Tap to Read ➤

स्वतंत्रता दिवस 2022: अशोक चक्र जुड़े 10 रोचक तथ्य

भारतीय राष्ट्रीय ध्वज में अशोक चक्र देश के लिए एक महत्वपूर्ण प्रतिनिधित्व का प्रतीक है। जानिए इसकी बड़ी बातें
Varsha Kushwaha
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
अशोक चक्र धर्मचक्र का एक चित्रण है। अशोक चक्र में 24 तिलियां हैं।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
अशोक चक्र तिरंगे के बीच में स्थित है। अशोक चक्र में चौबीस तिलियां हैं। 22 जुलाई 1947 को इसे अपनाया गया था।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
अशोक चक्र का सबसे महत्वपूर्ण उपयोग उसे भारत के ध्वज के केंद्र में अपना कर किया गया है। जहां इसे सफेद पृष्ठभूमि पर गहरे नीले रंग का प्रयोग करके में अशोक चक्र को प्रस्तुत किया गया है।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
अशोक चक्र को कर्तव्य के पहिये के रूप में भी माना जाता है।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
झंडे के बीचों बीच बने इस चक्र को अशोक चक्र कहा जाता है। इस चक्र को अशोक स्तंभ से लिया गया है। जिनमें से सबसे प्रमुख अशोक की सिंह राजधानी है।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
अशोक चक्र की हर तिल्ली जीवन के एक सिद्धांत दर्शाती है और इसी के साथ यह चक्र दिन के चौबीस घंटों को भी दर्शता है। इस वजह से इसे 'समय का पहिया' भी कहा जाता है।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
चक्र को 'धर्म का पहिया', हिंदू धर्म, जैन धर्म और विशेष रूप से बौद्ध धर्म से एक धार्मिक रूपांकन के बाद बनाया गया था।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
चरखा या चक्र का विचार लाला हंसराज द्वारा रखा गया था। गांधी जी ने पिंगली वेंकय्या को लाल और हरे रंग के बैनर पर एक ध्वज डिजाइन करने के लिए नियुक्त किया था।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
ध्वज के निर्माताओं ने प्रत्येक तिल्ली एक अर्थ देने की बात की - प्रत्येक तिल्ली एक मूल्य का प्रतिनिधित्व करती है जिसे भारत दुनिया में प्रगति करने के लिए उपयोग करेगा।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
ओशोक चक्र की चौबीस तिल्ली चौबीस सिद्धांतों का प्रतिनिधित्व करती हैं। जिसमें से कुछ इस प्रकार हैं - प्रेम, साहस, धैर्य, आत्म-बलिदान, सच्चाई, धार्मिकता, आध्यात्मिक ज्ञान, नैतिकता, कल्याण, उद्योग, विश्वास और समृद्धि।
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
Aruna Asaf Ali