Tap to Read ➤

Facts: भारत पाकिस्तान बीच युद्ध से जुड़े 10 बड़े तथ्य

सन 1971 में हुए भारत-पाकिस्तान युद्ध में भारतीय सेना ने पाकिस्तान को धूल चटाई थी। आइए जानते हैं इससे जुड़े तथ्य
Narender Sanwariya
भारत पाकिस्तान के बीच यह युद्ध 3 दिसंबर 1971 को शुरू हुआ
तब पाकिस्‍तानी वायुसेना ने भारतीय वायुसेना के 11 स्‍टेशनों पर एक के बाद एक एयर-स्‍ट्राइक किये।
यह इतिहास के सबसे कम दिनों तक चलने वाले युद्धों में से एक है। यह युद्ध केवल 13 दिन तक चला था, जिसमें भारतीय सेना ने पाकिस्तान को धूल चटा दी थी।
पाकिस्तान पर भारत की जीत के साथ पूर्वी पाकिस्तान जो आज बांग्लादेश है, आजाद हो गया।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
1971 के युद्ध में करीब 3,900 भारतीय सैनिक शहीद हुए थे, जबकि 9,851 सैनिक घायल हुए थे।
भारत के पास केवल एक पर्वतीय डिवाइस था, जिसके पास पुल बनाने की क्षमता नहीं थी। इसी के कारण युद्ध कुछ महीने टल गया।
भारतीय सेना ने सबसे पहले जेसोर और खुलना पर कब्जा किया।
14 दिसंबर को एक गुप्त संदेश से पता चला कि ढाका के गवर्नमेंट हाउस में पाकिस्‍तानी अधिकारियों की एक बैठक होने वाली है।
भारतीय सेना ने उस भवन पर बम गिराये, और मुख्‍य हॉल की छत उड़ा दी।
1971 की जंग में भारतीय वायुसेना ने मिग-21 का प्रयोग किया था।
एडवांस तकनीकी से लैस मिग-21 आज भी भारतीय वायुसेना की शान माने जाते हैं।
इस युद्ध के खत्म होने पर 93,000 पाकिस्तानी सैनिकों ने आत्मसमर्पण किया था।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
फिर सभी पाकिस्तानी सैनिकों ने अपनी बंदूकें जमीन पर रख दीं और घुटने टेक दिये।
नियाज़ी ने सबसे पहले अपने बैज उतार कर मेज़ पर रखे, फिर अपना रिवॉल्वर जनरल अरोड़ा के हवाले कर दिया।
UPSC Exam Tips