job Color's
अकेले क्यूजॉब्स पर ही 20 लाख ब्लू व ग्रे जॉब्स के लिए विभिन्न कंपनियों ने विज्ञापन जारी किए थे।
दरअसल किसी जॉब टाइटल में दिया गया रंग, नौकरी का सेक्टर, वर्किंग सेटअप व कल्चर आदि के बारे में बताता है।
उदाहरण के तौर पर ग्रीन कॉलर जॉब्स का संबंध एन्वायरनमेंट व रिन्यूएबल एनर्जी की नौकरियों से है।
ऐसे ही व्हाइट कॉलर जॉब्स में एडमिनिस्ट्रेटिव व एग्जीक्यूटिव जॉब्स होते हैं। सामान्य तौर पर ये प्रोफेशनल्स ऑफिस वर्क करते हैं।
Job Color's
जैसे-फाइनेंशियल मैनेजर्स, अकाउंटेंट आदि। जॉब टाइटल के रंग से आप न केवल इंडस्ट्री ट्रेंड को समझ सकते हैं बल्कि अपनी जॉब सर्च को भी मजबूती दे सकते हैं।
गोल्ड कॉलर जॉब्स- इस रंग की नौकरियों का संबंध अनुभवी व अधिक शिक्षित पेशेवरों जैसे डॉक्टर्स, वकील, साइंटिस्ट आदि से है।
ब्लैक कॉलर जॉब्स- इनका संबंध माइनिंग व ऑइल इंडस्ट्री में काम करने वाले पेशेवरों से है।
पिंक कॉलर जॉब्स- सर्विस सेक्टर जैसे रिटेल, सेल्स आदि में काम करने वाले प्रोफशनल्स पिंक कॉलर वर्कर कहलाते हैं।
ग्रे कॉलर जॉब्स- हेल्थ केयर, आईटी पेशेवरों आदि को ग्रे कॉलर वर्कर कहा जाता है। इनके रिटायरमेंट की कोई सीमा नहीं होती।
Job Color's
ब्लू कॉलर जॉब्स- इस तरह की नौकरियों में वर्कर्स को शारीरिक श्रम करना होता है।
पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें