Tap to Read ➤

10 Major Tribes In India: जानिए भारत की 10 मुख्य जनजातियों के बारे में

भारत में कुल 645 जनजातियां है, जिसमें के हम आज आपको 10 प्रमुख जनजातियों के बारे में बताने वाले हैं आइए जाने-
Varsha Kushwaha
10. गारो जनजाति
गारो जनजाती भी मेघालय सहित पश्चिम बंगाल और नागालैंड के कुछ हिस्सों में पाई जाती है। इनके द्वारा की वास्तुकला बेहद यूनिक होती है। ये जनजाति मातृस्त्तात्मक समाजों में से एक है।
9. खासी जनजाति

 खासी जनजाती मेघालय की खासी पहाड़ियों में मुख्य तौर पर पाए जाते हैं। इसके साथ ये जनजाती मणिपुर, असम और अरुणाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में पाई जाती है।
8.भूटिया जनजाति
भूटिया मुख्य रूप से सिक्किम, त्रिपुरा और पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों में पाई जाती है। इन्हें भोटिया, भोट और भूटानी भी कहा जाता है। ये जनजाति सिक्किमी भाषा बोलते हैं।
7. अंगामी नागा

जनजाति अंगामी नागा जनजाति नागालैंड के कोहिमा जिले में पाई जाती है। जो कि वहां की प्रमुख जनजाति है। ये जनजाती ग्नमेई, सोगामी और नगामी भाषाएं बोलते हैं।
6. बोडो जनजाति
बोडो जनजाति मुख्य रूप से नागालैंड, असम और पश्चिम बंगाल के हिस्सों में पाई जाती है। ये बोडों भाषा बोलते हैं जो तिब्बती बर्मी भाषा है। ये जनजाती असम की स्वदेशी निवासी है।
5.टोटो जनजाति

 टोटो जनजाति पश्चिम बंगाल की अलीपुरद्वार जिले के ओटापारा गांव में पाई जाती है। ये जनजाति बंगाल और नेपाली भाषा का ही प्रयोग करते हैं।
पश्चिम बंगाल की प्रमुख जनजाती है संथाल जनजाति। इस राज्य के अलावा ये ओडिशा, बिहार और असम के कुछ हिस्सों में भी पाई जाती है। इसी के साथ ये जनजाति झारखंड की सबसे बड़ी जनजाति है।
4.संथाल जनजाति
3. मुंडा जनजाति

 मुंडा जनजाति बिरसा मुंडा के नाम से अधिक जानी जाती है। ये जनजाति मुख्य तौर पर झारखंड, बिहार, छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल और ओडिशा के कुछ हिस्सों में पाई जाती है। इनकी मुख्य भाषा मुंडारी है।
2. गोंड जनजाति
भारत की दूसरी सबसे बड़ी जनजाति गोंडा जनजाति है। जो मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा जिले सहित उड़ीसा, महाराष्ट्र और आंध्र प्रदेश के कुछ हिस्सों में पाई जाती है। इनकी भाषा द्रविड़ गोंडी है।
1. भील जनजाति
भीली जनजाति सबसे अधिक उदयपुर राजस्थान की पर्वत श्रंखलाओं में पाई जाती है। ये जनजाती भीली भाषा बोली जाती है।
Top 10 Unusual Engineering Degree Course
Engineering Course