National Doctors Day 2022: नेशनल डॉक्टर्स डे 2022 की थीम, इतिहास महत्व और कोट्स

By Careerindia Hindi Desk

National Doctors Day 2022 Theme Significance History: हर साल 1 जुलाई को इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) द्वारा राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस के रूप में मनाया जाता है। यह दिन बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ बिधान चंद्र रॉय की जयंती और पुण्यतिथि के उपलक्ष्य में मनाया जाता है। यह दिन उन सभी डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों को समर्पित है जो अपनी जान जोखिम में डालकर लोगों की सेवा कर रहे हैं। COVID-19 महामारी ने एक बार फिर हमें दुनिया भर के डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों के योगदान और बलिदान की याद दिला दी है। डॉक्टर्स डे दुनिया भर में अलग-अलग तारीखों में मनाया जाता है। जानिए नेशनल डॉक्टर्स डे का इतिहास और महत्व के बारे में...

 

National Doctors Day 2022: नेशनल डॉक्टर्स डे 2022 की थीम, इतिहास महत्व और कोट्स

नेशनल डॉक्टर्स डे 2022: इतिहास
यह दिन पहली बार 1991 में बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ बीसी रॉय के सम्मान में मानवता की सेवा में उनके योगदान को मान्यता देने के लिए मनाया गया था। डॉ रॉय एक महान चिकित्सक थे जिन्होंने चिकित्सा क्षेत्र में बहुत बड़ा योगदान दिया। उनका जन्म 1 जुलाई, 1882 को हुआ था और इसी तारीख को 1962 में उनकी मृत्यु हो गई थी।

उन्हें 4 फरवरी, 1961 को भारत रत्न के सम्मान से भी नवाजा गया। उन्होंने जादवपुर टीबी जैसे चिकित्सा संस्थानों की स्थापना में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। अस्पताल, चित्तरंजन सेवा सदन, कमला नेहरू मेमोरियल अस्पताल, विक्टोरिया इंस्टीट्यूशन (कॉलेज), चित्तरंजन कैंसर अस्पताल और महिलाओं और बच्चों के लिए चित्तरंजन सेवा सदन। उन्हें भारत के उपमहाद्वीप में पहला चिकित्सा सलाहकार भी कहा जाता था, जो ब्रिटिश मेडिकल जर्नल द्वारा कई क्षेत्रों में अपने समकालीनों पर हावी थे।

 

नेशनल डॉक्टर्स डे 2022: महत्व
राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस जीवन की सेवा में चिकित्सा डॉक्टरों की भूमिका और जिम्मेदारियों के प्रति ध्यान देने के लिए मनाया जाता है। यह दिन उनके कार्यों और दायित्वों को पहचानने के लिए माना जाता है।

कोविड -19 के प्रकोप के बीच, जब मामले काफी बढ़ गए हैं, डॉक्टर 24 * 7 काम कर रहे हैं और अपनी जान जोखिम में डालकर कई लोगों की जान बचाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने अपनी सुरक्षा और अपने परिवार की सुरक्षा के बारे में सोचने के बजाय राष्ट्र की सेवा करने का फैसला किया। उनकी भावना और समर्पण को नमन कि संकट की घड़ी में वे अथक परिश्रम करते रहे।

Career In Optometrist: आंखों का डॉक्टर कैसे बनें, ऑप्टोमेट्रिस्ट में करियर जॉब सैलरी

Career In Yoga: योग में करियर कैसे बनाएं, जानिए कोर्स और वेतन समेत पूरी जानकारी

नेशनल डॉक्टर्स डे 2022: कोट्स
1. भविष्य का डॉक्टर कोई दवा नहीं देगा, लेकिन अपने रोगियों को मानव शरीर की देखभाल, आहार में और बीमारी के कारण और रोकथाम में रुचि देगा: थॉमस एडीसन

2. लोग डॉक्टर को उसकी परेशानी के लिए भुगतान करते हैं; उसकी कृपा के कारण वे अब भी उसके ऋणी हैं: सेनेका

3. दवाएं बीमारियों का इलाज करती हैं, लेकिन केवल डॉक्टर ही मरीजों को ठीक कर सकते हैं: कार्ल जंग

4. सीजर लेते समय सर्जनों को बहुत सावधान रहना चाहिए! उनके बारीक चीरों के नीचे अपराधी को भी जीवन मिलता है: एमिली डिकिंसन

5. हमारा पेशा ही एकमात्र ऐसा पेशा है जो खुद को खत्म करने के लिए लगातार काम करता है: मार्टिन एच. फिशर

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
National Doctors Day 2022 Theme Significance History: हर साल 1 जुलाई को इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) द्वारा राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस के रूप में मनाया जाता है। यह दिन बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ बिधान चंद्र रॉय की जयंती और पुण्यतिथि के उपलक्ष्य में मनाया जाता है। यह दिन उन सभी डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों को समर्पित है जो अपनी जान जोखिम में डालकर लोगों की सेवा कर रहे हैं। COVID-19 महामारी ने एक बार फिर हमें दुनिया भर के डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों के योगदान और बलिदान की याद दिला दी है। डॉक्टर्स डे दुनिया भर में अलग-अलग तारीखों में मनाया जाता है। जानिए नेशनल डॉक्टर्स डे का इतिहास और महत्व के बारे में...
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X