Tap to Read ➤

UPSC टॉपर श्रुति शर्मा ने बताया कैसे बनें IAS ऑफिसर

संघ लोक सेवा आयोग ने 30 मई 2022 को दोपहर 1 बजे यूपीएससी सिवल सेव रिजल्ट 2021 घोषित कर दिया है। यूपीएससी सिविल सेवा फाइनल रिजल्ट 2021-22 upsc.gov.in पर ऑनलाइन जारी किया गया है।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
यूपीएससी सिवल सेवा फाइनल इंटरव्यू रिजल्ट 2022 के अनुसार, नई दिल्ली की रहने वाली श्रुति शर्मा ने UPSC सिविल सेवा परीक्षा में टॉप किया है। यूपीएससी टॉपर श्रुति शर्मा दिल्ली विश्वविद्यालय के सेंट स्टीफेंस कॉलेज से इतिहास (ऑनर्स) में स्नातक किया है।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद, श्रुति शर्मा ने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) से पोस्ट ग्रेजुएशन किया। श्रुति शर्मा ने जामिया मिलिया इस्लामिया आवासीय कोचिंग अकादमी (आरसीए) से यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा की ट्रेनिंग ली है।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
उत्तर प्रदेश बिजनौर की रहने वाली यूपीएससी टॉपर श्रुति शर्मा ने कहा कि यूपीएससी में सफलता के लिए काफी लंबा सफर तय किया है। यूपीएससी की तैयारी के लिए उम्मीदवारों को धैर्य रखने की जरूरत है। यूपीएससी में आपको सफलता तभी मिलेगी, जब आप वह करें जो आपको पसंद है। आपको अपने पसंद का विषय चुनने से पढ़ाई के लिए लिए मोटिवेशन मिएगा।
यूपीएससी की तैयारी के लिए आपको किसी भी विषय के चयन के साथ-साथ समय के प्रबंधन पर भी अधिक ध्यान देना होगा। नए उम्मीदवारों को यूपीएससी की तैयारी में किसी भी प्रकार की जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए। यूपीएससी में अगर सफलता चाहिए तो आपको धैर्य रखना होगा। जल्दबाजी में आपके महत्वपूर्ण विषय छूट सकते हैं।
यूपीएससी में जल्दबाजी न करें
यूपीएससी परीक्षा के महत्वपूर्ण टॉपिक
यूपीएससी टॉपर श्रुति शर्मा ने कहा कि इतिहास और पर्यावरण के विषय यूपीएससी की तैयारी के लिए सबसे महत्वपूर्ण होते हैं। हाल ही में मैंने देखा है कि जब मैं यूपीएससी परीक्षा की तैयारी कर रही थी तो तो कुछ विषयों को दोहराया जा रहा था, जबकि यह गलत है। यूपीएससी परीक्षा पेपर का पैटर्न हर बार नया होता है, लेकिन विषय से बाहर कुछ भी नहीं होता।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
यूपीएससी टॉपर श्रुति शर्मा ने अपनी तैयारी की रणनीति के बारे में बताया कि किसी भी जगह सफलता के लिए महनत जरूरी है। जब आप यूपीएससी की तैयारी करें तो आपको उसके हर कॉन्सेप्ट को समझना होगा। जो भी आप विषय चुन रहे हैं, उसके कान्सेप्ट को बिना समझे सफलता प्राप्त नहीं हो सकती। इसलिए जब भी आप यूपीएससी की तैयारी करें तो विषयों के कान्सेप्ट को समझें।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
श्रुति शर्मा ने कहा कि मेरी इस सफलता का श्रेय मेरे टीचर्स, माता-पिता और दोस्तों को जाता है। मेरी इस यात्रा में उनका बहुत बड़ा योगदान रहा है। जिसके लिए मुझे बहुत मेहनत और धैर्य की आवश्यकता थी। मुझे यकीन नहीं था कि मैं टॉप करूंगी, मैं बहुत खुश हूं। मैं यकीन था कि मैं यूपीएससी में पास हो जाऊंगी, लेकिन टॉप करने की कोई उम्मीद नहीं थी।
श्रुति शर्मा के बाद अंकिता अग्रवाल ने दूसरा स्थान प्राप्त किया है। अंकिता ने दिल्ली विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र (ऑनर्स) में स्नातक किया है और वैकल्पिक विषय के रूप में राजनीति विज्ञान और अंतर्राष्ट्रीय संबंधों की पढ़ाई की है। कंप्यूटर साइंस में बीटेक से स्नातक गामिनी सिंगला ने वैकल्पिक विषय के रूप में समाजशास्त्र के साथ रैंक में तीसरा स्थान हासिल किया है।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
पहली बार यूपीएससी टॉपर लिस्ट में टॉप 1 से 3 रैंक तक महिलाओं को मिली हैं। इस वर्ष यूपीएससी द्वारा नियुक्ति के लिए कुल 685 उम्मीदवारों की सिफारिश की गई है। इनमें 244 सामान्य, 73 ईडब्ल्यूएस, 203 ओबीसी, 105 एससी और 60 एसटी वर्ग के उम्मीदवार शामिल हैं।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
पिछले साल, UPSC सिविल सेवा परीक्षा 2020 में AIR 1 बिहार के शुभम कुमार द्वारा सुरक्षित किया गया था। वह बिहार के कटिहार जिले का रहने वाला है। वह आईआईटी-बॉम्बे के पूर्व छात्र हैं। कुमार ने आईआईटी-बॉम्बे से बीटेक की डिग्री हासिल की है। उन्होंने आईआईटी-बॉम्बे से सिविल इंजीनियरिंग में बीटेक किया था।
बता दें कि सुश्री शर्मा ने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) से स्नातकोत्तर किया और पिछले चार वर्षों से सिविल की तैयारी कर रही थीं और जामिया मिलिया इस्लामिया की आवासीय कोचिंग अकादमी की छात्रा थीं।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
जामिया आरसीए को विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) द्वारा अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अल्पसंख्यकों जैसी श्रेणियों से संबंधित छात्रों को मुफ्त कोचिंग और आवासीय सुविधाएं प्रदान करने के लिए वित्त पोषित किया जाता है।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें