Tap to Read ➤

PG Diploma: फॉरेंसिक साइंस कोर्स की फुल डिटेल

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन फॉरेंसिक साइंस 1 साल की अवधि का पीजीडी लेवल का कोर्स है।
chailsy raghuvanshi
पीजीडी इन फॉरेंसिक साइंस कोर्स आपराधिक न्याय के मामलों के लिए वैज्ञानिक सिद्धांतों और तकनीकों का अनुप्रयोग विशेष रूप से भौतिक साक्ष्य के संग्रह, परीक्षा और विश्लेषण से संबंधित है।
पीजीडी इन फॉरेंसिक साइंस कोर्स में छात्रों को क्राइम इंवेस्टीगेशन से जुड़ी थ्योरेटिकल व प्रैक्टिकल नॉलेज दी जाती है।
एडमिशन प्रोसेस
पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन फॉरेंसिक साइंस में एडमिशन प्रोसेस कॉलेज से कॉलेज पर निर्भर करता है। कुल कॉलेज में एडमिशन एंट्रेंस एग्जाम के बाद काउंसलिंग पर आधार पर होते हैं। तो कुछ संस्थान ग्रेजुएशन डिग्री में उम्मीदवार के अंकों के आधार पर यानि की मेरिट लिस्ट के आधार पर एडमिशन देते हैं।
इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए उम्मीदवार किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या कॉलेज से न्यूनतम 50-55% कुल अंकों के साथ किसी भी विषय में ग्रेजुएट हो।
आधार कार्ड
पेन कार्ड
10वीं, 12वीं और ग्रेजुएशन के सर्टिफिकेट
जन्म प्रमाण पत्र
डोमिसाइल
एडमिशन के लिए आवश्यक दस्तावेज
1. बनारस हिंदू विश्वविद्यालय, वाराणसी
 2. बुंदेलखंड विश्वविद्यालय, झांसी
 3. एसजीटी यूनिवर्सिटी, गुड़गांव
4. आरआईएमटी विश्वविद्यालय, गोबिंदगढ़
5.  स्टारेक्स यूनिवर्सिटी, गुड़गांव
टॉप 5 कॉलेज
जॉब प्रोफाइल- फोरेंसिक साइंटिस्ट, क्राइम सीन इन्वेस्टिगेटर, फोरेंसिक एक्सपर्ट, प्रोफेसर, फोरेंसिक फिजियोलॉजिस्ट, फोरेंसिक एंथ्रोपोलॉजिस्ट, फोरेंसिक टॉक्सिकोलॉजिस्ट, फोरेंसिक हैंडराइटिंग एक्सपर्ट, फोरेंसिक एंटोमोलॉजिस्ट, फोरेंसिक काउंसलर आदि।
जॉब फील्ड- मेडिकल सेक्टर, क्राइम ब्रांच, खुफिया ब्यूरो (आईबी), क्वालिटी कंट्रोल ब्यूरो, पुलिस विभाग, जासूसी एजेंसियां और लॉ फर्म आदि।
पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें