Tap to Read ➤

RATAN TATA के जीवन से जुड़े ये तथ्य हर कोई नहीं जानता

भारतीय कॉरपोरेट जगत के दिग्गज और परोपकारी रतन टाटा आज 28 दिसंबर 2022 को 85 साल के हो गए हैं।
Narender Sanwariya
रतन टाटा के 118 लाख ट्विटर फॉलोअर्स हैं, जो इस तथ्य की पुष्टि करते हैं कि वह न केवल भारत में बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी सबसे सम्मानित व्यवसायियों में से एक हैं।
आईआईएफएल वेल्थ हुरुन की इंडिया रिच लिस्ट 2022 के अनुसार, रतन टाटा सोशल मीडिया पर सबसे अधिक फॉलो किए जाने वाले भारतीय उद्योगपति हैं। इस साल उनके ट्विटर फॉलोअर्स में 18 लाख की वृद्धि हुई है।
रतन टाटा अपने व्यापारिक साम्राज्य के लिए अत्यधिक पहचाने जाते हैं और अपनी मजबूत कार्य नीति के लिए प्रसिद्ध हैं। लेकिन फिर भी उनका नाम देश के सबसे अमीर लोगों की सूची में नहीं आता है।
रतन टाटा की 3800 करोड़ रुपये की नेटवर्थ का बड़ा हिस्सा टाटा संस से आता है। आईआईएफएल वेल्थ हुरुन इंडिया रिच लिस्ट 2022 के अनुसार, वह 421वें सबसे अमीर भारतीय हैं।
वर्ष 2021 में रतन टाटा की कुल संपत्ति 3,500 करोड़ रुपये थी। तब उन्हें 433 वें स्थान पर रखा गया था। टाटा समूह आईटी से लेकर नमक तक कई तरह के उद्योगों में शामिल है।
आपको जानकर हैरानी होगी कि रतन टाटा, टाटा ट्रस्ट होल्डिंग कंपनी टाटा संस के तहत टाटा फर्मों द्वारा किए गए कमाई का 66% धर्मार्थ कारणों के लिए योगदान करते हैं।
टाटा संस प्राथमिक निवेश होल्डिंग कंपनी है और टाटा इंटरप्राइजेज की प्रायोजक है। परोपकारी ट्रस्ट जो कला, स्वास्थ्य, आजीविका सृजन और शिक्षा में सहायता करते हैं।
टाटा समूह की आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, 31 मार्च 2022 तक 311 बिलियन डॉलर (23.6 ट्रिलियन रुपये) के कुल बाजार मूल्य वाली 29 सार्वजनिक रूप से कारोबार करने वाली टाटा कंपनियां थीं।
रतन टाटा के परदादा जमशेदजी टाटा का परिवार पचास से अधिक वर्षों से धर्मार्थ प्रयासों में लगा हुआ है।
टाटा समूह की आधिकारिक वेबसाइट से मिली जानकारी के अनुसार, 2021-22 में सभी टाटा फर्मों का कुल राजस्व 9,35,000 से अधिक लोगों के कुल कार्यबल के साथ $128 बिलियन (लगभग 9.6 ट्रिलियन रुपये) था।
Savitribai Phule Life Facts
Ambedkar Life Facts