Tap to Read ➤

सर्विस चार्ज वसूलने पर ग्राहक यहां करें शिकायत दर्ज

होटल और रेस्टोरेंट ग्राहकों से अब सर्विस चार्ज नहीं वसूल सकेंगे। सेंट्रल कंज्यूमर प्रोटेक्शन अथॉरिटी (सीसीपीए) ने नए नियम जारी किए हैं।
Narender Sanwariya
सर्विस चार्ज को लेकर बढ़ती शिकायतों के बीच सेंट्रल कंज्यूमर प्रोटेक्शन अथॉरिटी (सीसीपीए) ने अनुचित व्यापार व्यवहार और सर्विस चार्ज लगाने के संबंध में उपभोक्ता अधिकारों के उल्लंघन को रोकने के लिए गाइडलाइंस जारी की हैं।
इसके मुताबिक होटल या रेस्टोरेंट खाने के बिल में डिफाल्ट रूप से सर्विस चार्ज नहीं जोड़ेंगे। किसी अन्य मद में भी सर्विस चार्ज की वसूली नहीं की जा सकेगी।
इसमें कहा गया है कि कोई भी होटल या रेस्टोरेंट ग्राहक को सर्विस चार्ज देने के लिए बाध्य नहीं कर सकता।
ग्राहक को स्पष्ट रूप से बताना होगा कि सर्विस चार्ज स्वैच्छिक, वैकल्पिक और ग्राहक के विवेक पर रहेगा।
सर्विस चार्ज
सर्विस चार्ज के कलेक्शन के आधार पर ग्राहकों पर सेवा के प्रावधान और प्रवेश को लेकर किसी तरह पाबंदी नहीं लगाई जा सकेगी।
गाइडलाइंस में यह भी कहा गया है कि होटल और रेस्टोरेंट खाने के बिल के साथ सर्विस चार्ज जोड़कर और कुल राशि पर जीएसटी लगाकर नहीं वसूल सकते।
सीसीपीए गाइड्लाइन
यदि कोई होटल या रेस्टोरेंट इसका उल्लंघन करते हुए सेवा शुल्क लगाता है, तो ग्राहक इसे बिल राशि से हटाने का अनुरोध कर सकता है।
राष्ट्रीय उपभोक्ता हेल्पलाइन 1915 पर कॉल कर या उसके एप से शिकायत कर सकते हैं। यह हेल्पलाइन वैकल्पिक विवाद निवारण तंत्र के रूप में काम करती है।
अनुचित व्यापार व्यवहार के लिए उपभोक्ता आयोग में शिकायत हो सकती है।
सीसीपीए द्वारा जांच और कार्यवाही के लिए जिला कलेक्टर से शिकायत कर सकते हैं।
सीसीपीए को com-ccpa@nic.in पर ई-मेल से भी शिकायत भेज सकते हैं।
पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें