Tap to Read ➤

Tips: जीवन में सफलता के लिए तीन ब्रेन एक्सरसाइज

आपकी क्रिएटिविटी भी एक मांसपेशी की तरह है, जितनी एक्सरसाइज करेंगे उतने ही इनोवेटिव सॉल्यूशंस और आइडियाज सोच पाएंगे।
Narender Sanwariya
इसका सबसे अच्छा तरीका है अपने ब्रेन को अवसर देखने के लिए प्रशिक्षित करना।
स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी के हैस्सो प्लैटनर इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन की डायरेक्टर साराह स्टेइन ग्रीनबर्ग के अनुसार ऐसी तीन एक्सरसाइजेज हैं जो स्मार्ट तरीके से सोचने और तेजी से प्रॉब्लम्स हल करने में मददगार है।
आपकी प्रॉब्लम के समान समस्या का हल खोजने वाले व्यक्ति को ढूढ़ें, रिसर्च करें, आर्टिकल्स पढ़ें और समझें कि सॉल्यूशन क्यों कारगर रहा।
स्टडी: मौजूद सॉल्यूशन को समझें
इसका फायदा किसे पहुंचा और अब इसकी मदद से लोग क्या करने में समर्थ हुए हैं।
समस्या का हल खोजने के लिए ऐसे व्यक्ति को चुनें जो इस अनुभव से गुजरा हो। एक दिन उनके साथ बिताएं और देखें कि वे क्या करते हैं।
शैडोइंग: एक्सपर्ट को देखकर सीखें
दिन के अंत में अपने ऑब्जर्वेशन का आकलन कर देखें कि आपने क्या सीखा।
सीइंग: अपने आस-पास बारीकी से देखें
आसपास की गतिविधियों को बारीकी से देखें और आकलन करें कि इसमें दूसरों ने क्या नजरंदाज किया।
असम में बैकग्राउंड डिटेल्स जीवन को विविधतापूर्ण और वास्तविक बनाती है। यही क्वालिटी क्रिएटिव वर्क के लिए भी जरूरी है।
स्वामी विवेकानंद के बारे में हर कोई नहीं जानता ये 10 बातें
Swami Vivekananda Life