Tap to Read ➤

Sardar Vallabhbhai Patel Jayanti 2022: एकता पर टॉप 10 कोट्स

भारत में हर साल सरदार वल्लभभाई की जंयती पर को राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाया जाता है। भारत इस साल पटेल की 147वीं जयंती मना रहा है। आइए उनकी जयंती और राष्ट्रीय एकता दिवस पर एकता और अखंजडता पर दिए गए टॉप 10 कोट्स।
Varsha Kushwaha
हमारा झंडा कई राजनीतिक दृष्टिकोणों में से एक नहीं है। बल्कि, झंडा हमारी राष्ट्रीय एकता का प्रतीक है।
आम प्रयास से हम देश को एक नई महानता की ओर ले जा सकते हैं, जबकि एकता की कमी हमें नई आपदाओं में डाल देगी।
एकता के बिना जनशक्ति एक ताकत नहीं है, जब तक इसे सामंजस्य और ठीक से एकजुट नहीं किया जाता है, तब यह एक आध्यात्मिक शक्ति बन जाती है।
एकजुट रहें। पूरी विनम्रता के साथ आगे बढ़ें, लेकिन अपने अधिकारों और दृढ़ता की मांग करते हुए, आपके सामने आने वाली स्थिति के लिए पूरी तरह से जाग्रत हों।
हमने ईमानदारी से और निश्चित तरीके से अपनी कमजोरियों को दूर करने की कोशिश की है। अगर किसी सबूत की जरूरत है, हिंदू-मुस्लिम एकता है
एक लक्ष्य - एक भारत श्रेष्ठ भारत
जाति और पंथ का कोई भेद हमें बाधित नहीं करना चाहिए। सभी भारत के बेटे-बेटी हैं। हम सभी को अपने देश से प्यार करना चाहिए और आपसी प्यार और मदद पर अपने भाग्य का निर्माण करना चाहिए
अब हर भारतीय को यह भूल जाना चाहिए कि वह राजपूत, सिख या जाट है। उसे याद रखना चाहिए कि वह एक भारतीय है और उसे अपने देश में हर अधिकार है लेकिन कुछ कर्तव्यों के साथ।
आज भारत के सामने मुख्य कार्य खुद को एक सुगठित और एकजुट शक्ति के रूप में मजबूत करना है।
जब जनता एक हो जाती है, तब उसके सामने क्रूर से क्रूर शासन भी नहीं टिक सकता। अतः जात-पांत के ऊंच-नीच के भेदभाव को भुलाकर सब एक हो जाइए।
Unity Day Slogan