Tap to Read ➤

रवींद्रनाथ टैगोर से जुड़ी 10 बातें

आइए जानते हैं रवींद्रनाथ टेगोर के जीवन से जुड़ी प्रमुख बातें
chailsy raghuvanshi
रवींद्रनाथ टैगोर का जन्म 7 मई 1861 को कोलकाता में हुआ था। वे एक कवि और संगीतकार थे।
रवींद्रनाथ टैगोर को गुरुदेव के नाम से भी जाना जाता है।
रवींद्रनाथ टैगोर के पिता देवेंद्रनाथ 18 वीं शताब्दी के मध्य में बंगाल में एक धार्मिक संप्रदाय ब्रह्म समाज के नेता थे।
17 साल की कम उम्र में, रवींद्रनाथ टैगोर ने अपनी स्कूली शिक्षा इंग्लैंड में शुरू की।
रवींद्रनाथ टैगोर ने राष्ट्रीय गान  जन गण मन और बांग्लादेश का अमर शोनार बांग्ला भाषा लिखा था।
रवीन्द्रनाथ ने काबुलीवाला जैसी अनेक लघुकथाएं लिखीं और गोरा, राजा और रानी, बिनोदिनी, नौका दुबिक जैसे कुछ प्रसिद्ध उपन्यास लिखे थे।
1913 में रवींद्रनाथ टैगोर को गीतांजलि कविता के लिए नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।
रवींद्रनाथ टैगोर ने कोलकाता में शांति निकेतन (1921 में विश्व भारती विश्वविद्यालय) की स्थापना की।
7 अगस्त 1941 में 80 वर्ष की आयु में रवींद्रनाथ टैगोर का कोलकाता में उनका निधन हो गया।
पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें