Tap to Read ➤

Hindi Diwas 2023: हिंदी साहित्य जगत के 10 प्रमुख लेेखक

विश्व हिंदी दिवस 2023 के अवसर पर जानिए हिंदी जगत के 10 प्रमुख लेखकों के बारे में
chailsy raghuvanshi
1. कबीर दास
कबीर दास 15वीं सदी के रहस्यवादी संत और कवी थे, जिनके लेखन ने हिंदू धर्म के भक्ति आंदोलन को प्रभावित किया। इनका जन्म उत्तर प्रदेश के वाराणसी में स्थित काशी में हुआ था।
2. मुंशी प्रेमचंद
मुंशी प्रेमचंद, हिंदुस्तानी साहित्य (उपन्यास सम्राट) थे, जो कि एक कहानीकार और नाटककार लेखक भी थे। प्रेमचंद का जन्म वर्ष 1880 में 31 जुलाई को लमही गांव (वाराणसी के पास) में हुआ था।
सीताराम सेकसरिया पश्चिम बंगाल के एक भारतीय स्वतंत्रता कार्यकर्ता, गांधीवादी, समाज सुधारक और संस्था निर्माता थे, जिन्हें मारवाड़ी समुदाय के उत्थान के लिए उनके योगदान के लिए जाना जाता है।
3. सीताराम सेकसरिया
लीलाधर मंडलोई एक लेखक, कवि, फिल्म निर्माता और फोटोग्राफर हैं। उन्होंने कविता, साहित्य और संस्कृति पर 36 पुस्तकें प्रकाशित की हैं और कई सांस्कृतिक और साहित्यिक हस्तियों पर वृत्तचित्र फिल्मों का निर्माण/निर्देशन किया है।
4. लीलाधर मंडलोई
5. विष्णु प्रभाकर
भारत में एक बहुत ही प्रतिभाशाली लेखक हैं। उनका उपन्यास, अर्धनारीश्वर उनके द्वारा इतनी खूबसूरती से लिखा गया था,  जिसको कारण उन्हें साहित्य अकादमी पुरस्कार और पद्म भूषण से सम्मानित किया गया।
6. यशपाल
हिंदी के प्रमुख लेखकों में एक यशपाल जी को उपन्यास, मेरी तेरी उसकी बात के लिए साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
7. रवींद्र केलेकर
रवींद्र केलेकर एक प्रसिद्ध भारतीय लेखक थे, जिन्होंने मुख्य रूप से कोंकणी भाषा में लिखा था, हालांकि वे हिंदी भाषा के भी लेखक थे।
8. राम चंद्र शुक्ल
राम चंद्र शुक्ल जिन्हें आचार्य शुक्ल के नाम से जाना जाता है।
इन्हें हिंदी साहित्य के इतिहास के पहले संहिताकार के रूप में माना जाता है
9. जयशंकर प्रसाद
जयशंकर प्रसाद आधुनिक हिंदी साहित्य के साथ-साथ हिंदी रंगमंच के एक प्रमुख व्यक्ति थे। जिन्हें छायावादी कवि के रूप में भी जाना जाता है।
10. मुक्तीदा हसन निदा फ़ाज़ली
मुक्तीदा हसन निदा फ़ाज़ली, जिन्हें निदा फ़ाज़ली  के नाम से जाना जाता है, एक प्रमुख भारतीय हिंदी और उर्दू कवि, गीतकार और संवाद लेखक थे।
पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें