Tap to Read ➤

पीजी डिप्लोमा: ओर्थोपेडिक्स कोर्स की फुल डिटेल

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन ओर्थोपेडिक्स दो साल की अवधि का फुल टाइम कोर्स है।
chailsy raghuvanshi
पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन ओर्थोपेडिक्स कोर्स में छात्रों को हड्डी रोग से संबंधित चीजों के बारे में पढ़ाया व सिखाया जाता है।
इस कोर्स में छात्रों को हड्डी से संबंधित बीमारियों व इलाज करने के तरीकों के बारे में प्रैक्टिकल व थ्योरेटिकल नॉलेज देने के लिए डिज़ाइन किया गया है।
पीजीडी इन ओर्थोपेडिक्स कोर्स में आर्थोपेडिक ट्रेनी और एडवांसड थेरेपिस्ट के लिए व्यापक सामग्री है, जो पहले से ही मस्कुलोस्केलेटल सिस्टम से संबंधित बीमारियों से निपटने का अनुभव प्राप्त कर चुके हैं और सर्जिकल और नॉन सर्जिकल ट्रीटमेंट में अत्यधिक कुशल है।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
जॉब प्रोफाइल- ऑप्थेल्मिक असिस्टेंट, ऑप्थेल्मिक टेक्नीशियन, ऑप्टोमेट्री असिस्टेंट और लैब असिस्टेंट या ऑप्थेल्मिक नर्स।
जॉब फील्ड- मेडिकल कॉलेज और विश्वविद्यालय, नर्सिंग होम, फार्मा कंपनियां, रिसर्च इंस्टीट्यूट, सरकारी और प्राइवेट हेल्थकेयर यूनिट, डिफेंस सर्विस, चिकित्सा लेखन आदि।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए उम्मीदवार के पास किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से एमबीबीएस या संबंधित किसी विषय में ग्रेजुएशन की डिग्री होना आवश्यक है।
टॉप कॉलेज

  • अन्नामलाई विश्वविद्यालय, चिदंबरम
  • एम्स, नई दिल्ली
  • रूरल मेडिकल कॉलेज, लोनी
  • क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज, वेल्लोर
  • भारती विद्यापीठ डीम्ड यूनिवर्सिटी, पुणे
ओर्थोपेडिक्स में पीजी डिप्लोमा कोर्स पूरा करने के बाद छात्रों को प्रति वर्ष 2,00,000 से 10,00,000 तक की औसत सैलरी मिलती है।
PG Diploma:
एनेस्थीसिया कोर्स की फुल डिटेल

पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा एनेश्थीसिया 2 साल की अवधि का फुल टाइम कोर्स है।
पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें